Breaking

Saturday, April 20, 2019

शाॅर्ट फिल्म ‘नेक नीयत’ को मिला सर्वश्रेष्ठ फिल्म का पुरस्कार,‘ऑप्टिक’ फिल्म एंड फोटोग्राफी फेस्टिवल सम्पन्न

फरीदाबाद(abtaknews.com)20अप्रैल,2019;जे.सी. बोस विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, वाईएमसीए, फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय ‘ऑप्टिक’ फिल्म एंड फोटोग्राफी फेस्टिवल-2019 का आज रंगारंग समापन हो गया। अंतिम दिन फिल्म व फोटोग्राफी पुरस्कारों की घोषणा की गई।स्मापन समारोह की अध्यक्षता मानविकी विभाग की अध्यक्ष डाॅ. पूनम सिंघल ने की। कार्यक्रम में मौजूद सिलेब्रिटीज की उपस्थिति में विजेताओं को पुरस्कृत किया गया। कुलपति प्रो. दिनेश कुमार ने सभी विजेता प्रतिभागियों तथा विभाग को फेस्टिवल के सफल आयोजन के लिए बधाई दी। फेस्टिवल के सफल आयोजन में सहायक प्रोफेसर अमनदीप कौर तथा प्रोडक्शन सहायक रामरस पाल सिंह ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

फेस्टिवल के दूसरे दिन घोषित किये गये परिणामों में शाॅर्ट फिल्म ‘नेक नीयत’ को पुरस्कृत किया गया। जे.सी. बोस विश्वविद्यालय के मीडिया क्लब ‘संचार’ के विशाल कौशिक और वरूण सिंगला द्वारा निर्मित व निर्देशित यह फिल्म एक चाय बेचने वाले ऐसे व्यक्ति की कहानी पर आधारित है, जिसने अपना जीवन जनसेवा का समर्पित कर दिया। फिल्म में कई मार्मिक दृश्यों को बखूबी दर्शाया गया है, जो मानवीय भावनाओं से ओतप्रोत है। इसी श्रेणी में दूसरा पुरस्कार महिला सशक्तिकरण पर रमेश नारंग द्वारा निर्मित शाॅर्ट फिल्म ‘डरपोक औरत’ को दिया गया तथा तीसरा पुरस्कार पायल सिंह द्वारा निर्मित शाॅर्ट फिल्म ‘राजा नाहर सिंह’ को दिया गया।

इसी तरह फोटोग्राफी श्रेणी में सभी पुरस्कार जे.सी. बोस विश्वविद्यालय के विद्यार्थियों के नाम रहे, जिसमें अधिकतर स्थानों पर मीडिया स्टूडेंट्स ने बाजी मारी। फोटोग्राफी पुरस्कारों के लिए चयन प्रक्रिया में ''दैनिक जागरण'' के सीनियर फोटो जर्नलिस्ट ओम प्रकाश पांचाल और ''पॉयनियर'' के वरिष्ठ फोटो जर्नलिस्ट राजेश पुंजानी की अहम भूमिका रही। फोटोग्राफी में पहला पुरस्कार नरेश रोहिला को मिला। दूसरे पुरस्कार के लिए दो प्रविष्टियों का चयन किया गया, जिसमें रिचा सोनी तथा श्रवण कौल विजेता रहे। तीसरे पुरस्कार के लिए भी दो प्रविष्टियां चुनी गई, जिसमें लविशा और कप्तान ने पुरस्कार प्राप्त किया। 

फेस्टिवल के दूसरे दिन हरियाणवी-पंजाबी पॉप सिंगर एवं एक्टर सौरव पंडित तथा एक्ट्रेस आन पाराशर की प्रस्तुतियों के नाम रहा। सौरव पंडित ने अपने सुपरहिट गानों ‘कतार’, ‘नैना’, ‘राॅयल पंडित’ से खूब समा बांधा। हिंदी फिल्म ‘दुर्गा’ की लीड कलाकार आन पाराशर ने हरियाणवी गानों पर अपनी अपनी प्रस्तुति दी। फेस्टिवल में निर्माता व निर्देशक चंदन मेहता भी जूरी के रूप में मौजूद रहे।
उल्लेखनीय है कि फेस्टिवल के लिए देशभर से फिल्म श्रेणी में शॉर्ट फिल्म, डॉक्युमेंटरी, वॉक्स पॉप, कॉर्पोरेट फिल्म तथा न्यूज पैकेज आमंत्रित किये गये थे, जिनमें से फेस्टिवल के मानदंडों को पूरा करने वाली 25 प्रविष्टियों का चयन फाइनल स्क्रीनिंग के लिए किया गया था। इसी प्रकार, फोटोग्राफी श्रेणी में फेस्टिवल में प्रदर्शन के लिए 50 से अधिक फोटोग्राफ का चयन किया गया था।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages