Breaking

Friday, March 8, 2019

राजनीतिक पार्टियों के प्रतिनिधियों के साथ लोकसभा चुनाव -2019 चुनाव संबंधित बैठक

फरीदाबाद(abtaknews.com) 08मार्च, 2019;अतिरिक्त उपायुक्त धर्मेंद्र सिंह की अध्यक्षता में उनके कार्यालय में लोकसभा चुनाव -2019 के मद्देनजर जिला के सभी चुनाव पंजीयन अधिकारियो, सभी राजनीतिक पार्टियों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक आयोजित की गई। बैठक में आगामी लोकसभा चुनाव के प्रचार- प्रसार भारत निर्वाचन आयोग के कानून के दायरे में रहकर करने के लिए सुझाव सांझे करके विचार-विमर्श किया गया।
उन्होंने बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि भारत निर्वाचन आयोग ने टोल फ्री नंबर 1950 चालू किया है, जिस पर फोन करके कोई भी मतदाता अपनी वोटर आईडी ,वोट, बीएलओ, पंजीयन अधिकारी तथा जिला निर्वाचन अधिकारी के फोन नंबर की भी जानकारी ले सकता है ।उन्होंने आगे बताया कि निर्वाचन आयोग ने दिव्यांग जनों  मतदाताओं के लिए मतदान से संबंधित किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए पीडब्ल्यूडी एप लांच की गई है। जिस पर मतदाता कोई भी मतदान से जुड़ी जानकारी ले सकता है। इसी प्रकार सीवीएल एप लांच की गई है जिस पर आम आदमी चुनाव के दौरान प्रत्याशियों द्वारा गलत प्रचार- प्रसार सहित अन्य किसी भी प्रकार की चुनाव संबंधी शिकायत दर्ज करवाई जा सकती है। उन्होंने सभी राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियो से बैठक में अनुरोध किया कि वे अपने- अपने बीएलए सभी मतदान केंद्रों पर नियुक्त करके उसकी सूचना  जिला निर्वाचन अधिकारी तथा संबंधित पंजीयन अधिकारी को भिजवाने का कष्ट करें ।ताकि बीएलओ के साथ उनकी मीटिंग करके मतदाता सूची को त्रुटि रहित तैयार करने में सहायता ली जा सके। उन्होंने कहा कि यदि कोई पात्र व्यक्ति मतदाता सूची में नाम दर्ज करवाने से वंचित रह गया है तो उसका फार्म नंबर 6 भरकर संबंधित बीएलओ के पास जमा करवाया जा सके।अतिरिक्त उपायुक्त ने आगे कहा कि यदि कोई राजनीतिक दल किसी मतदान केंद्र के भवन ,मतदान केंद्र के नाम व किसी प्रकार का बदलाव चाहता है, तो संबंधित निर्वाचक पंजीयन अधिकारी को आगामी 12 फरवरी तक भेजने का कष्ट करें ।उन्होंने कहा कि अब तक किसी भी राजनीतिक दल द्वारा मतदान केंद्र के भवन आदि के बदलाव बारे प्रस्ताव नहीं भेजा गया है। 
 उन्होंने कहा कि भारत निर्वाचन आयोग द्वारा अभ्यर्थियों के लिए फार्म नंबर 26 का प्रारूप बदल दिया गया है। जिसके कुछ बिंदुओं में संशोधित संशोधन कर दिया गया है। चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशी को अपने सोशल मीडिया अकाउंट की जानकारी देना जरूरी है ।साथ ही पिछले 5 वर्ष की आईटीआर की सूचना भी फार्म नंबर 26 में भरी जानी आवश्यक है। उन्होंने कहा कि पेंडिंग क्रिमिनल केसो की सूचना भी भरी जानी जरूरी है। जिस केश में सजा सुनाई गई है उनकी सूचना भरी जानी अति आवश्यक है तथा सरकारी देनदारी की सूचना भी दी जानी सुनिश्चित की गई है।बैठक में एसडीएम फरीदाबाद सतबीर मान ,एसडीएम बल्लभगढ़ त्रिलोकचंद, डीआरओ डा0 नरेश कुमार, चुनाव तहसीलदार दिनेश कुमार सहित बैठक से संबंधित विभागों के अधिकारी तथा राजनीतिक पार्टियों के प्रतिनिधियों ने भाग लिया।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages