Breaking

Thursday, February 28, 2019

बल्लभगढ़ तहसील में रात में होती है रजिस्ट्रियां, हरियाणा सरकार की अनोखी सुविधा का उठाएं लाभ


बल्लभगढ़/ फरीदाबाद(abtaknews.com) 28 फरवरी,2019; हरियाणा सरकार जहां एक तरफ भ्रष्टाचार मुक्त शासन की बात करती है वहीं बल्लभगढ़ में प्रशासन  दिन के साथ साथ रात को भी जनता के काम में कितना तत्पर है यह तहसील में साफ तौर पर देखा जा सकता है जहां आम आदमी रजिस्ट्री कराने के लिए हर रोज यह इंतजार करता है कि सरकार द्वारा रजिस्ट्री खुलेगी तब वह रजिस्ट्री कराएगा तो वहीं दूसरी और दिन में रजिस्ट्री के लिए लाइन में लगने वाले लोग वेध रजिस्ट्री कराने के लिए भी लंबी लाइन में लगते हैं जबकि रात के समय में अवैध स्थानों की रजिस्ट्री धड़ल्ले से तहसील में की जाती है। यह बल्लभगढ़ तहसील का पहला मामला नहीं है जब रात को रजिस्ट्री होती है पहले भी बल्लभगढ़ तहसील रात को रजिस्ट्री करने के मामले में चर्चा में रही है।
तहसील परिसर के अंदर काम करते दिखाई दे रहे यह एडवोकेट हैं और उनके साथ आए उनके  क्लाइंट है  जो की रजिस्ट्री के रूम में बैठ कर अपना काम तसल्ली से कर रहे हैं  तो वही  रजिस्ट्री कंप्यूटर में दर्ज करने वाले कर्मचारी ने जब न्यूज़ चैनल की टीम को देखा तो वह वहां से  चल  लिया  जब कैमरे पर उसको  यहां से भागने की बात पूछी गई तो वह कहता है कि वह अपना दिन का काम निपटा रहा था।बल्लभगढ़ तहसील में जब चैनल की टीम पहुंची तो कर्मचारियों ने भगदड़ में कमरों की लाइटें बंद कर दी और भागते हुए नजर आए यही नहीं लोगों की रजिस्ट्री हो चुकी थी वह एक दूसरे को मिठाइयां बांटते हुए नजर आए लोगों से पूछा तो उन्होंने बताया कि उनकी रजिस्ट्री हुई है और खुशी में मिठाइयां बांट रहे हैं रजिस्ट्री कराने आई एक महिला का कहना है कि उन्हें भी खुशी है कि रजिस्ट्री हो गई है क्योंकि उसके पलवल से बल्लबगढ़ तहसील आने की मेहनत सफल हो गई है।
दिन में ना सही लेकिन रात में उसका काम हो गया इसकी उसे बेहद खुशी है न्यूज़ की टीम को देख कर दरवाजा बंद कर रहे रजिस्ट्री क्लर्क ने कहा कि वे दिन का काम निपटा रहे हैं यहां यह बता दे कि शायद यह वह काम निपटा रहे थे जो कि दिन के उजाले में नहीं हो सकता है। तहसील में रजिस्ट्री कराने आए लोग मिठाइयां बांटते हुए। जब इस मामले में बल्लभगढ़ के तहसीलदार सुशील अत्रि से फोन पर बात कर पक्ष जाना चाहा तो उन्होंने न्यूज़ से बचने की बात कह डाली। इस मामले में बल्लभगढ़ एसडीएम राजेश कुमार को भी फोन कर टीम ने पक्ष रखने की बात कही तो वह भी फोन पर बचते नजर आए।
  

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages