Tuesday, August 20, 2019

'राजीव वृक्ष' राष्ट्रीय कार्यक्रम के तहत एनएसयूआई ने 11 पौधे रोपकर स्व. राजीव की 75वीं जयंती मनाई

फरीदाबाद(abtaknews.com)20 अगस्त,2019: एनएसयूआई फरीदाबाद के कार्यकर्ताओं द्वारा पूर्व प्रधानमंत्री एवं भारत रत्न स्व. राजीव गांधी जी की 75वीं जयंती पर पंडित जवाहरलाल नेहरू कॉलेज में 11 पौधे रोपे गए ! इस मौके पर समस्त छात्र एवम कार्यकर्त्ताओ ने स्व. राजीव जी के चित्र पर माल्यार्पण करके श्रद्धासुमन अर्पित किये। एनएसयूआई द्वारा 'राजीव वृक्ष' के नाम से राष्ट्रीय कार्यक्रम किया जा रहा है जिसके तहत पूरे देश भर में एनएसयूआई पौधारोपण कर रही है। इस कार्यक्रम का आयोजन एनएसयूआई हरियाणा के प्रदेश सचिव कृष्ण अत्री ने किया। इस मौके पर नेहरू कॉलेज की प्राचार्या श्रीमति प्रीता कौशिक, प्रोफेसर ओपी रावत, दिनेश जून, विमल गौतम आदि मुख्य रूप से मौजूद रहे।
सभा को संबोधित करते हुए एनएसयूआई हरियाणा के प्रदेश सचिव कृष्ण अत्री ने कहा कि भारत के इतिहास में 20 अगस्त 1944 को बम्बई में दूरगामी सोच के एक महान व्यक्तित्व का जन्म हुआ था जोकि 40 वर्ष की उम्र में प्रधानमंत्री बनने वाले सबसे कम उम्र के प्रधानमंत्री थे और संभवतः दुनिया के उन युवा राजनेताओं में से एक है जिन्होंने सरकार का नेतृत्व किया था तथा पिछले सात चुनावो की तुलना में लोकप्रिय वोट अधिक अनुपात में मिले और पार्टी ने रिकॉर्ड सीटे हांसिल की।
अत्री ने कहा कि स्वभाव से गंभीर लेकिन आधुनिक सोच एवं निर्णय लेने की अद्भुत क्षमता वाले श्री गांधी देश को दुनिया की उच्च तकनीकों से पूर्ण करना चाहते थे और जैसा कि वे बार-बार कहते थे कि भारत की एकता को बनाये रखने के उद्देश्य के अलावा उनके अन्य प्रमुख उद्देश्यों में से एक है – इक्कीसवीं सदी के भारत का निर्माण तथा उन्होंने भारत के युवाओं को 18 वर्ष की उम्र में देश मे वोट का अधिकार दिलाकर जो शक्ति प्रदान की थी, आज उसी की बदौलत युवा वर्ग देश की सक्रिय राजनीति में अपना योगदान दे रहे है।
उन्होंने कहा कि आज के दिन हमे स्व. राजीव गांधी के आदर्शों को अपनाकर उनके बताए मार्गो पर चलना चाहिए, यही उनके प्रति सच्ची श्रद्धांजलि होगी।इस मौके पर छात्र नेता दुर्गेश दुग्गल, मोहित भाटी, विक्रम यादव, दिनेश कटारिया, अमन पंडित, दीपांशु, राहुल वर्मा, ऋषभ यादव, रवि प्रकाश, अंकित वर्मा, प्रियंका सूर्यवंशी, प्रिया मिश्रा, नेहा, सुमन, रजनी, स्नेहा, कोमल, पल्लवी, खुशबू आदि मौजूद थे।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages