Friday, January 25, 2019

जेसी बोस विश्वविद्यालय में शहीद भगत सिंह की याद में हुआ कार्यक्रम

फरीदाबाद, 24 जनवरी(abtaknews.com)जे.सी. बोस विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, वाईएमसीए, फरीदाबाद के विद्यार्थी कल्याण विभाग द्वारा शहीद भगत सिंह की याद में एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसमें भगत सिंह के भाई करवीर सिंह के पौते यादविन्द्र सिंह संधू मुख्य अतिथि एवं वक्ता के रूप में सम्मिलित हुए।
कार्यक्रम के आयोजन में विश्वविद्यालय विद्यार्थी परिषद् एवं विविधा क्लब ने भी अपना योगदान दिया। कुलसचिव डॉ. संजय कुमार शर्मा ने कार्यक्रम की अध्यक्षता की। इस अवसर पर डीन स्टूडेंट वेलफेयर डॉ. नरेश चौहान, निर्देशक विद्यार्थी कल्याण डॉ. प्रदीप डिमरी तथा डॉ. अरविन्द गुप्ता  भी उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन डिप्टी डीन स्टूडेंट वेलफेयर डॉ. सोनिया बंसल की देखरेख में किया गया। 
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए यादविन्द्र सिंह संधू ने भगत सिंह के जीवन के महत्वपूर्ण प्रसंगों पर प्रकाश डाला और कहा कि भगत सिंह ने अपना जीवन देश के लिए बलिदान दिया। उन्होंने कहा कि भारतीय स्वतंत्रता संग्राम में अंग्रेजी शासन के विरूद्ध भगत सिंह ने जेल में रहते हुए 116 दिनों का अनशन किया जोकि एक विश्व कीर्तिमान है और यह उनके दृढ़-संकल्प एवं व्यक्तित्व को दर्शाता है। उन्होंने कहा कि भगत सिंह की शहादत के नौ दशक बीत जाने के बावजूद उन्हें शहीद का दर्जा नहीं मिला, जिसके लिए वे निरंतर संघर्षरत है। उन्होंने कहा कि आज के युवा स्वतंत्रता संग्राम में शहादत देने वाले कुछेक सेनानियों को ही जानते है, जबकि स्वतंत्रता संग्राम में हजारों सेनानियों ने अपना बलिदान दिया। ऐसे शहीदों से युवाओं को परिचित करवाने के लिए उनकी योजना एक संग्रहालय बनाने की है। इस अवसर पर श्री संधू ने विश्वविद्यालय को भगत सिंह की जेल डायरी पर लिखी पुस्तक भी भेंट की।
इससे पूर्व, कार्यक्रम को संबोधित करते हुए विश्वविद्यालय विद्यार्थी परिषद् के अध्यक्ष अनूप वशिष्ट ने भी भगत सिंह के जीवन प्रसंगों से विद्यार्थियों का अवगत करवाया तथा परिषद् के उपाध्यक्ष प्रशांत पराशर ने विद्यार्थियों के सम्मुख यादविन्द्र सिंह संधू का परिचय रखा।  कार्यक्रम के दौरान विविधा क्लब द्वारा भगत सिंह के जीवन पर एक नाटक का मंचन भी किया गया।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages