Breaking

Monday, February 4, 2019

अजरौंदा में रास्ता बंद करने को लेकर दलितों ने किया विरोध प्रदर्शन

फरीदाबाद(abtaknews.com,) फरीदाबाद विधानसभा के अजरौंदा गांव में पोखर जमीन पर बनाए गए सामुदायिक केंद्र में दलित बस्ती की ओर दस-दस फुट ऊंची दीवार खड़ी कर दलितों का रास्ता बंद किए जाने के विरोध में आज दलितों का गुस्सा सांतवें आसमान दिखाई दिया। भारी संख्या में दलितों ने एकजुट हो कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता विकास चौधरी को मौका बुलाकर भाजपा सरकार के विरोध नारेबाजी कर जमकर प्रदर्शन किया। गुस्साए दलितों ने बाद में विकास चौधरी के नेतृत्व में सेक्टर-12 हुडा विभाग के कार्यालय पहुंचकर हुडा प्रशासक धर्मेन्द्र यादव को ज्ञापन भी सौंपा। ज्ञापन के माध्यम से विकास चौधरी ने बताया कि सामुदायिक भवन के दौरान खड़ी की जाने वाली दो दिवारों को अत्यधिक ऊंचा किए जाने से दलित बस्तियों के आवागमन का मार्ग पूरी तरह से बंद हो जाएगा, जिसके चलते इन बस्तियों में रहने वाले सैकड़ों लोगों को परेशानियां पेश आएगी। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि स्थानीय उद्योगमंत्री एक व्यक्ति विशेष के कहने पर इन दलित बस्तियों की तीन फीट की दीवारों को दस फीट कर दिया गया है ताकि यह लोग समाज की मुख्यधारा से पूरी तरह से टूट जाए। चौधरी ने कहा कि एक तरफ भाजपा सरकार दलित हितैषी होने की बात करती है, जबकि दूसरी तरफ सामुदायिक भवन के निर्माण के दौरान तीन फीट की दीवार को दस फुट तक कर दिया जाता है तथा कांग्रेस सरकार में यहां बनी दलित चौपाल का रास्ता भी पूरी तरह से बंद कर दिया जाता है, क्या यही भाजपा की सबका साथ-समान विकास की नीति है। उन्होंने कहा कि दीवारें बनने के बाद दलित बस्तियों में जाने के लिए मामूली रास्ता रह जाएगा, ऐसे में किसी भी अप्रिय घटना, आगजनी होने पर वहां गाडियां तक नहीं पहुंच जाएगी। उन्होंने कहा कि बस्तियों में रहने वाले लोग भी समाज का एक हिस्सा है और वह भी यहां के नागरिक है और चुनावों के दौरान तो इन लोगों को तरह-तरह के सब्जबाग दिखाए जाते है परंतु बाद में इनकी अनदेखी की जाती है। उन्होंने कहा कि सरकार व प्रशासन का दायित्व बनता है कि वह जनभावनाओं का सम्मान करते हुए निर्णय लें। इसके अलावा यहां बसी दो दलित बस्तियों को पानी सप्लाई के लिए लगे ट्यूबवैल को भी इस परियोजना की आड में उखाडने का काम किया जा रहा है, जो शर्मनाक है। उन्होंने हुडा प्रशासक सहित प्रदेश सरकार को चेताते हुए कहा कि कांग्रेस ने सदैव दलितों के हकों की आवाज उठाई है और आगे भी उठाती रहेगी, अगर प्रशासन ने द्वेष भावना के तहत यह कार्य किया तो कांग्रेस कार्यकर्ता सडक़ों पर उतरकर सरकार की ईट से ईट बजाने का काम करेगा। उन्होंने हुडा प्रशासक से मांग की कि इस तरह कार्य किया जाए कि दलित बस्तियों के लोगों को परेशानी न आए। इस मौके पर आरबीपीएस के जोनल प्रभारी डा. धर्मदेव आर्य, जिला कार्डिनेटर अनीशपाल, पूर्व जिला महासचिव नीरज गुप्ता, जगमोहन, जितेंद्र, दिलीप, संदीप, धर्मबीर, राजेश कुमार, जोगिन्द्र, प्रदीप, भोला, ललित, गौरव सहित अनेकों दलित बस्ती के लोग मौजूद थे।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages