Breaking

Sunday, January 13, 2019

बल्लभगढ़ की अग्रवाल धर्मशाला में हुआ स्वर्ण आंदोलन समिति का गठन, अधिकार की लड़ाई

बल्लभगढ़(abtaknews.com)स्वर्ण वर्ग और देश के विभिन्न सामाजिक कार्यकर्ताओं द्वारा अग्रवाल धर्मशाला बल्लभगढ में सवर्ण सम्मेलन का आयोजन किया गया, जिसमें स्वर्ण आंदोलन समिति का गठन किया गया। इस सवर्ण सम्मेलन के माध्यम से आरक्षण और एससी एक्ट जैसे दोहरे कानूनों को बिलकुल खत्म करके एक नागरिक एक कानून बनाए जाने की मांग की गई है।जिसमें ब्राह्मण, राजपूत, वैश्य, जाट और पंजाबी समाज के लोग हिस्सा लिया। इस मौके पर सवर्ण आंदोलन समिति के राष्ट्रीय संयोजक दीपक गौड़ ने कहा कि इस आंदोलन में सभी सरकारी और गैर सरकारी कर्मचारी व अधिकारी और विभिन्न सामाजिक कार्यकर्ता अपनी मर्जी से जुड रहे हैं। सामाजिक आंदोलन के जरिए शांतिपूण तरीके से सरकार और सुप्रीम कोर्ट तक अपनी बात पहुंचाने के लिए कार्य करेगी। इस मौके पर आरक्षण विरोधी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष संजय शर्मा ने कहा कि मोदी सरकार द्वारा सर्वणों को दिया जा रहा 10 प्रतिशत आरक्षण नाकाफी है, यह उंट के मुह में जीरे के समान है। सर्वणों की जनसंख्या देश में करीब 41 प्रतिशत है। जबकि 19 प्रतिशत एससी-एसटी के लिए साढे 22 प्रतिशत आरक्षण है। उन्होंने कहा कि एससी एक्ट में र्निदोश लोगों को फसाया जा रहा है और जब तक एससी एक्ट पूर्णतयय समाप्त नहीं होगा, हमारा आंदोलन जारी रहेगा। आरक्षण के कारण योग्य प्रतिभाओं का गला घोटकर अयोग्य व नाकारा लोगों को इंजीनियर व वैज्ञानिक बनाया जा रहा है जिससे हमारा देश न सिर्फ आर्थिक दृष्टि से बल्कि तकनीकि में भी पिछड रहा है, समिति के माध्यम से आरक्षण और एससी एक्ट जैसे दोहरे कानूनों को बिलकुल खत्म करके एक नागरिक एक कानून बनाए जाने की मांग की जा रहीं है।
आज के सम्मेलन मे पार्टी के दीपक गौड़ के अलावा संजय शर्मा, प्रताप शर्मा, श्याम सुंदर शर्मा, सतवीर भारद्वाज, भरत शर्मा, महेश चंद्र शर्मा, बीएम शर्मा, राजबाला शर्मा, डा विजेंद्र सिंगला, त्रिभुवन शर्मा, विनायक पाण्डेय, चंद्रप्रकाश भटनागर, राजीव दुबे, संजय सहाय, डा हाप्रसाद अत्री, सुरेंद्र बब्ली, वीरेंद्र शर्मा, ज्ञानदेव वत्स, बृजमोहन वशिष्ठ, महेंद्र पाल बंसल, ताराचंद शर्मा, संगीता नेगी, काशलेंद्र मिश्रा, रामवकील शर्मा, अभिशेक ष्शुक्ला, श्रीनिवास पाण्डेय, जयकिशन शर्मा, केएस शर्मा, राजेंद्र शर्मा, सूरज सिंगला, आशीश दीक्षित, विष्णु पाठक, धर्मवीर शर्मा व रामहरि शर्मा सहित अनेक गणमान्य लोग व कार्यकर्ता मौजूद थे।
 

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages