Breaking

Thursday, March 14, 2019

पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित बोली मनमोहन सिंह आतंकवाद से लड़ने में उतने कठोर नहीं थे जितने नरेंद्र मोदी हैं,कांग्रेस में हड़कंप



Former Chief Minister Sheila Dikshit Bid Manmohan Singh was not as rigid in fighting terrorism as Narendra Modi, stirring in the Congress

नई दिल्ली(abtaknews.com) 14 मार्च,2019; एक निजी चैनल को दिए इंटरव्यू में पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित ने स्वीकार करते हुए कहा कि मनमोहन सिंह आतंकवाद से लड़ने में उतने कठोर नहीं थे जितने कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हैं। पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के इस बयान ने कांग्रेस में हड़कंप मचा दिया। एक निजी चैनल को दिए इंटरव्यू में उक्त बाते श्रीमती दीक्षित ने कहीं उन्होंने यह भी कहा कि नरेंद्र मोदी हर बात को लेकर राजनीती करते हैं यह बिल्कुल ठीक नहीं है। 
जब भी देश में चुनाव आते हैं कोई न कोई वरिष्ठ कांग्रेसी नेता ऐसा बयान दे देता है कि भाजपा पार्टी के लिए जीत की राह आसान हो जाती है। पहले मणिशंकर अय्यर, फिर दिग्विजय सिंह और इस बार पूर्व मुख्य मंत्री शीला दीक्षित ने ठीक लोकसभा चुनाव की घोषणा के चार दिन बाद ऐसा बयान दे दिया कि कांग्रेस पार्टी में खलबली मच गई है। 
मीडिया में सुर्खियां बन चुकी इस खबर में पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित ने आतंक के खिलाफ मोदी की कार्रवाई को मनमोहन सिंह के कार्यकाल से ज्यादा कठोर बताया है। मामला तूल पकडे देख दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री एवं वरिष्ठ कांग्रेस नेत्री शीला दीक्षित ने इसे गलत करार देते हुए कहा की मेरे बयान को तोड़ मरोड़ कर पेश किया गया है। मैंने मोदी को बेहतर पी एम नहीं बताया। मैंने यह भी बताया था कि राष्ट्रीय सुरक्षा हमेशा एक चिंता का विषय रहा है और इंदिरा जी एक मजबूत नेता रही हैं।




I also added that national security has always been a concern and Indira ji has been a strong leader.

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages