Saturday, February 2, 2019

मेले की चौपाल में महाराष्ट्रा द्वारा सांस्कृतिक संध्या एवं लाईट साऊंड लोक कला की प्रस्तुति

Presentation of cultural evening and light sound folk art by Maharashtra in Choupal of the fair

फरीदाबाद, 02 फरवरी(abtaknews.comदुष्यंत त्यागी ) अंतर्राष्टï्रीय सूरजकुंड क्राफ्ट मेले की चौपाल में महाराष्टï्र द्वारा सांस्कृतिक संध्या एवं लाईट साऊंड लोक कला की प्रस्तुतियां दी गई। सांस्कृतिक संध्या की अध्यक्षता महाराष्टï्र सरकार के पर्यटन विभाग के प्रबंध निदेशक अभिमन्यू काले ने की। इस अवसर पर महाराष्टï्र सरकार के पर्यटन विभाग के संयुक्त प्रबंध निदेशक राठौर, कलाकार गौरी शर्मा, आरती अकलि टिकेसर, पंडित श्वाना कवि शेकी ने सांस्कृतिक प्रस्तुतियां दी।

महाराष्टï्र सरकार के सांस्कृतिक विभाग के निदेशक अभिमन्यू काले ने बताया कि छत्रपति शिवाजी राव ने गामिनी कावा सिस्टम से दुशमनों को चारो खाने चित करते हुए विजय हासिल की थी। उन्होंने कहा कि गामिनी कावा मराठों में लडने की एक कला का नाम है। सूरजकुंड का अंतर्राष्टï्रीय क्राफ्ट मेला विश्व में प्रसिद्ध है। यह 33वां अंतर्राष्टï्रीय सूरजकुंड मेला आयोजित किया जा रहा है। इस मेले में पूरे भारतवर्ष के सभी प्रांतों के हजारों कलाकार सांस्कृतिक संध्या में अलग-अलग दिन अपनी प्रस्तुतियां देंगे, जिनका मैं हार्दिक दिल से आभार प्रकट करता हूँ। 
सांस्कृतिक संध्या चौपाल का शुभारंभ दीप प्रज्जवलित करके किया गया। इसमें प्रौत राजा और वासुदेव पुरूष कला, कलाकार गौरी शर्मा, ईश दीपकर, नंदनी शर्मा व अन्य कलाकारों द्वारा गणेश वंदना, पंडित श्वाना कवित शेकी द्वारा भजनों की प्रस्तुतियां तथा कलाकार आरती अकलि टिकेसर द्वारा उमंगवाणी की प्रस्तुति दी गई।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages