Breaking

Thursday, January 31, 2019

अन्ना हजारे के समर्थकों को फरीदाबाद पुलिस ने खदेड़ा, सामाजिक एवं राजनैतिक लोगो में गुस्सा

 
Anna Hazare's supporters farewell to Faridabad police, anger in social and political logos
फरीदाबाद, 30 जनवरी(abtaknews.com) भ्रष्टाचार को समाप्त करने और लोकपाल के नियुक्ति की मांग को लेकर अन्ना हजारे के द्वारा आज दिनांक 30 जनवरी से महाराष्ट्र के रालेगण सिद्धि में शुरू किए जा रहे आमरन-अनशन के प्रति एकजुटता प्रदर्शित करने के लिए शहर की अनेकों सामाजिक संस्थाएं और आम नागरिक आज 30 जनवरी को प्रातः 11.00 बजे बी0के0 चैक स्थित निगम मुख्यालय पर सत्याग्रह पर पहुुंच गए थे।।    सामाजिक कार्यकत्र्ता पदमश्री डा. ब्रह्मदत्त, अनशनकारी बाबा रामकेवल, जाने माने सामाजिक कार्यकत्र्ता व भ्रष्टाचार विरोधी मंच के संस्थापक सदस्य वरूण श्योकंद ने शहर के सभी जागरूक नागरिकों  के साथ धरना प्रदर्शन शुरूू किया तभी वहां भारी पुलिस बल पहुंच गया और धरना स्थल पर पानी डाल दिया और टट वाले को भगा दिया।
इसके बाद पुलिस ने जोर जबस्ती करके वरुण शयोकंद व बाबा राम केवल को हिरासत में ले लिया और अपने साथ लेकर गए।।  इसका उनके समर्थकों ने पुरजोर विरोध किया और छोटी मोटी झड़प भी हुई।। इसमें जसवंत पवार, राजेश शर्मा, नरेंद्र जी, राजेश आर्य, सतीश चोपड़ा जी, अकाश हंस , गयानेंद्र भारद्वाज , हर्ष विश्नोई , अभिषेक श्रीवास्तव, परमिता चौधरी, नरेश मेंदीरत्ता, नरेंद्र सिरोही , जोगिंदर, विनोद नरवत,   प्रमोद मनोचा जी दीपशिखा अधिकारी  आदि सैकड़ों लोग मौजूद थे।यह बहुत ही निंदनीय कार्रवाई करी प्रशासन ने  , क्योंकि आज बहुत बड़े घोटाले उजागर होने थे हरियाणा सरकार के,  सरकार ने जो दमनकारी नीति अपनाई है समाजसेवीओं की आवाज दबाने के लिए यह किसी तरह भी बरदाश्त नहीं की जाएंगी।। वरुण शयोकंद को सेक्टर 12 थाने ले जाया गया बाबा राम केवल को एसजीएम नगर थाने ले जाया गया।। थाने जा कर पता लगा कि वरुण को विधायक मूलचंद के साथ चल रहे मानहानि केस  में एक तारीख पर कोर्ट में पेश ना होनेेे के जुर्म पर उठाया गया है , जिसकी तरुण संघ जी की कोर्ट में पेश करने पर हाथो हाथ जमानत हो गई , इसमें अश्विनी त्रिखा , नीरज बालियान,  राजेश तेवतिया अधिवक्ता ने  तरुण सिगंल की कोर्ट में Varun sheokand कि पैरवी की  और SGM नगर थाने में  बाबा राम केवल को  वार्निंग देकर छोड़ दिया गया।।  उन्होंने बताया कि इस अवसर पर हरियाणा परिवहन विभाग का एक बहुत बड़ा घोटाला उजागर करने के साथ-साथ फरीदाबाद  में बिक रही मिलावटी खाद्य पदार्थों के बारे में बहुत महत्वपूर्ण घोटाले उजागर करने थे।।  क्योंकि प्रशासन कतई नहीं चाहता था कि यह घोटाले उजागर हो और यह डेट का बहाना बनाकर प्रशासन ने समाजसेवीओं के खिलाफ एक जंग छेड़ दी है और आज फरीदाबाद में प्रजातंत्र का हनन हुआ है।यह भ्रष्टाचारी ताकतें प्रशासन की आड़ में जनता की आवाज को दबाना चाहते हैं भ्रष्टाचार को छुपाना चाहते हैं।। 
बाबा राम केवल जी और पदम श्री डॉक्टर ब्रह्मा जी ने इसको प्रशासन और भाजपा सरकार की कायराना हरकत बताया उन्होंने बताया कि आज के दिन ही गांधी जी को गोली मारी गई थी और आज ही जो फरीदाबाद में हुआ है वह उसी तरह की हिंशा है।अन्ना हजारे के समर्थन के लिए हम फिर से रणनीति बनाएंगे और प्रशासन के खिलाफ जल्द ही अहिंसक जोरदार प्रदर्शन किया जाएगा और जल्दी ही प्रेस कॉन्फ्रेंस करके सरकार में हो रहे घोटाले के बारे में विस्तार में बताया जाएगा।।
वरूण श्योकंद ने आज यहां जारी एक प्रैस विज्ञप्ति में यह जानकारी देते हुए बताया कि देश के कण-कण में व्याप्त भ्रष्टाचार की समाप्ति के लिए न केवल एक सशक्त लोकपाल की नियुक्ति की जानी जरूरी है बल्कि भ्रष्टाचारियों को कठोर सजा देने का कानून बनाया जाना भी जरूरी है, क्योंकि भ्रष्टाचार के नाग ने किसानों, मजदूरों, बेरोजगारों व मेहनतकश वर्ग का जीना दूर्भर कर दिया है। उन्होंने बताया कि इन सभी मुद्दों को लेकर अन्ना जी ने जब अपनी जान की बाजी लगाने की ठान ली है तो ऐसे में कोई भी संवेदनशील व्यक्ति इस परकार के आंदोलन की अनदेखी नहीं कर सकता है। उन्होंने बताया कि पदम्श्री डा. ब्रह्मदत्त, अनशनकारी बाबा रामकेबल और अन्य सामाजिक कार्यकत्र्ताओं के नेतृत्व में भ्रष्टाचार विरोधी मंच सहित आम नागरिक इस सत्याग्रह में भाग लिया ।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages