Breaking

Wednesday, March 27, 2019

मेरी फसल-मेरा ब्यौरा पोर्टल पर दर्ज किसान की ही खरीदी जाएगी सरसों, डी सी अतुल कुमार की अधिकारियो संग बैठक

 
फरीदाबाद(abtaknews.com) 26 मार्च। हरियाणा सरकार के  प्रधान सचिव राजेश खुल्लर ने कहा कि मेरी फसल-मेरा ब्यौरा पोर्टल पर जो किसान रजिस्ट्रर्ड है, केवल उन्हीं किसानों की सरसों की फसल की खरीद की जाएगी। गेहूं की फसल सभी किसानों की खरीदी जाएगी। रबी की दोनों  फसल का एक-एक दाना खरीदा जाएगा। गेहूं बेचने वाले सभी किसानों का डाटा ऑनलाईन रजिस्टर किया जाएगा। गेट पास की जगह पर सभी किसानों का पूरा ब्यौरा पोर्टल पर अपलोड होगा।
प्रधान सचिव राजेश खुल्लर मंगलवार को वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से सभी उपायुक्तों,गेहूं खरीद से जुड़े सभी अधिकारियों, एजैंसियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दे रहे थे। उन्होंने कहा कि इस सीजन के दौरान लोकसभा के चुनाव होंगे, इसलिए गेंहू खरीद में उन अधिकारियों को ड्यूटी लगाई जाए जिनकी ड्यूटी चुनाव संबंधित कार्यों में नही है, ताकि खरीद का कार्य सुचारू रूप से चल सके। मंडियों में फसल को रखने के लिए वूडन करेट की समुचित व्यवस्था होनी चाहिए। सभी मंडियों में किसानों की सुविधा के लिए कमेटी का गठन किया जाए,ताकि किसानों को फसल बेचने में किसी भी प्रकार की दिक्कत न हो। मंडी में 24 घंटे अधिकारियों की डियूटी सुनिश्चित की जाए। उन्होंने कहा कि इस बार फसल खरीद कार्य की सारी प्रक्रिया ऑनलाईन व्यवस्था के साथ होगी। इसलिए इस कार्य के लिए सक्षम युवाओं सहित योग्य स्टाफ की नियुक्ति की जाए।    
उन्होंने कहा कि गेट पास व अन्य कार्य कम्प्यूटराईज्ड तैयार किए जाएंगे। नई व्यवस्था के साथ इस बार खरीद कार्य में बीसीपीए (बीलिंग कम पेमेंट एजेंट) नही होंगे। इनके स्थान पर सीधा बैंक के प्रतिनिधि मंडियों में पेमेंट संबंधित सभी कार्य करेंगे, जिससे किसानों को और अधिक सुविधा मिलेगी। उन्होंने बताया कि खरीद के बाद 48 घंटे के अंदर बैंक एजैंसी को पैसा ट्रांसफर करेगा तथा इसके बाद किसान व आढ़तियों के खातों में भी सीधा पैसा पहुंचेगा। उन्होंने यह भी बताया कि सरसों की पेमेंट सीधा किसान के खाते में जाएगी, जबकि गेहूं की पेमेंट पहले की तरह ही की जाएगी। सरसों को किसान अपने गांव के नजदीक लगने वाली किसी भी मंडी में बेच सकता है। उन्होंने कहा कि मेरी फसल-मेरा ब्यौरा पोर्टल पर रजिस्टर्ड किसानों की वैरीफिकेशन पटवारियों के माध्यम से करवाई जाए। मंडियों में रखने वाली फसलों को ढ़कने की पूरी व्यवस्था की जाए। उन्होंने कहा कि सरसों की खरीद का कार्य 28 अप्रैल से4200 रुपए प्रति क्विंटल के हिसाब से किया जाएगा। एक अप्रैल से गेहूं खरीद का कार्य शुरू किया जाएगा। किसानों की सुविधा के लिए मंडियों में किसानों के लिए पेयजल,बिजली, पानी, शौचालय, साफ-सफाई इत्यादि की समूचित व्यवस्था होनी चाहिए। नमी मापक यंत्र सभी मंडियों में उपलब्ध होने चाहिए,ताकि किसान की फसल तय मापदंड के अनुसार खरीदी जा सके। मंडियों के आसपास टै्रफिक की सुचारू व्यवस्था होनी चाहिए। उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि सभी एजैंसी की ओर से फसल खरीद कार्य में एक अधिकारी की नियुक्ति की जाए।
उपायुक्त अतुल द्विवेदी ने बताया कि जिला में सभी पोर्टल पर रजिस्टर्ड किसानों की सरसों की फसल खरीदी जाएगी। उन्होंने वीडियो कांफ्रैंस के बाद गेहूं व सरसों फसल खरीद से जुड़े अधिकारियों को निर्देश दिए कि मंडियों में किसानों को किसी प्रकार की दिक्कत नही होनी चाहिए। बिजली, पानी,शौचालय,स्वच्छ पेयजल  जैसी मूलभूत सुविधाएं मंडियों में होनी चाहिए। फसल उठान का कार्य समयबद्ध होना चाहिए। इस कार्य में किसी भी प्रकार की कोताही बर्दाश्त नही की जाएगी। उपायुक्त ने कहा कि सभी किसानों की फसल तय मापदंडों के अनुसार खरीदी जाएगी।इस मौके पर एडीसी धर्मेन्द्र सिंह  ,नगराधीश श्रीमति बैलीना , जिला एवं खाद्य आपूर्ति नियंत्रक , वेयरहाउस ,हैफेड  , मार्किटिंग बोर्ड  के अलावा अन्य संबंधित अधिकारी मौजूद थे ।  
----------------------------------------------------------------

फरीदाबाद, 26 मार्च।हरियाणा के मुख्य निर्वाचन अधिकारी (सीईओ) राजीव रंजन ने मंगलवार को वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से लोकसभा चुनाव- 2019 को लेकर जरूरी दिशा निर्देश दिए। उन्होंने जिला निर्वाचन अधिकारी से जिले में चुनाव से जुड़ी विभिन्न तैयारियों पर फीडबैक भी लिया। इस मौके पर जिला निर्वाचन अधिकारी अतुल कुमार, डीसीपी निकिता, एडीसी धर्मेन्द्र,एसडीएम सतबीर मान, त्रिलोक चंद व सीटीएम बेलिना सहित अनेक जिलाधिकारी मौजूद रहे।
 प्रदेश के मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा कि सभी जिलों में उन मतदान केंद्रों पर स्वीप (सिस्टेमैटिक वोटर्स एजुकेशन एंड इलेक्टोरल पार्टिसिपेशन) गतिविधियां चलाकर मतदान के प्रति आमजन को अधिक से जागरूक किया जाए जहां पिछले चुनाव में मतदान प्रतिशत कम था। सीईओ ने कहा कि सभी जिलों में आमजन को मतदान के प्रति अधिक से अधिक जागरूक किया जाए ताकि हर व्यक्ति अपने मताधिकार के प्रति सजग हो और लोकतंत्र के पर्व चुनाव में इसका इस्तेमाल करे। उन्होंने कहा कि कम मतदान वाले बूथों पर स्वीप के तहत जागरूकता कार्यक्रम आयोजित करवाए जाएं ताकि लोग मतदान के लिए प्रेरित हो सकें। उन्होंने स्वीप कार्यक्रमों व दिव्यांगजनों की मतदान के प्रति जागरूकता के लिए ब्रांड अंबेसडर बनाने को भी कहा। उन्होंने कहा कि मतदान दिवस प्र रविवार है, इसके बावजूद जंहा जरूरत है वह पेड होलीडे होगा। 
उन्होंने कहा कि चुनाव के लिए एनसीसी व एनएसएस के 18 वर्ष से कम आयु के युवाओं को वोलेंटियर्स बनाने में प्राथमिकता दी जाए ताकि मतदान में इनका सहयोग लिया जा सके। इसी प्रकार नेत्रहीन व अन्य दिव्यांगजनों के लिए जरूरत के अनुसार परिवार के ही किसी सदस्य को सहायक के रूप में नियुक्त किया जाए ताकि वे आसानी से मतदान कर सकें। सीईओ राजीव रंजन ने कहा कि सभी बूथों की सीसीटीवी कैमरों से निगरानी की जाएगी। प्रत्येक मतदान केंद्र पर यह भी लिखवाया जाए कि आप कैमरे की नजर में हैं। मतदान केंद्र पर नियुक्त अधिकारियों-कर्मचारियों के साथ-साथ यहां दौरा करने वाले अन्य अधिकारियों की गतिविधियां भी कैमरे में रिकॉर्ड होंगी जिसकी चुनाव आयोग द्वारा निगरानी की जाएगी। उन्होंने कहा कि सभी जिलों में हर लोकेशन पर माइक्रो ऑब्जर्वर नियुक्त किए जाएं और मोबाइल नंबर सहित इनका पूरा विवरण आयोग की साइट पर अपलोड किया जाए। उन्होंने सी विजिल पर आने वाली शिकायतों की भी समीक्षा की और अधिकारियों को तय समय सीमा के भीतर इनके समाधान के निर्देश दिए।सीईओ ने कहा कि मतदान केंद्र पर तैनात प्रीजाइडिंग ऑफिसर तथा यहां दौरा करने वाले अधिकारी मतदान केंद्र के भीतर जाते समय अपने मोबाइल ऑन तो रखें लेकिन इन्हें साइलेंट रखें ताकि मतदान प्रक्रिया में व्यवधान न हो। उन्होंने कहा कि पोलिंग पार्टियों में शामिल सभी कर्मचारियों के मोबाइल में उच्चाधिकारियों के नंबर फीड करवा दें ताकि वे जरूरत के समय इनसे आसानी से बात कर सकें। उन्होंने सभी जिलों में शराब के स्टाक की जानकारी भी अधिकारियों को एकत्र करने को कहा। सीईओ ने सभी शहरों में विज्ञापन साइटों के स्थान व दरें निर्धारित करने के भी निर्देश दिए।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages