Breaking

Thursday, March 7, 2019

केबीनेट मंत्री विपुल गोयल के चमचों से खासे परेशान है अजरौंदा गांव के निवासी ; बोनी ठाकुर


     
            
केबीनेट मंत्री विपुल गोयल के चमचों से खासे परेशान है अजरौंदा गांव के निवासी ; बोनी ठाकुरCabinate minister Vipul Goyal is very upset with the batches of the residents of Ajaronda village; Boni thakur
फरीदाबाद(abtaknews.com)07मार्च,2019: भाजपा के कार्यकर्ता और आम जनता केबीनेट मंत्री के चमचों से खासी परेशान है। आज अजरौंदा गांव का जो बुरा हाल है वो इन्ही चमचों की वजह से है क्योकि यही लोग गांव के लोगों को धमकाते है,पूरे गांव में चल रहे विकास कार्यो को यह कहकर रूकवा देते है कि पहले हमारे हाथ जोड़ो मंत्री के नहीं काम के लिए हमसे बालो इसी वजह से इन्होनें गांव को नर्क बना दिया है। यह कहना है अजरौंदा गांव के सैकड़ो परेशान लोगों में से एक समाजसेवी एवं युवा जजपा नेता बोनी ठाकुर का। उन्होनें बताया कि गांव के चारों और से अजरौंदा गांव में घुसने का कोई रास्ता नहीं है हर तरफ सिर्फ गडड् है। बोनी ठाकुर ने बताया कि 23 फरवरी को गांव में सामुदायिक भवन के उदघाटन में भीड़ जमा करने के लिए इन्होनें गरीब लोगों को पागल बनाया कि मंत्री जी 2 या 3 हजार रूपये नकद व राशन बांटेगें सभी को,तब जाकर कुछ गांव की महिलाएं वहां पहुंची इतने बड़े मंत्री के आने पर भी सिर्फ उनके चमचे,मुठठ्ी भर कार्यकर्ता और सरकारी अफसर मिलकार कुल 30-40 लोग ही आए हुए थे जबकि गांव की आबादी ही 8 हजार के करीब है। गांव के गरीब व हरिजनों को वहां मंत्री से शिकायत तक नहीं करने दी और ना ही उनके मिलने दिया। जजपा नेता बोनी ठाकुर ने कहा कि लगभग 50 वर्ष पुरानी रामलीला से मंत्री के चमचे जलते थे इसी जलन के कारण उन्होनें रामलीला की जगह को ही तुड़वा दिया और अपनी वाह वाही के लिए चन्द बिहार के लोगों के लिए छठ घाट बनवा दिया और गांव के लोगों की भावनाओं को ठेस पहुंचाई जिसका जवाब आने वाले समय में गांव की जनता मंत्री जी को देगी। बोनी ठाकुर ने कहा कि मंत्री जी के कार्यकताओं की छवि इतनी गंदी है कि लोगों को सरेआम गालियां देते है और उनके गलत कामों की वजह से मंत्री जी को भी लोग गालियां देते है। उन्होनें कहा कि कुछ समय पहले गांव का एक दिव्यांग दुर्घटना में घायल हो गया सभी ने मिलकर मंत्री जी से ईलाज के लिए पैसे मागें तो उन्होनें 25 हजार का चैक दे दिया। लेकिन उनके चमचे दिव्यांग के घर पहुंचे और बोला कि यह चेक गलती से कट गया है और यह पैसा वापिस मंत्री जी को देना है कहकर उनसे 25 हजार वापिस ले गए। बोनी ठाकुर ने कहा कि हमारी एकता और हमारा मिशन काम कर रहा है हम लोगों के घर घर जाकर उन्हें समझा रहे है कि हमने चुनाव का बहिष्कार करना है। गांव के लोगों का भी मंत्री जी से मोह भंग हो गया है। बोनी ठाकुर ने कहा कि मंत्री के चमचों और कार्यकताओं की बहसलुकी की वजह से हम मंत्री जी को चुनाव प्रचार के लिए गांव में घुसने तक नहीं देगें। 


No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages