Breaking

Thursday, March 14, 2019

मतदाता पहचान पत्र के साथ मतदान के लिए 11 अन्य दस्तावेजों का भी विकल्प : अतुल कुमार


फरीदाबाद,14 मार्च(abtaknews.com)  जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त अतुल कुमार द्विवेदी ने बताया कि जिन मतदाताओं के पास मतदाता पहचान पत्र नहीं है, वह मतदाता विभिन्न 11 अन्य दस्तावेजों में से कोई एक दिखाकर मतदान कर सकता है। उन्होंने बताया कि मतदाता पहचान पत्र के अलावा पासपोर्ट, ड्राईविंग लाईसैंस, हरियाणा सरकार व केंद्र सरकार द्वारा जारी किया गया कर्मचारी पहचान पत्र, बैंक व पोस्ट आफिस की फोटो सहित पासबुक, पैन कार्ड, आरजीआई द्वारा जारी स्मार्ट कार्ड, मनरेगा जॉब कार्ड, हैल्थ इंश्योरेंस स्मार्ट कार्ड, फोटो सहित पैंशन दस्तावेज, सांसद, विधायक कार्यालय द्वारा पहचान पत्र तथा आधार कार्ड दिखाकर मतदान कर सकता है।
उन्होंने बताया कि लोकसभा आम चुनाव के लिए जिला में 1351 बूथ स्थापित किए गए हैं। पृथला में 209, फरीदाबाद एनआईटी में 232, बडख़ल में 230, बल्लभगढ में 207,फरीदाबाद मे 204,तिगांव मे 269 बूथ बनाए गए हैं। चुनाव में 13 लाख 74 हजार 840 मतदाता अपने मत का प्रयोग करेंगे। पृथला विधानसभा क्षेत्र में कुल 1 लाख 81 हजार 30 मतदाता हैं, जिनमें से 97 हजार 655 पुरूष तथा 82 हजार 678 महिला मतदाता हैं। इसके साथ-साथ 697 पुरूष तथा महिलाए सर्विस मतदाता है। फरीदाबाद एनआईटी विधान क्षेत्र में दो लाख 38 हजार 751 मतदाता हैं, जिनमें से एक लाख 34 हजार 497 पुरूष तथा एक लाख चार हजार पॉच महिला मतदाता हैं। इसके साथ-साथ 249 पुरूष तथा महिलाए  सर्विस मतदाता हैं। बडख़ल विधानसभा क्षेत्र में दो लाख 50 हजार 511 मतदाता हैं, जिनमें से 1 लाख 37 हजार 334 पुरूष तथा एक लाख 13 हजार 82 महिला मतदाताओं के साथ-साथ 95 पुरूष व महिलाए सर्विस मतदाता हैं। बल्लभगढ विधानसभा क्षेत्र में कुल 2 लाख 18 हजार 98 मतदाताओं में से 1लाख 23 हजार 210 पुरूष तथा 94 हजार 706 महिला मतदाता हैं। इसके साथ-साथ 182 पुरूष तथा महिलाए सर्विस मतदाता हैं। फरीदाबाद विधान सभा मे कुल 2 लाख 20 हजार 693 मतदाताओ मे से 1लाख 20 हजार 149 पुरूष तथा एक लाख 465 महिला मतदाता है। इसके साथ-साथ 202 पुरूष व महिलाएं सर्विस मतदाता है। तिगांव विधान सभा मे दो लाख 65 हजार 757 मतदाताओ मे से एक लाख 48 हजार 118 पुरूष तथा एक लाख 17 हजार 437 महिला मतदाता हैं। इसके साथ-साथ 202 पुरूष व महिलाए सर्विस मतदाता हैं।
टोल फ्री नंबर 1950 के बारे में लोगों को किया जा रहा है जागरूक---जिला के आम जन को ईवीएम मशीन, वीवीपैट तथा टोल फ्री नंबर 1950 के बारे में जागरूक किया जा रहा है। लोगों को लोकसभा आम चुनाव 2019 में पहली बार उपयोग में लाई जाने वाली वीवीपैट के साथ-साथ उन्होंने टोल फ्री नंबर 1950 के बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए बताया कि कोई भी मतदाता अपने मत से संबंधित हर प्रकार की जानकारी इस नंबर से प्राप्त कर सकता है।
 शराब की बिक्री पर निगरानी रखने के लिए नोडल अधिकारी नियुक्त
----------------------------------
फरीदाबाद, 14 मार्च। जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त अतुल कुमार द्विवेदी ने लोकसभा आम चुनाव को निष्पक्ष एवं शांति पूर्वक संपन्न करवाने के दृष्टिगत संबंधित अधिकारियों को निर्देश जारी किए हैं। जिला में चुनाव के दौरान शराब के ठेकों व शराब की बिक्री पर निगरानी रखने के लिए उप आबकारी एवं कराधान आयुक्त आबकारी को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है।उन्होंने बताया कि मतदान से 48 घंटे पूर्व मतदान केंद्र क्षेत्र में ड्राई डे घोषित किया जाता है, जिसके तहत किसी शराब की दुकान, होटल, रेस्तरां, क्लब तथा अन्य संस्थान में शराब को बेचना व परोसना प्रतिबंधित रहेगा। आबकारी विभाग के स्टाफ द्वारा जिला व राज्य की सीमा पर आरटीओ कार्यालय द्वारा स्थापित किए गए चैक पोस्टों पर वाहनों की आवाजाही पर भी 24 घंटे निगरानी रखी जाएगी। इस बारे में अपनी रिपोर्ट भी हर रोज फरीदाबाद के रिटर्निंग अधिकारी व जिला पलवल के जिला निर्वाचन अधिकारी के अतिरिक्त फरीदाबाद डीसीपी पुलिस को भी पे्रषित करेंगे।
जिला निर्वाचन अधिकारी द्वारा आदर्श चुनाव आचार संहिता के दौरान सरकारी कर्मचारियों के लिए भी हिदायतें जारी की गई हैं। इन हिदायतों के अनुसार कोई भी सरकारी कर्मचारी किसी राजनैतिक दल या राजनीति में भाग लेने वाले किसी संगठन का न तो सदस्य हो सकता है और न ही इनसे संबद्ध रह सकता है। कोई सरकारी कर्मचारी मतदाताओं को प्रभावित करने की किसी गतिविधि में शामिल नही हो सकता है। इसके अतिरिक्त सरकारी कर्मचारी अपने व्यक्तिगत वाहन अथवा रिहायशी मकान पर भी मतदाताओं को प्रभावित करने के लिए किसी भी प्रकार का चुनाव चिन्ह नही लगा सकता है और न ही कोई सरकारी कर्मचारी चुनाव प्रचार में भाग ले सकता है। इन सभी गतिविधियों में शामिल होने वाले कर्मचारियों के खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।
जिला निर्वाचन अधिकारी द्वारा चुनाव प्रक्रिया के दौरान वाहनों के दुरूपयोग को रोकने के संदर्भ में भी हिदायतें जारी की गई हैं। इन हिदायतों में आदर्श चुनाव आचार संहिता के दौरान राजनीतिक पार्टियों और उम्मीदवारों के काफिले में सुरक्षा वाहनों सहित 10 वाहनों से ज्यादा वाहन नही चल सकते हैं। ऐसे किसी काफिले में शामिल होने वाले वाहनों तथा उनकी पहचान बारे सूचना भी राजनीतिक पार्टियों व उम्मीदवारों को जिला प्रशासन को प्रेषित करनी होगी।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages