Breaking

Wednesday, January 2, 2019

फरीदाबाद के खिलाडियों संग घोर अन्याय,6 महीने से तैयार है सिंथेटिक ट्रैक, उद्घाटन नहीं


फरीदाबाद(abtaknews.com): हरियाणा के खिलाड़ी राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय खेलों में काफी पदक जीतते हैं लेकिन हरियाणा के एक बड़े जिले फरीदाबाद के खिलाडियों की हरियाणा सरकार उपेक्षा कर रही है। ये कहना है बार एसोशिएशन के पूर्व प्रधान एवं न्यायिक सुधार संघर्ष समिति के अध्यक्ष एडवोकेट एल एन पाराशर का जिन्होंने मंगलवार शाम शहर के सेक्टर 12 खेल परिसर का दौरा किया। खेल परिसर में बने सिंथेटिक ट्रैक का अब तक न उद्घाटन होने पर वकील पाराशर ने हरियाणा के खेल मंत्री अनिल विज को जमकर घेरते हुए कहा कि वो बातें बड़ी बड़ी करते हैं और जमीन पर कोई काम नहीं करते हैं। वकील पाराशर ने कहा कि  इस ट्रैक के निर्माण पर 8 करोड़ 87 लाख रुपये खर्च किए किया गया है और लगभग 6 महीने पहले ये बनकर तैयार भी हो गया था लेकिन इसका उद्घाटन अब तक नहीं किया गया जिस कारण शहर के खिलाड़ी बहुत परेशान हैं और कई खिलाड़ी दिल्ली जाकर अभ्यास कर रहे हैं । वकील पाराशर ने कहा कि यहाँ फरीदाबाद सहित होडल पलवल से आये खिलाड़ियों ने उन्हें बताया कि वो मजबूरन शहर के पार्कों या अन्य जगहों पर  नंगे पैर दौड़ते हैं जिस कारण  ऐथलीट के पैर में कंकड़ या कोई नुकीली चीज से चोट लग जाती है। इसके चलते वह कई दिन तक अभ्यास नहीं कर पाते। अभ्यास जारी नहीं रख पाने का असर प्रतियोगिता के दौरान ऐथलीट के प्रदर्शन पर पड़ता है। खेर परिसर में मौजूद खिलाडियों ने बताया कि अगर गलती से वो इस ट्रक पर पहुँच जाते हैं तो पुलिस बुला ली जाती है और उनकी बाइकें पंचर कर दी जाती है। खिलाडियों ने बताया कि यहाँ अभ्यास करने वाले कई राष्ट्रीय खिलाड़ी भी हैं लेकिन मजबूरन वो अभ्यास नहीं कर पा रहे हैं। खिलाडियों ने कहा कि हमसे कहा जाता है कि मैडल ले आओ और हमें कोई सुविधा नहीं दी जाती तो हम मैडल कैसे लेकर आएं। खिलाडियों ने बताया कि लगभग एक साल से ये ट्रैक ऐसे बना पड़ा है लेकिन इसका उद्घाटन नहीं किया जा रहा है। खिलाडियों का कहना है कि हम गरीब घरों से हैं दिल्ली अभ्यास करने नहीं जा सकते। खिलाडियों का दुखड़ा सुन वकील पाराशर ने कहा कि सीएम मनोहर लाल कई बार हाल में फरीदाबाद आये लेकिन उनके पास भी इस ट्रैक के उद्घाटन का समय नहीं है। वकील पाराशर ने कहा कि अब वो पीएम मोदी को पत्र लिखेंगे कि वो खट्टर से कहें कि वो या उनके बड़बोले खेल मंत्री जल्द इसका उद्घाटन करें। 

आपको बता दें कि खेलों को बढ़ावा देने की दिशा में  सीएम मनोहर लाल ने 14 मई 2016 को सेक्टर-12 खेल परिसर में सिंथेटिक ऐथलेटिक्स ट्रैक बनाने की घोषणा की थी,  सिंथेटिक ट्रैक तैयार करने में 8 करोड़ रुपये का बजट प्रस्तावित किया गया था। प्रदेश के उद्योग मंत्री विपुल गोयल ने 20 नवंबर 2017 को सिंथेटिक ट्रैक का शिलान्यास किया था। अगस्त 2018 तक इस काम को पूरा करने का समय निर्धारित किया गया था लेकिन अब तक ट्रैक का उद्घाटन नहीं हुआ। हो सकता है ट्रैक अब तक पूरी तरह से न बना हो। वहाँ मौजूद खिलाडियों का कहना है कि उन्हें कहा गया था कि 30 दिसंबर को इसका उद्घाटन होगा लेकिन उस दिन भी नहीं हुआ। खिलाडियों से कहा कि एक जनवरी 2019 को उद्घाटन होगा और दर्जनों खिलाडी एक जनवरी को मौके पर पहुँच गए लेकिन निराशा हाँथ लगी जिसके बाद तमाम खिलाड़ी वकील पाराशर के पास पहुंचे और इस ट्रैक का उद्घाटन जल्द करवाने की मांग की। 


No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages