Thursday, March 7, 2019

सीलिंग की गई तो सरकार की ईंट से ईंट बजा देंगे: जगदीश भाटिया

फरीदाबाद(abtaknews.com)07मार्च,2019: सीएलयू के नाम पर व्यापारियों के साथ गंदा मजाक किया जा रहा है। जिन शर्तों के आधार पर केंद्रीय मंत्री कृष्णपाल गुर्जर व विधायक सीमा त्रिखा ने व्यापारियों को सीएलयू दिए हैं, वह शर्त कभी पूरी हो ही नहीं हो सकती। जानबूझकर व्यापारियों को प्रताडि़त किया जा रहा है । व्यापार मंडल फरीदाबाद की हंगामेदार बैठक में व्यापारियों ने भाजपा सरकार एवं प्रशासन के खिलाफ जमकर नाराजगी जताई। बैठक को पूर्व विधायक चंदर भाटिया ने संबोधित करते हुए कहा कि सभी व्यापारियों को बिना किसी शर्त के सीएलयू प्रदान किए जाने चाहिएं। उन्हें चुनावी लॉलीपॉप ना दिए जाएं। श्री भाटिया ने कहा कि बुधवार को नगर निगम सभागार में केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर व विधायक सीमा त्रिखा ने अधिकारियों की मौजूदगी में सीएलयू प्रमाण पत्र तो बांट दिए, परंतु उन पर कई शर्ते भी थोंप दी गई। जोकि पूरी तरह से नाजायज हैं। 

पूर्व विधायक ने कहा कि केंद्रीय मंत्री गुर्जर व विधायक सीमा त्रिखा अपने राजनैतिक फायदे के लिए व्यापारियों को बेवकूफ बना रहे हैं। उनका गलत इस्तेमाल कर रहे हैं। एक तरफ उन्हें सीएलयू देने की नौंटकी की जा रही है तो दूसरी तरफ उन पर ऐसी शर्त थोंपी जा रही हैं, जिन्हें पूरा करना किसी भी व्यापारी के बूते में नहीं है। इसलिए उनकी सीधी सी मांग है कि व्यापारियों को बिना किसी शर्त के सीएलयू दिए जाएं। 
पूर्व विधायक चंदर भाटिया ने सरकार व प्रशासन के निर्णय पर सवालिया निशान लगाते हुए कहा  कि एक ओर व्यापारियों को सीएलयू प्रमाणपत्र देकर उन्हें रिहायशी भवनों में व्यवसायिक कार्य करने की छूट दी जा रही है, पंरतु वहीं दूसरी ओर उनके भवनों को अवैध बताकर सीलिंग करने के फरमान  जारी किए जा रहे हैं। लेकिन वह सरकार व प्रशासन को सीधी चेतावनी दे रहे हैं कि यदि किसी भी व्यापारी की सीलिंग की गई तो वह प्रशासन की र्इंंट से ईंट बजा देंगे। इसलिए सरकार व प्रशासन सीधे तौर पर जनता की समस्याओं का समाधान करें ना कि उन्हें प्रताडि़त करे। 
बैठक की अध्यक्षता कर रहे व्यापार मंडल के प्रधान जगदीश भाटिया ने पूर्व विधायक चंदर भाटिया के कथन का समर्थन किया। उन्होंने कहा कि केंद्रीय मंत्री कृष्णपाल गुर्जर व विधायक सीमा त्रिखा अपने राजनैतिक लाभ के लिए व्यापारियों को बेवकूफ बना रहे हैं। शर्तों के आधार पर सीएलयू देकर उनकी भावनाओं के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। दिन भर व्यापारी भाई भूखे प्यासे नगर निगम अधिकारियों की चौखट पर धक्के खाते रहते हैं। इसके बावजूद भी व्यापारियों को सीलिंग की धमकी देकर उन्हें प्रताडऩा दी जा रही है। श्री भाटिया ने कहा कि कांग्रेस सरकार में व्यापार मंडल के संघर्ष पर ही सीएलयू की पॉलिसी लाई गई थी और १५०० से १८०० रुपए तक का शुल्क तय किया गया था। पंरतु मौजूदा सरकार ने जहां ये रेट कई गुणा बढ़ा दिए, वहीं पुराने रेट पर किए जाने वाले सीएलयू में इतनी शर्त थोंप दी गई हैं कि कोई भी व्यापारी सीएलयू करवा ही ना पाए और अधिकारियों की चांदी होती रहे। श्री भाटिया ने साफ तौर पर सरकार व प्रशासन को चेतावनी दी है कि यदि किसी भी दुकान को सील किया गया तो इसका परिणाम घातक हो सकता है। व्यापारी भाई हर किसी परिस्थति का  मुकाबला करने के लिए तैयार हैं। 
श्री भाटिया ने बताया कि व्यापार मंडल द्वारा पारित प्रस्ताव के आधार पर शुक्रवार को नगर निगम आयुक्त श्रीमति अनीता यादव को अपनी मांगों को लेकर एक ज्ञापन सौंपा जाएगा। बैठक को जवाहर कालोनी मार्केट के प्रधान नीरज भाटिया, पर्वतीया कालोनी मार्केट के प्रधान राममेहर, लोहामंडी के प्रधान सीएस कालड़ा, व्यापारी नेता भोलानाथ, हार्डवेयर एसोसिएशन के प्रधान बलविंद्र सिंह, फेटा के प्रधान विनोद बंसाली, नरेंद्र कालड़ा, व्यापार मंडल के महामंत्री वेद कुकरेजा, वरिष्ठ उपप्रधान जगनशाह, कोषाध्यक्ष बंसी कुकेरजा, अमित रावल, हरीश सेठी, हरीश भाटिया एवं सुरेंद्र आहुजा ने संबोधित किया। इस मौके पर बैठक में  सैंकड़ों की संख्या में व्यापारी गण उपस्थित थे। 

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages