Breaking

Thursday, July 11, 2019

ग्रेटर फरीदाबाद में बीपीटीपी बिल्डर द्वारा बनाई गई सडक को गुस्साए किसानों ने जेसीबी से खुदवाया


फरीदाबाद(abtaknews.com)11जुलाई,2019; सैक्टर-75 में बीपीटीपी बिल्डर द्वारा बनाई गई सडक को किसानों ने जेसीबी से करवाई खुदाई।नहरपार ग्रेटर फरीदाबाद सैक्टर-75 व 80 की अधिग्रहित जमीन मैंन रास्तों को गतिविधयों जोडऩे के लिए हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण को 15-20 दिन पहले ही बना चुका है लेकिन अभी तक अधिग्रहित जमीन का मुआवजा नहीं मिला है, सैक्टर-75 में हुडा कर्मचारियों से मिलकर बी0पी0टी0पी0 कम्पनी ने रिहायशी सैक्टर में सडक़ बनाने का काम शुरू कर दिया जिसकी किसानों को जानकारी मिलते ही किसान एकत्रित हो गये और उन्होंने बी0पी0टी0पी0 द्वारा बनाई गई सडक़ को जे0सी0बी0 से खोदकर खाई बना दी जबकि हरियाणा प्रदेश द्वारा नई पॉलिसी घोषित हो चुकी है जिसमें सैक्टर 75 व 80 के किसानों की जमीन इस पॉलिसी के अन्दर आ रही है मैजोरिटी के हिसाब से अधिकतर किसानों ने जमीन का मुआवजा नहीं उठाया है और ना ही अपनी जमीन का कब्जा दिया है, प्राईवेट बिल्डर बी0पी0टी0पी0 हुडा कर्मचारियों की सह पर सडक़े बना रहे है। जिससे कम्पनी अपने खाली प्लाटों को 28-30 हजार वर्गगज के हिसाब बेच सके। किसान संघर्ष समिति गे्रटर फरीदाबाद के अध्यक्ष शिवदत्त वशिष्ठ ने कहा कि अन्डर सैक्शन 38 के नियम के अनुसार सरकार मुआवजा राशि या चल रहे भूमि विवाद का निवारण नहीं कर देती तब तक सरकार जमीन पर कब्जा नहीं ले सकती। किसानों ने मांग की है कि नहरपार के किसानों को उनका उच्च न्यायालय के आदेश के अनुसार जितना मुआवजा बनता है सभी किसानों को उनका मुआवजा आज तक नहीं दिया गया है, हाल ही में प्रदेश सरकार ने दिनांक 14/09/2018 को दॉ पॉलिसी फोर रिर्टन ऑफ अनयूटिलाईज प्रोविजन सैक्शन 101ए बनाई है कि जो जमीन डैवलप नहीं हुई है उन्हें किसानों को वापिस लौटा दिया जायेगा और जिस किसान ने मुआवजा उठा लिया है वह 9 प्रतिशत ब्याज सहित सरकार को वापिस कर सकते है।  इस मौके पर किसान मनोज यादव, विजय चौहान, पकंज शर्मा, पवन कुमार, श्रीपाल, संजीव चन्दीला, जितेन्द्र गुर्जर, शिवनन्दन, इन्द्राज शर्मा, रनसिंह, नरेश, प्रवीन, राम कुमार आदि किसान मौजूद थे।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages