Breaking

Monday, February 11, 2019

33वां अंतरराष्ट्रीय सूरजकुण्ड शिल्प मेला में सेल्फी से लेकर फोटोग्राफी का जबरदस्त क्रेज

From selfie to the 33rd International Surajkund Crafts Fair, the tremendous craze of photography
सूरजकुंड, (फरीदाबाद(abtaknews.com दुष्यंत त्यागी) 11 फरवरी,2019 ; सूरजकुंड मेला में इन दिनों सेल्फी लेने या फोटो खिंचवाने की बड़ा क्रेज दिख रहा है। दर्शकों के इसी क्रेज को देखते हुए हरियाणा सरकार के पर्यटन विभाग ने विशेष सेल्फी प्वाइंट तैयार कराए है। साथ ही मेला में शिल्पकारों का दुर्लभ हुनर कई बार आपको फोटो खिंचवाने के लिए मजबूर कर रहा है। सूरजकुण्ड मेला के यादगार लम्हों को संजोकर रखने का आकर्षण हर किसी विशेषकर युवाओं को अपनी ओर खींच रहा है। सूरजकुंड मेला में आने वाले लोगों के लिए मेला परिसर में विभिन्न जगहों पर सेल्फी प्वाईंट भी बनाए गए हैं जहां पर लोग अपने यारों-प्यारों व परिजनों के संग जमकर सेल्फियां ले रहे हैं और अन्य लोगों से भी फोटो खींचने के लिए अनुरोध कर रहे हैं। लोगों के लिए मेला स्थल पर विशाल गेंडा, साइकिल के अलावा विभिन्न नृत्य मुद्राओं पर आधारित सेल्फी प्वाईंट भी बनाए गए हैं। कला और संस्कृति के संगम यानी सूरजकुंड मेले की पहचान अंतरराष्ट्रीय स्तर पर है, देश-दुनिया के कोने-कोने से पर्यटक यहां घूमने आते हैं, लेकिन फरीदाबाद सहित पूरे दिल्ली-एनसीआर के लोगों में इस मेले के प्रति लगाव और उल्लास कुछ ज्यादा ही दिखाई पड़ता है। ऐसे काफी परिवार हैं, जो हर साल यहां आते हैं। कुछ परिवारों के लिए यहां आना परंपरा का हिस्सा बन चुका है, तो कुछ लोग नया साल आते ही इस मेले का बेसब्री से इंतजार करने लगते हैं।

-------------------------------------------------------
सूरजकुंड मेला में दिख रही महिला सशक्तीकरण की झलक

सूरजकुंड, (फरीदाबाद) 11 फरवरी- फरीदाबाद के सूरजकुंड में चल रहे 33वें अंतर्राष्ट्रीय शिल्प मेले में हर जगह महिला सशक्तिकरण की झलक नजर आ रही है। एक ओर जहां मेले में कई स्टॉल की कमान महिलाओं के हाथ में हैं वहीं विभिन्न जगहों से मेला में प्रतिभागिता करने आईं महिला कलाकार चैपाल पर भी अपनी कला का लोहा मनवा रही हैं।
सूरजकुंड मेला में सीरिया, दक्षिण अफ्रीका, किर्गिस्तान, थाईलैंड, तजिकिस्तान, श्रीलंका के स्टॉलों को महिला उद्यमी ही संचालित कर रही हैं। इसके साथ ही नेपाल और श्रीलंका के स्टॉलों पर बिकने वाला खूबसूरत सामान महिला हस्तशिल्पियों की कल्पना, सौंदर्यबोध, विनम्रता और निपुणता के साथ ही मानवीय संवेदनाओं को सूक्ष्मता से जानने की उनकी प्रतिभा को उजागर कर रहा है। यही नहीं किर्गिस्तान, जिंबाव्वे, कंबोडिया, तजाकिस्तान, तंजानिया की नृत्य-संगीत टोलियों में भी महिलाओं का ही बोलबाला है। विदेशी कलाकारों के ग्रुप में भी महिलाओं का ही बोलबाला है। इन महिला कलाकारों ने बताया कि उन्होंने यह मुकाम अपनी मेहनत से पाकर अंंतरराष्टï्रीय मेले तक का सफर तय किया है। 
-------------------------------------------------------------
सूरजकुंड मेले की मुख्य चौपाल पर विदेशी कलाकारों द्वारा रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम
सूरजकुंड (फरीदाबाद), 11 फरवरी। 33वें अंतर्राष्टï्रीय सूरजकुंड हस्त शिल्प मेले में आयोजित बड़ी चौपाल, छोटी चौपाल तथा अन्य सांस्कृतिक कार्यक्रमों में कलाकारों के साथ पर्यटक मस्ती में झूमते नजर आए। पर्यटकों ने मेले में खरीदारी के साथ-साथ जी भरकर सांस्कृतिक कार्यक्रमों का भरपूर आनंद लिया। 
बड़ी चौपाल में थाईलैंड, किर्गीस्तान, श्रीलंका देशों सहित महाराष्टï्र प्रांत व हरियाणा विधिक सेवाएं प्राधिकरण के माध्यम से आए स्कूली छात्र-छात्राओं ने पर्यटकों का सांस्कृतिक कार्यक्रमों तथा डांस के माध्यम से मनोरंजन किया। थाईलैंड के कलाकारों ने अपनी भाषा में सांस्कृतिक व डांस कार्यक्रमों की प्रस्तुतियां दी। किर्गीस्तान के कलाकारों द्वारा प्रस्तुत किए गए हिन्दी व अग्रेजी भाषा में सांस्कृतिक कार्यक्रमों के दौरान दर्शक खुशी के साथ झूमते नजर आए। श्रींलका के कलाकारों ने अपनी ही भाषा श्रींलका के स्वतंत्रता दिवस की खुशी के नृत्य गीत सहित कई अन्य प्रस्तुतियां दी। विभिन्न स्कूलों के विद्यार्थियों द्वारा देश भक्ति से ओत-प्रोत सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुतियों ने दर्शकों को भाव विभोर कर दिया। 
छोटी चौपाल में आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रमों में नाईजीरिया के कलाकारों द्वारा ट्रेडिशनल डांस, राजस्थानी कलाकारों द्वारा राजस्थान का कालबेलिया, पंजाब के कलाकारों ने पटियाला के नचार नृत्य, ब्लू एंजिल ग्लोबल स्कूल के विद्यार्थियों ने राजस्थानी डांस, राजकीय गल्र्स सीनियर सैकेण्डरी स्कूल ओल्ड फरीदाबाद की छात्राओं ने एक हूर परी का सपना मैने सतावे सै हरियाणवी गीत की प्रस्तुति देकर चौपाल में दर्शकों का समा बांधा। 
वीआईपी गेट पर महाराष्टï्र के कलाकारों के धनगरि ढोल नृत्य पर पर्यटक कलाकारों के साथ नाचते नजर आए। जोन-4 की चौपाल पर हरियाणा के करनाल जिला के हरियाणवी कलाकार सुखदेव आर्य की टीम द्वारा सांग पिंगला भरथरी तथा शहीदों के नाम देश भक्ति गीत गाकर पर्यटकों का मन मोहा। फूड कोर्ट क्षेत्र में हरियाणा के फरीदाबाद जिला के बीन पार्टी कलाकार पालीनाथ की टीम द्वारा रसिया, रागनियों, राजस्थानी व पंजाबी गीतों, गजल तथा कवालियों और फिल्मी धूनों व राग बगैरा पर विदेशी व देशी पर्यटक कलाकारों के साथ नृत्य करते नजर आए।

-----------------------------------------

सूरजकुंड (फरीदाबाद), 11 फरवरी। 33वें अंतर्राष्टï्रीय सूरजकुंड क्राफ्ट में सोमवार को रंगोली प्रतियोगिता (जूनियर) का आयोजन किया गया। विभिन्न स्कूलों के विद्यार्थियों ने एक से बढकर एक रंगोली बनाई। रंगोली प्रतियोगिता में प्रथम, द्वितीय, तृतीय व सांत्वना पुरूस्कार भी दिए गए। रंगली प्रतियोगिता में डिवाइन पब्लिक स्कूल सेक्टर-9 के विद्यार्थियों ने शानदार रंगोली बनाकर प्रथम स्थान हासिल किया। सैंट जॉन्स स्कूल सेक्टर-7ए के विद्यार्थियों ने रंगोली प्रतियोगिता में दूसरा व होली चाइल्ड पब्लिक स्कूल जवाहर कॉलोनी के बच्चों ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। प्रतियोगिता में दो स्कूलों को सांत्वना पुरूस्कार दिए गए, जिसमें आर्य विद्या मंदिर सी. सै. स्कूल बल्लभगढ़ व ऊंचा गांव बल्लभगढ़ के राजकीय वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय शामिल हैं।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages