Breaking

Friday, May 31, 2019

फरीदाबाद में स्टाम्प घोटाले,फर्जी रजिस्टी मामले में कोर्ट ने दिये तहसीलदर सहित आरोपियों पर एफआईआर दर्ज के आदेश



फरीदाबाद(abtaknews.com दुष्यंत त्यागी) 31मई,2019; जिले में एक बार फिर मीडिया की खबर का बडा असर हुआ है, मीडिया ने पिछले दिनों प्रमुखता से शिकायतकर्ता एल एन पराशर की शिकायत के बाद स्टाम्प घोटाले और फर्जी रजिस्टी का मामला उठाया था, जिसमें अब फरीदाबाद कोर्ट के एसीजेएम सुनील कुमार ने तहसीलदर और नगर निगम के संबंधित अधिकारियों सहित आशीष मनचंदा और प्रेम बड़ेजा पर सैंटल थाने में एफआईआर दर्ज करने के आदेश जारी किये हैं। बता दें कि ये आदेश शिकायतकर्ता एल एन पराशर की याचिका पर कार्यवाही करते हुए जारी किये गये हैं।
ये वही गैंग है जो बच्चा पैदा होने से पहले जन्म प्रमाणपत्र बनवा लेता था और अधिकारी बना भी देते थे यानि कि खाली जगह पर फ्लैट बना दिखा नगर निगम से कम्पलीशन ले लेते थे जबकि वहां सिर्फ खाली प्लाट होता था। एक स्टाम्प पर दो-दो बार रजिस्ट्री करवा लेते थे। भ्रष्ट अधिकारियों से मिलकर सरकार को करोड़ों का चूना लगा चुके हैं। इस बड़े फ्राड गैंग के ऊपर फरीदाबाद कोर्ट से मामला दर्ज करने के आदेश सेक्टर 12 सैंटल थाने को जारी किये गये हैं। यह गैंग शहर में अवैध रजिस्ट्री, फर्जी कम्पलीशन, एक स्टाम्प पर दो रजिस्ट्री, रजिस्ट्री पर लाखों का लोन सहित कई तरह के गड़बड़झाले करते रहे। इस मामले में फरीदाबाद के तहसीलदार, नगर निगम के संबंधित अधिकारी सहित आशीष मनचंदा और प्रेम बड़ेजा के उपर मामला दर्ज कर जांच करने के आदेश दिये हैं। 
याचिकाकर्ता एल एन पराशर ने बताया कि सैनिक काॅलोनी की रजिस्ट्री विभाग द्वारा बन्द थी। उसके बाद भी रजिस्ट्री स्टाम्प पेपर जी.आर.एन. 19433484, दिनांक 17-06-2016 को कर दी गई, वो तहसील कार्यालय सैक्टर-12, फरीदाबाद में पंजीकृत ही नहीं है व इसके बाद मुस्तगीस को पता चला कि यह स्टाम्प पेपर तो किसी अन्य व्यक्ति के नाम पर जारी किया गया जिसका दुरूपयोग करके व सोची समझी के तहत जाली व फर्जी रजिस्ट्री तैयार करके इस पर बैंक केनफिन होम्स, से लोन पास अपने हक में करवा लिया है व इसी जाली व फर्जी रजिस्ट्री को दिखाकर बिजली का कनेक्शन भी करवा लिया । जिससे सरकार को करोड़ो रूपये की इंकम टैक्स चोरी व स्टाम्प डियूटी चोरी व जी.एस.टी.चोरी की है जिससे कि सरकारी राजस्व को क्षति पहुॅंचाई है व नगर निगम के संबंधित अधिकारी से मिलकर फर्जी कमपलीशन सर्टीफिकेट लिया है। 
एल एन पाराशर कहते हैं कि उन्हें खुशी है कि उनकी याचिका पर कोर्ट ने कार्यवाही की है  और वरूण मनचन्दा, पार्टनर, मैसर्स वी.पी.स्पेस, बी-460, सैनिक कालोनी, सैक्टर-49, फरीदाबाद, दीपक विरमानी, पार्टनर मैसर्स वी.पी.स्पेस, बी-460, सैनिक कालोनी, सैक्टर-49, फरीदाबाद, सुर्दषन मनचन्दा, खरीदार मैसर्स वी.पी.स्पेस, बी-460, सैनिक कालोनी, सैक्टर-49, फरीदाबाद, साधना, खरीददार मैसर्स वी.पी.स्पेस, बी-460, सैनिक कालोनी, सैक्टर-49, फरीदाबाद। तहसीलदार बडखल तहसील, जिला फरीदाबाद। नगर निगम एन.आई.टी.फरीदाबाद संबंधित अधिकारी के खिलाफ मामला दर्ज करने के आदेश दिये हैं।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages