Breaking

Sunday, February 17, 2019

मेले का आज है आखिरी दिन ,ब्रास की सुनहरी नक्कासी से बने सोफा सेट से दें घर को शाही अंदाज


The fair is today on the last day, with the brass's golden carving sofa set from the house, the royal style of the house
सूरजकुंड (फरीदाबाद), 17 फरवरी(abtaknews.com)अगर आप शाही शौक रखते हैं और अपने घर को शाही अंदाज में सजाना चाहते हैं तो 33वें सूरजकुंड अंतरराष्टï्रीय हस्तशिल्प मेले के डी ब्लॉक स्थित शिवाली के स्टॉल का दौरा अवश्य करें। यहां आपको असली टीक लकड़ी से बने फर्नीचर व अन्य घरेलू साज सज्जा का सामान मिल सकता है। लेकिन इसके लिए आपको जेब ढीली करनी पड़ सकती है क्योंकि यहां आपको विशेष नक्कासी किए हुए मेले की सबसे महंगे साज सज्जा के सामान उपलब्ध होंगे। 
The fair is today on the last day, with the brass's golden carving sofa set from the house, the royal style of the house

स्टॉल संचालिका शिवाली ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि यहां सेवन सीटर सोफा सेट, आरामदायक झूला, डायनिंग टेबल, ड्राइंग रूम के कोनों की सजावट के लिए दो कॉर्नर और एक सेंटर टेबल उपलब्ध है जो ब्रास की सुनहरी नक्कासी से सुसज्जित होने के साथ-साथ असली टीक की लकड़ी से निर्मित है जिसे कर्नाटके के मैसूर से विशेष तौर पर मेले में प्रथम बार मंगवाया गया है। उन्होंने बताया कि इस विशेष सामान की कीमत करीब साढे सात लाख रुपये हैं। उन्होंने बताया कि यह सामान केवल बड़ी प्रदर्शनियों के दौरान ही बिक्री के लिए लाया जाता है और इसकी विशेषता है कि यह साल दर साल चलने के साथ-साथ इसमें दीमक या घुन नहीं लगता। इस सामान की विदेशों में अत्यधिक मांग है। यह सामान अमेरिका, इंग्लैंड, कैनेडा, दक्षिण अफ्रीका समेत अनेक देशों में मांग के हिसाब से भेजा जाता है। 
-----------------------------------------
सूरजकुंड (फरीदाबाद), 17 फरवरी। 33वें सूरजकुंड अंतरराष्टï्रीय हस्तशिल्प मेला के समापन अवसर पर 17 फरवरी को हरियाणा के पर्यटन एवं शिक्षा मंत्री राम बिलास शर्मा मुख्य अतिथि होंगे। यह जानकारी देते हुए सूरजकुंड मेला के नोडल अधिकारी राजेश जून ने बताया कि पर्यटन मंत्री राम बिलास शर्मा बाद दोपहर दो बजे मेला परिसर में पहुंचेंगे। उन्होंने बताया कि पर्यटन मंत्री का थीम राज्य महाराष्टï्र, पार्टनर देश थाइलैंड, सूरजकुंड मेला अथॉरिटी द्वारा उनका गर्म जोशी के साथ स्वागत किया जाएगा। उन्होंने बताया कि मेले के समापन अवसर पर विभिन्न देशों एवं अनेक राज्यों के कलाकारों द्वारा शानदार सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी जाएगी। इसके अतिरिक्त पारितोषिक वितरण भी किए जाएंगे। उन्होंने बताया कि मेला के समापन अवसर पर महाराष्टï्र राज्य के पर्यटन मंत्री जय कुमार रावल, पर्यटन विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव विजय वर्धन, महाराष्टï्र के पर्यटन विभाग की सचिव विनिता वेद सिंगल, पर्यटन विभाग के चेयरमैन जगदीश चौपड़ा, सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी एवं गणमान्य नागरिक मौजूद रहेंगे।
----------------------------------------------

सूरजकुंड (फरीदाबाद), 17 फरवरी। 33वें सूरजकुंड अंतरराष्टï्रीय हस्तशिल्प मेले में शनिवार को माननीय न्यायाधीशों, वरिष्ठï प्रशासनिक अधिकारियों तथा गणमान्य नागरिकों ने मेले में लगाई गई स्टॉलों का दौरा किया और हस्तशिल्प से बने हुए सामान की खरीददारी की।पंजाब एवं हरियाणा उच्च न्यायालय के माननीय न्यायाधीश सुरेंद्र गुप्ता, रजनीश बंसल, त्रिपुरा राज्य के अतिरिक्त मुख्य सचिव डा. जी.एस.जी.अयंग्र, सेवानिवृत आईएएस एम.एल. तायल के पुत्र कार्तिक तायल, हरियाणा के पर्यटन मंत्री के नजदीकी मीना कुमारी, सामाजिक न्याय मंत्री गुलाब सिंह व लता के. राव आईएएस, फरीदाबाद के श्रमायुक्त, सीजेएम फरीदाबाद डा. अशोक कुमार, हालसा के चेयरमैन प्रमोद गोयल, आयकर विभाग के उप-आयुक्त साधना पंवार, ए.सी.पी. फरीदाबाद प्रीतपाल, नाबार्ड के अतिरिक्त महाप्रबंध राजेश कुमार सिंह, अर्चना सैनी, बीएसएफ के कमांडेंट सतीश कुमार, बीएसएनएल के सीएमडी आर.के. उपाध्याय, आईपीएस ममता सिंह, आर सी मिश्रा, अनुराग रस्तोगी, पीएसओ टू सीएम उदय राज सिंह, विरेंद्र प्रसाद, देवेंद्र बेनीपाल, पर्यटन अधिकारी आर.एस. मौर, एयर इंडिया के प्रबंधक दलीप कुमार सहित अनेक अधिकारियों एवं गणमान्य नागरिकों ने मेले का दौरा किया।
------------------------------------------------------

सूरजकुंड (फरीदाबाद),17 फरवरी। अशोक मैमोरियल पब्लिक स्कूल फरीदाबाद के विद्यार्थियों ने शनिवार को शानदार सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करके धमाल मचा दिया। किसी ने ठीक ही कहा है प्रतिभा किसी के परिचय की मौहताज नहीं होती। ठीक ऐसा ही कर दिखाया अशोक मैमोरियल पब्लिक स्कूल के विद्यार्थियों ने राजस्थानी नृत्य की प्रस्तुति देकर। कार्यक्रम में पंजाब एवं हरियाणा उच्च न्यायालय के माननीय न्यायाधीश सुरेंद्र गुप्ता मुख्य अतिथि के तौर पर उपस्थित रहे।
33वें सूरजकुंड अंतरराष्टï्रीय हस्तशिल्प मेला में दिनभर चलने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रमों में विभिन्न देशों एवं अलग-अलग राज्यों के कलाकार अपनी संस्कृति का प्रचार एवं प्रसार करने के साथ-साथ प्रतिभा का भी प्रदर्शन कर रहे हैं। इसी कड़ी में शनिवार को दिन में जब मंच से मंच संचालन का कार्य देख रहे जनेंद्र सिंह ने अशोक मैमोरियल पब्लिक स्कूल के बच्चों को अपना कार्यक्रम प्रस्तुत करने के लिए आमंत्रित किया तो बच्चों ने रंगबिरंगी पौशाकों के साथ मुख्य चौपाल पर पहुंचकर राजस्थानी नृत्य की शानदार प्रस्तुति दी। बच्चों ने बेहतर सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करके ना केवल चौपाल में बैठे दर्शकों को झूमने, तालियां बजाने के लिए ही मजबूर नहीं किया बल्कि स्टॉलों पर सामान की खरीददारी कर रहे दर्शक भी नृत्य की मनमोहक धुनों को सुनकर चौपाल की तरफ खिचे चले आए।
सांस्कृतिक कार्यक्रमों की कड़ी में मिश्र, इथोपिया, घाना, तजाकिस्तान, जिम्मबावे, जांबिया, बुरूंड़ी, साउथ सूडान, केनिया, तूनिशिया, थाइलैंड, यूगांड़ा के कलाकारों ने अपने देश की सांस्कृति के मुख्य सांस्कृतिक कार्यक्रम मुख्य चौपाल पर प्रस्तुत किए। पंजाब और महाराष्टï्र के कलाकारों ने भी अपने-अपने राज्यों की संस्कृति से जुड़े शानदार कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages