Breaking

Wednesday, August 14, 2019

जे.सी. बोस विश्वविद्यालय में ‘हरियाली पर्व’, विश्वविद्यालय ने गुरू नानक जयंती पर 550 पौधे लगाने का लिया संकल्प



फरीदाबाद(abtaknews.com)14अगस्त,2019: जे.सी. बोस विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, वाईएमसीए, फरीदाबाद द्वारा श्री गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाशोत्सव के उपलक्ष्य में आयोजित श्रृंखलाबद्ध कार्यक्रमों की कड़ी में ‘हरियाली पर्व’ का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का उद्देश्य विद्यार्थियों को पर्यावरण संरक्षण के प्रति संवेदनशील बनाना है। ‘हरियाली पर्व’ के अंतर्गत विश्वविद्यालय का लक्ष्य 550 पौधे लगाना तथा उनकी देखभाल सुनिश्चित करना है। इस अवसर पर बोलते हुए कुलपति प्रो. दिनेश कुमार ने कहा कि गुरु नानक देव जी भारत के महान दार्शनिकों, शिक्षकों और समाज सुधारकों में से एक थे, जिन्होंने अपनी शिक्षाओं के माध्यम से समाज को प्रेम, शांति, समानता और भाईचारे का संदेश दिया। गुरु नानक देव जी की  550वीं जयंती के उपलक्ष्य में विश्वविद्यालय विभिन्न कार्यक्रमों के माध्यम से उनकी वाणी में निहित संदेश को जन-जन तक पहुंचाने के लिए कार्य कर रहा है। उन्होंने कहा कि गुरू नानक देव जी ने अपनी बाणी में प्रकृति के संरक्षण की बात कही है। 
कुलपति ने पर्यावरण विज्ञान के विद्यार्थियों को विश्वविद्यालय परिसर में पर्यावरण संरक्षण एवं संवर्धन के लिए ‘ग्रीन पुलिसिंग’ की तर्ज पर काम करने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय का परिसर मात्र 20 एकड़ का है, जिसे पूर्णतः ‘हरित परिसर’ के रूप में विकसित करना चुनौतीपूर्ण नहीं है। प्रो. दिनेश कुमार ने कहा कि पर्यावरण विज्ञान विभाग विश्वविद्यालय में पर्यावरण संरक्षण को लेकर नियम बनाये और उनकी अनुपालना को सुनिश्चित बनाने के लिए वित्तीय दंड जैसे प्रावधान भी रखे जाये। उन्होंने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाये कि विश्वविद्यालय में किसी भी प्रकार से प्रतिबंधित प्लास्टिक वस्तुओं का उपयोग न हो। विश्वविद्यालय में कचरा प्रबंधन तथा वर्षा जल संचयन की प्रणाली को भी दुरूस्त बनाया जाये। 
कुलपति ने कहा कि पौधे को लगाने से ज्यादा अहम उनकी देखभाल है। इसलिए, जितने भी पौधे विश्वविद्यालय परिसर में लगाये जाये, उनकी देखभाल भी सुनिश्चित की जाये। उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों की क्षमता के अनुरूप विश्वविद्यालय चार हजार से ज्यादा पौधों की देखभाल को सुनिश्चित बना सकता है, जिसके लिए विद्यार्थियों को पहल करनी होगी। इस दौरान विद्यार्थियों द्वारा पर्यावरण संरक्षण पर कविताएं एवं भाषण प्रस्तुत किये गये। कार्यक्रम के समापन पर सभी को पर्यावरण संरक्षण की शपथ दिलाई गई। 
इससे पूर्व, कुलपति ने विद्यार्थियों द्वारा पर्यावरण संरक्षण को लेकर प्रदर्शित पोस्टर तथा ‘सीड बाॅल’ स्टाॅल का मुआयना भी किया। पर्यावरण सोसायटी ‘वसुंधरा’ द्वारा ‘सीड बाॅल’ स्टाॅल के माध्यम से भी बीज वितरित किये जा रहे है। बीजों को खाद तथा मिट्टी के मिश्रण के साथ गेंद के रूप में प्रदान किया जा रहा है। इस अवसर पर डीन संस्थान डाॅ. संदीप ग्रोवर, पर्यावरण विज्ञान के विभागाध्यक्ष डाॅ. आशुतोष दीक्षित, डाॅ. अरविंद गुप्ता तथा विश्वविद्यालय के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।
पौधारोपण अभियान की संयोजक एवं पर्यावरण विज्ञान विभाग में फैकल्टी इंचार्ज डाॅ. रेनूका गुप्ता ने बताया कि अभियान के अंतर्गत विश्वविद्यालय परिसर और आसपास के क्षेत्रों में फलदार तथा औषधीय पौधे लगाये जा रहे है, जिसमें नीम, अर्जुन, जामुन, अमलताज, अमरूद, नींबू, तुलसी, अनार, अल्सटोनिया और करीपत्ता के पौधे शामिल है। यह अभियान दो चरणों में आयोजित किया जा रहा। पहला चरण में पर्यावरण सोसायटी ‘वसुंधरा’ के वालंटियर्स की मदद से 100 पौधे लगाये जायेंगे और 150 पौधों का वितरित किया जायेगा। इसी तरह से दूसरे चरण में विश्वविद्यालय द्वारा 300 पौधे गोद लिये गये गांवों तथा आसपास के क्षेत्र में रोपित और वितरित किये जायेंगे।
डाॅ. गुप्ता ने बताया कि इस अभियान का उद्देश्य विद्यार्थियों को पौधारोपण तक सीमित न रखते हुए उन्हें पौधों की देखभाल के प्रति भी जागरूक बनाना है। पौधों का वितरण केवल उन्हीं विद्यार्थियों या लोगों को किया जायेगा, जो पौधा गोद लेने के लिए इच्छा जतायेंगे और इसकी सही देखभाल का प्रण लेंगे। 
उन्होंने बताया कि अभियान के अंतर्गत विश्वविद्यालय के कर्मचारियों एवं विद्यार्थियों के लिए एक सेल्फी प्रतियोगिता भी आयोजित की जा रही है। प्रतियोगिता के अंतर्गत ‘हरियाली पर्व’ अभियान में पौधा गोद लेने वाले पंजीकृत प्रतिभागियों को पौधे के साथ सेल्फ लेनी होगी। इसके उपरांत प्रतिभागी 12 व 13 नवम्बर को गुरू नानक जयंती पर उसी पौधे के साथ अपनी सेल्फी लेगा। प्रतिभागी को दोनों सेल्फी हैशटैग ‘पौधा मेरा दोस्त’ के साथ विश्वविद्यालय के अधिकारिक फेसबुक पेज पर शेयर करनी होगी। इस प्रतियोगिता में चयनित तीन प्रतिभागियों को उचित पुरस्कार से सम्मानित किया जायेगा।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages