Breaking

Saturday, April 20, 2019

प्रदेश संगठन महामंत्री सुरेश भट्ट ने पन्ना प्रमुखों को दिए जीत के टिप्स


फरीदाबाद(abtaknews.com) भाजपा के प्रदेश संगठन महामंत्री सुरेश भट्ट ने पन्ना प्रमुखों को जीत का मंत्र देते हुए कहा कि एक पन्ने पर 60 वोट हैं। इन 60 वोटों में से वे वोट चिह्नित करनी है, जो विपक्षी पार्टियों की हैं और भाजपा के पक्ष और मूक यानि साइलेंट वोटर कितने हैं। इन सबकी की पन्ना प्रमुखों को सूची तैयार की है। उस सूची के आधार पर जो वोट भाजपा के पक्ष की हैं, उन से लेकर विपक्षी एवं साइलेंट वोटरों से हर रोज भाजपा के पक्ष में वोट देने की अपील करनी है। एक पन्ने पर 60 लोगों की सूची है, यानि 15 परिवार एक पन्ने पर हैं। इन 15 परिवारों के घर हर रोज दस्तक देते हुए भाजपा की नीतियों को पहुंचाना है। श्री भट्ट शनिवार को पलवल में आयोजित पन्ना प्रमुखों की बैठक को संबोधित कर रहे थे। इस मौके पर मुख्य रुप से भाजपा के लोकसभा प्रत्याशी कृष्णपाल गुर्जर, मुख्यमंत्री के राजनैतिक सचिव दीपक मंगला, विधायक केहर सिंह रावत, जिलाध्यक्ष जवाहर सौरोत, पूर्व विधायक रामरत्न, नीरा तोमर आदि मौजूद थे। भट्ट ने कहा कि संगठन पार्टी की रीढ़ होता है और अपना बूथ सबसे मजबूत की नीति के तहत ही भाजपा कार्यकर्ता कार्य कर रहे है, जिसका परिणाम हमें बेहतर मिलेगा। प्रदेश संगठन मंत्री ने पन्ना प्रमुख सम्मेलन में कार्यकर्ताओं को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दोबारा प्रधानमंत्री बनाने का संकल्प दिलाया। इसके साथ ही भारत की एकता अखंडता को बनाए रखने, आतंकवाद, नक्सलवाद व बेरोजगारी के अंत के लिए देश में भाजपा की सरकार बनाने कभी संकल्प कार्यकर्ताओं ने लिया। पन्ना प्रमुख के रूप में जो जिम्मेवारी सौंपी गई है, उसे पूरी निष्ठा व ईमानदारी के साथ निभाया जाएगा। प्रदेश संगठन महामंत्री सुरेश भट्ट ने कहा कि भाजपा विचारधारा की पार्टी है। भाजपा कार्यकर्ताओं ने कभी भी विचारधारा के झंडे को झुकने नहीं दिया। भाजपा केवल विचारधारा के लिए संघर्ष कर रही थी, वर्ष 2014 में भाजपा की विचारधारा को जनता ने अपनाते हुए राष्ट्रहित में सरकार बनाई थी और इस उपलब्धि को बरकरार रखने के लिए कार्यकर्ताओं को मेहनत करनी होगी, तभी दोबारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सत्ता संभालेंगे। इस मौके पर केन्द्रीय राज्यमंत्री एवं फरीदाबाद लोकसभा सीट के भाजपा उम्मीदवार कृष्णपाल गुर्जर भाजपा एक विचारधारा है, जो आज पूरे देश के लोगों को एकता के सूत्र में पिरोने का काम कर रही है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व वाली कुशल सरकारों ने विकास की सही परिभाषा को दर्शाते हुए लोगों के जीवनस्तर को बेहतर बनाने का काम किया है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ने केंद्र व प्रदेश सरकार में पारदर्शी सुशासन दिया। पहले नौकरियां क्षेत्रवाद व परिवारवाद में बंटी हुई थी। मगर भाजपा ने इस खत्म करते हुए बेरोजगार युवकों को योग्यता के आधार पर नौकरियां दी। ग्रुप-डी में 18 हजार भर्तियां की गई। सरकार ने पर्ची व खर्ची सिस्टम को पूरी तरह खत्म कर दिया। पारदर्शिता के आधार पर नौकरियां देने की उपलब्धि को जनता को अवगत कराना है और लाभार्थी परिवारों की सूची भी तैयार करनी है। उन्होंने कहा कि भाजपा से पहले केवल परिवारवाद की सरकारें ही रहीं हैं। परिवारवाद के कारण क्षेत्रवाद व जातिवाद को बढ़ावा मिला। मगर भाजपा सरकार ने परिवार, भाई-भतीजावाद, क्षेत्रवाद व जातिवाद को खत्म करते हुए प्रदेश में समान विकास कराया। हरियाणा एक-हरियाणवीं एक के नारे को आगे बढ़ाते हुए भाजपा सरकार ने सभी 90 की 90 विधानसभाओं में समान विकास करवाया। 

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages