Breaking

Wednesday, January 16, 2019

किसानो ने हाथ उठाकर सरकार से मांग की,जमीन का अधिग्रहित का मामला


फरीदाबाद(abtaknews.com) 16 जनवरी,2019; किसानो ने हाथ उठाकर सरकार से मांग की कि जमीन का अधिग्रहित का मामला जल्द से जल्द निपाटया जाए।नहर पार ग्रैटर फरीदाबाद के गांव प्रहलादपुर में किसानो की बैठक का आयोजन किया गया जिसमें नहर पार के रिहायशी सैक्टर-75 व 80 की जबरदस्ती अधिग्रहित जमीन को लेकर किसानो ने दोनो हाथ उठा कर रोष प्रकट किया और सरकार से मांग की कि चुनाव से पहले नहर पार के जबदस्ती 9 वर्ष पुरानी अधिग्रहित जमीन का मुद्दा हल किया जाए। बैठक की अध्यक्षता किसान संघर्ष समिति ग्रैटर फरीदाबाद के अध्यक्ष शिवदत्त वशिष्ठ एडवोकेट ने की। वशिष्ठ ने कहा कि सरकार को तुरन्त किसानो को अपने पास बुलाकर नहर पार के किसानो की अधिग्रहित जमीन का मामला जल्दी से जल्दी हल कर देना चाहिए किसानो ने अपने-अपने विचार रखते हुए कहा कि बार बार सरकार के साथ बैठक के बाद भी नहर पार की अधिग्रहित जमीन का मामले का निबटारा नही हो रहा है। पांच गांवो की जमीन के उपर रिहायशी सैक्टर-75 व 80 की कुल साढे छ सौ एकड जमीन का अधिग्रहण 9 वर्ष पहले किया गया था लेकिन तत्तकालीन काग्रेस सरकार ने मोटे मुनाफे पर बिल्डरो से मोटा मुनाफा खा कर के लगभग 250 एकड अधिग्रहित जमीन को रिलिज कर दिया था। वशिष्ठ ने कहा कि नहर पार के सैकडो किसानो ने आजतक अपनी जमीन का ना तो मुआवजा उठाया है और ना ही जमीन का कब्जा दिया है। किसानो ने कहा कि हमने सरकार को लिखित में पत्र दे चुके है कि सरकार इस जमीन की बाबत इसी जमीन के साथ लगती जमीन किसानो को दे दी जाए तो किसानो को किसी प्रकार का कोई एतराज नही होगा। किसानो ने बैठक के माध्यम से मांग की कि उनकी 9 वर्ष पुरानी समस्या का तुरन्त हल करे। हल नही निकलने पर किसान अगली रणनिति बाएगे। इस बैठक में मास्टर जय नारायण वशिष्ठ, ब्रहमदत्त, जय प्रकाश भाटी, अजीत नम्बरदार, मनोज यादव, बीरपाल, किशन मैमबर, धर्मसिंह, बिजेन्द्र, सुनील, शंकर, हरी, रन सिंह, नेपाल, रामसिंह, महेन्द्र, प्रदीप वशिष्ठ, हरीचन्द, आदि किसान मौजूद थे।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages