Thursday, February 28, 2019

पिछले 11 दिनों से हड़ताल कर रही आंगनवाड़ी कार्यकर्ता करेंगे मुख्यमंत्री मनोहर लाल का घेराव


फरीदाबाद(abtaknews.com)28 फरवरी,2019;पिछले 11 दिनों से हड़ताल कर रही आंगनवाड़ी कार्यकर्ता दो मार्च को मुख्यमंत्री, वित्त मंत्री और हरियाणा निवास का घेराव करेगी। सरकार की वायदा खिलाफी और स्वीकृत मांगों को लागू न करने के खिलाफ 18 फरवरी से चल रही हड़ताल आज भी जारी रही। हड़ताल के कारण सभी आंगनवाड़ी केन्द्रों पर ताले लटके हुए है। हड़ताली कार्यकर्ता जिला उपायुक्त कार्यालय पर सामूहिक धरना आयोजित कर लगातार प्रदर्शन कर रही है। धरने को सम्बोधित करते हुए आंगनवाड़ी वर्कर एण्ड हैल्पर्स हरियाणा की प्रधान देवेन्द्री शर्मा ने बताया कि आगामी  2 मार्च को करनाल मुख्यमंत्री आवास, दिल्ली में हरियाणा भवन पर तथा नारनोंद में वितमंत्री कैप्टन अभिमन्यु के विधानसभा कार्यालय का घेराव करेगी।

आंगनवाड़ी वर्करों को सम्बोधित करते हुए सर्व कर्मचारी संघ के प्रदेश महासचिव सुभाष लांबा, जिला प्रधान अशोक कुमार व जिला सचिव युद्धवीर सिंह खत्री ने कहा कि सरकार आंगनवाड़ी कर्मचारियों के आंदोलन पर दमन-उत्पीडऩ की कार्यवाही कर डराना चाहती है। प्रदेश की 51000 आंगनवाड़ी वर्कर्स व हैल्पर्स तमाम दमन का मुकाबला करते हुए आगे बढ़ेंगी। उन्होंने कहा कि सरकार व विभाग नोटिस देकर हमारी हड़ताल को कमजोर करना चाहती है। इसका माकूल जवाब दिया जाएगा।
आंगनवाड़ी यूनियन की जिला सचिव मालवती, सहसचिव गीता देवी व सुरेन्द्री, विदु प्रभा ने कहा कि आगामी 2 मार्च को पंचकूला, अम्बाला, यमुनानगर, कुरुक्षेत्र, कैथल, करनाल, पानीपत की वर्कर्स मुख्यमंत्री के करनाल आवास पर प्रदर्शन करेंगी। इसी दिन सिरसा, फतेहाबाद, हिसार, भिवानी, जींद की सभी वर्कर्स व हैल्पर्स नारनोंद में वितमंत्री कैप्टन अभिमन्यु के आवास पर प्रदर्शन करेंगी। पलवल, फरीदाबाद, गुडग़ांव, मेवात, सोनीपत समेत अन्य जिलों की वर्कर्स व हैल्पर्स 2 मार्च को ही दिल्ली हरियाणा भवन पर प्रदर्शन करेंगे।
हड़ताल की प्रमुख मांगें
1. वर्कर्स को मजदूर की श्रेणी में शामिल किया जाये। हैल्पर्स को भी अकुशल मजदूर माना जाए।
2.प्रधानमंत्री द्वारा घोषित 1500 व 750 की बढ़ोतरी सितम्बर से केंद्र सरकार का बकाया मानदेय वर्कर्स व हेल्पर्स को तुरंत मिले।
3.हैल्पर्स से वर्कर व वर्कर से सुपरवाइजर में पदोन्नति 50 प्रतिशत हो व केवल सीनियरिटी के आधार पर हो।
4.वर्कर्स. हैल्पर्स को गर्मी.शर्दी असल मे छुट्टी दी जाए।
5. वर्कर्स व हैल्पर्स की मृत्यु पर परिवारजनों को 3 लाख रुपये एक्सग्रेसिया लाभ मिले।
5. पेंशन सहित रिटायमेंट लाभ मिले।
6.निर्णय अनुसार 2 साल से अटका केन्द्रों का किराया जारी हो।
7.हैल्पर्स को अतिरिक्त पैसा मानदेय में मिले।
8.बंद क्रेच केंद्रों को तुरंत खोले जाय व क्रैच वर्कर्स हैल्पर्स की नोकरी बहाल हो। मदर ग्रुप वर्कर्स का मेहनताना बढ़े।



No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages