Breaking

Sunday, February 10, 2019

33वें अंतराष्ट्रीय सूरजकुंड क्राफ्ट मेले में रविवार को उमड़ी दर्शकों की भीड़

सूरजकुंड (फरीदाबाद), 10 फरवरी(abtaknews.com )33वें अंतरराष्टï्रीय सूरजकुंड क्राफ्ट मेले में रविवार को हरियाणा जेल विभाग द्वारा जेलों के कैदियों द्वारा बनाए गए सामान की स्टॉल का डी.जी.पी. (जेल) के. सेेलवराज ने अवलोकन किया। के. सेलवराज ने कैदियों द्वारा तैयार किए गए सामान का बारीकी से निरीक्षण किया। उन्होंने स्टॉल में लगाए गए विभिन्न प्रकार के उत्पादों के बारे में विभाग के अधिकारियों से विस्तृत जानकारी हासिल की। स्टॉल में फरीदाबाद जेल में रह रहे कैदियों द्वारा विभिन्न प्रकार का सामान तैयार किया गया है, जिसमें कैन्वस पर आधारित पैंटिंग, लकड़ी पर कारीगरी जिसमें मंदिर, दीवारघड़ी, दीवार का शीसा, बैठने के लिए पीढा-जो कुरूक्षेत्र जेल द्वारा तैयार किया गया है। झूला हिसार जेल से, खादी कपडा नारनौल जेल से, लकडी के रैक व कुर्सियां अंबाला जेल से, यमुना नगर जेल से एलोवेरा जूस, हल्दी अकर््ख, गुलाब जल, एलोवेरा जैल, कुरूक्षेत्र जेल से प्लास्टिक के तार से बने हुए मूढे सहित अनेक प्रकार के उत्पाद स्टॉल में बिक्री के लिए रखे गए हैं। 
डीजीपी (जेल) के. सेलवराज ने कैदियों द्वारा तैयार किए गए सामान की खरीदारी भी की। उन्होंने सूरजकुंड मेले में लगाई गई विभन्न स्टॉलों का अवलोकन भी किया। इस अवसर पर डीजीपी की धर्मपत्नी श्रीमती महालक्ष्मी, पुत्र श्रीकांत, जेल अधीक्षक दीपक शर्मा, उप जेल अधीक्षक कुलदीप कुमार, ललित भारद्वाज (प्रशासन) सहित पुलिस विभाग के अनेक अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे।
--------------------------------------------------
सूरजकुंड (फरीदाबाद), 10 फरवरी। 33वें अंतरराष्टï्रीय सूरजकुंड क्राफ्ट मेले में रविवार को लोगों की भारी भीड रही। हजारों की तादाद में बच्चे, नवयुवक, महिलाएं व बुजुर्ग मेला को देखने के लिए सूरजकुंड पहुंचे। मेले में विभन्न देशों और अलग-अलग राज्यों की सैकड़ों स्टॉलें लगाई गई हैं। स्टॉलों में विभिन्न प्रकार का हस्तशिल्प से जुडा हुआ सामान व उत्पाद रखे गए हैं। रविवार को मेला देखने के लिए पहुंचे लोगों ने एक ओर जहां विभिन्न राज्यों सहित अलग-अलग देशों के हस्तशिल्प की स्टॉलों को देखा और जमकर खरीददारी की। विभिन्न स्टॉलों के दुकानदारों से बातचीत की गई तो उन्होंने बताया कि अवकाश का दिन होने के कारण आज भारी भीड है और बिक्री भी खूब हो रही है।
तेलंगाना राज्य के पीटा रामोलू ने स्टॉल नंबर-192 लगा रखी है। इस स्टॉल पर कलमकारी जूट काटन व दरी का सामान रखा गया है। उन्होंने बताया कि इस कारीगरी की बदौलत उनको बनारस हिंदू विश्वविद्यालय में अयोजित हुए कार्यक्रम में कपड़ा मंत्री श्रीमती स्मृति ईरानी द्वारा राष्टï्रीय अवॉर्ड से नवाजा जा चुका है। स्टॉल नंबर-188 पर साड़ी, सूट, शॉल और दुपट्टïा का सामान रखा गया है। स्टॉल के दुकानदार ने बताया कि रविवार के दिन महिलाओं ने जमकर खरीददारी की। सहारनपुर (उत्तर प्रदेश) से आए मौहम्मद आमिर ने स्टॉल नंबर-142 पर आम व शीशम की लकड़ी से तैयार किया गया विभिन्न प्रकार का सामान लगा रखा है। स्टॉल में लकड़ी के टेबल, कुर्सी, लालटेन, लैंप, सोफा सहित अनके प्रकार के उत्पाद रखे गए हैं। मौहम्मद आमिर ने बताया कि रविवार को इतनी बिक्री हुई की पिछले दिनों के सभी रिकॉर्ड टूट गए। 
----------------------------------------
मेले में फैशन में मॉडल के जलवे, रंगबिरंगी लाईटों पर कैटवॉक 
सूरजकुंड (फरीदाबाद), 10 फरवरी। 33वें अंतरराष्टï्रीय सूरजकुंड क्राफ्ट मेले में शनिवार रात्रि जंगल फॉल लेक-2 में मेले के थीम राज्य महाराष्टï्र का फैशन-शो कार्यक्रम अयोजित किया गया। इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर हरियाणा के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (कानून व्यवस्था) मौहम्मद अकिल शामिल हुए। कार्यक्रम में महाराष्टï्र के आशुतोष राठोर, सूरजकुंड मेला के प्रबंध निदेशक विकास यादव भी मौजूद थे। 
फैशन शो में महाराष्टï्र राज्य के मॉडलों ने गणेश वंदना से फैशन शो की शुरूआत की। मॉडलों ने एक से बढकर एक फैशन शो के कार्यक्रम प्रस्तुत किए। उसके बाद उन्होंने 18वीं सदी, 19वीं सदी व 21वीं सदी के वस्त्र पहनकर रैंप पर प्रदर्शन किया। मॉडलों द्वारा महाराष्टï्र के मशहूर गीतों को भी दर्शाया गया। कार्यक्रम में बड़ी संख्या में दर्शकगण मौजूद थे। ----------------------------------------------
सूरजकुंड (फरीदाबाद), 10 फरवरी। 33वें अंतरराष्टï्रीय सूरजकुंड क्राफ्ट मेले में रविवार को मुख्य चौपाल में विभिन्न देशों एवं अलग-अलग राज्यों के कलाकारों ने एक से बढकर एक सांस्कृतिक कार्यक्रमों का प्रदर्शन किया। कार्यक्रम में श्रीलंका, मिश्र, थाइलैंड, यूगांडा, घाना सहित विभिन्न देशों के कलाकारों ने अपने-अपने देश की संस्कृति से जुडे सांस्कृतिक कार्यक्रमों की धूम मचाई। 
हरियाणा,पंजाब व महाराष्टï्र के कलाकारों ने भी शानदान सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी। मुख्य चौपाल में दर्शकों ने एक ही मंच पर विभिन्न देशों के सांस्कृतिक कार्यक्रमों का भरपूर आनंद लिया। पलवल हरियाणा से आए शिवकुमार, खुशबू, राखी ने बताया कि उन्होंने अपने जीवन में पहली बार विदेशी कलाकारों को सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करते हुए देखा है। नवीन शर्मा व पायल शर्मा ने बताया कि सरकार द्वारा प्रत्येक वर्ष लगाए जाने वाला सूरजकुंड मेला देश में ही नहीं बल्कि विदेशों में अपनी विशेष पहचान बना चुका है।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages