Friday, May 24, 2019

युवाओं के प्रेरणास्त्रोत बने, 2JRF, 6NET और 16SET उत्तीर्ण करने वाले विनीत पाण्डेय


फरीदाबाद(abtaknews.com) 24 मई,2019;अंग्रेजी साहित्य जगत में अपनी विशिष्ठ पहचान बनाने वाले, जी हाँ हम उसी विनीत पाण्डेय की बात कर रहे है जिन्होंने अपनी काबिलियत से लाखो युवाओं के लिए एक मिशाल के रूप में उभरे हैं| अंग्रेजी भाषा में NTA NET/JRF की तैयारी करने वाले विद्यार्थियों में नई उर्जा भरने का काम कर रहे है विनीत पाण्डेय| जिन्होंने पहली NET की परीक्षा जून 2012 में उत्तीर्ण की जिसके तुरंत बाद उन्हें दिल्ली विश्वविद्यालय में पढ़ाने का अवसर प्राप्त हुआ | इस बीच उन्होंने अपने पढाई को भी जोर शोर से जारी रखा जिसका परिणाम उन्हें पहली JRF के रूप में मिला वो भी अखिल भारतीय स्तर पर चौथी रैंक के साथ | इसके बाद लगातार 4 NET और दूसरी JRF के साथ अपने करियर को और मजबूती देते गए |

विनीत पाण्डेय वो शख्स है जिन्होंने शिक्षा के क्षेत्र को विस्तार करने पर अधिक जोर दिया, यही कारण है की उन्होंने किसी भी सरकारी विश्वविद्यालय में पढ़ाने से बेहतर, देश भर के उन विद्यार्थियों को उचित मार्गदर्शन और उच्च शिक्षा पहुचाना जरुरी समझा जिन्हें इनके जैसे अध्यापक की, यूनिवर्सिटी में पढने वाले छात्रो से ज्यादा आवश्यकता है |लगातार बदलते पैटर्न में उन्होंने SET परीक्षा में प्रतिभाग कर 16 SETकी परीक्षा उत्तीर्ण की, यह सिर्फ NET और SET परीक्षा अपने नाम करने के लिए नहीं बल्कि शिक्षा प्रणाली एवं विद्यार्थियों के साथ एक सकारात्मक सामंजस्य बनाने हेतु है | इन्होने शिक्षा को एक जागरूकता के रूप में भारत के उन क्षेत्रो तक फैलाया है, जहाँ के विद्यार्थी NET जैसे परीक्षा को पास करना किसी बड़े सपने से कम नहीं समझते है | उनके लिए विनीत पाण्डेय एक ऐसा नाम है, जिनके पास उनकी पढाई में आने वाली हर परेशानी का सटीक उपाय है या यूँ कह सकते है कि ऐसे विद्यार्थियों की उम्मीद बन चुके है विनीत पाण्डेय |
कमजोर आर्थिक परिवेश से निकलकर किसी महानगर में अपनी पहचान बनाना किसी ग्रामीण युवा के लिए कोई आसान सफ़र नहीं था | विनीत पाण्डेय स्वयं कहते है, “गाँव से निकलकर, शहर के बच्चों को देखकर अगर हम भयभीत होकर, लक्ष्य से हार मान जाएँ तो हमें जिताने के लिए कोई अलौकिक शक्ति नहीं आयेगी | लक्ष्य हमारा है तो हमें ही हर परिस्थिति का मुकाबला कर आगे बढ़ना होगा”लक्ष्य के लिए जुट जाना ही लक्ष्य प्राप्त करने में सहयोग कर सकती है इसके अलावा सबकुछ बस राह से भटकने और गुमराह करने के लिए है | इसी उम्मीद और मजबूत इच्छाशक्ति के साथ हजारो की संख्या में हर वर्ष इनके मार्गदर्शन में NET, JRF औरSET की परीक्षा पास करके देश तथा अपने-अपने क्षेत्रो में सेवा प्रदान करने में जुट गए है, एक नई तथा शुद्ध शिक्षा व्यवस्था के साथ |“जीवन में सिर्फ समस्याए ही एक ऐसी चीज़ है जो हमें तैयार मिलती है बाकी सबकुछ तो अपनी मेहनत के दम पर ही करना पड़ता है” 

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages