Breaking

Thursday, January 10, 2019

ई-संसाधनों के प्रभावी उपयोग’ को लेकर जागरूकता पर कार्यशाला आयोजित



फरीदाबाद, 10 जनवरी(abtaknews.com) जे.सी. बोस विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, वाईएमसीए, फरीदाबाद द्वारा शिक्षकों तथा शोधकर्ताओं को ई-संसाधनों के उपयोग के लिए प्रेरित करने के उद्देश्य से ‘ई-संसाधनों के प्रभावी उपयोग’ को लेकर एक जागरूकता कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस कार्यशाला का संचालन विश्वविद्यालय के पुस्तकालय द्वारा किया गया, जिसमें विश्वविद्यालय के संकाय सदस्यों, शोधकर्ताओं तथा विद्यार्थियों ने हिस्सा लिया।
कुलपति प्रो. दिनेश कुमार ने विश्वविद्यालय पुस्तकालय द्वारा ई-संसाधनों के उपयोग के प्रति जागरूकता लाने के लिए कार्यशाला के आयोजन पर प्रसन्नता जताई। उन्होंने कहा कि इस प्रकार की कार्यशालाएं अकादमिक क्षेत्र से जुड़े प्रत्येक व्यक्ति के लिए बेहद लाभकारी होती है तथा शोध कार्य में उनके समय की बचत भी करती है।कार्यशाला का आरंभ डीन (आरएंडडी) डॉ. अतुल मिश्रा के संबोधन से हुआ। उन्होंने अनुसंधान कार्यों की गुणवत्ता में सुधार के लिए अधिक से अधिक ई-संसाधनों के उपयोग पर बल दिया। इस अवसर पर सभी डीन व विभागाध्यक्ष भी उपस्थित थे।


इससे पूर्व, पुस्तकालय अध्यक्ष डॉ. पीएन बाजपेयी ने अपने संबोधन में विश्वविद्यालय के पुस्तकालय का विवरण प्रस्तुत किया तथा कार्यशाला के उद्देश्यों पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि कार्यशाला के माध्यम से शोधकर्ताओं तथा विद्यार्थियों को एक ऐसा मंच प्रदान किया गया है, जहां वे ई-प्रकाशकों से सीधे संवाद कर सकते है और संबंधित पाठ्य सामग्री को लेकर जानकारी ले सकते है। उन्होंने कहा कि डिजिटल युग में इस तरह की कार्यशालाओं का काफी महत्व है। इस अवसर पर एल्सवेयर, एब्सको तथा इफोमेटिक्स इंडिया के प्रतिनिधियों ने भी कार्यशाला को संबोधित किया तथा साइंस डायरेक्ट, मेंडेले, जेसीसीसी तथा जीगेट डिस्कवरी टूल के बारे में जानकारी दी।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages