Thursday, December 6, 2018

भारतीय के संविधान निर्माता बाबा साहेब डा.भीमराव अम्बेडकर को दी श्रृद्वांजलि

फरीदाबाद(abtaknews.com)06 दिसंबर,2018;भारतीय के संविधान निर्माता बाबा साहेब डा.भीमराव अम्बेडकर के महापरिनिर्वाण दिवस पर सामाजिक न्याय एवं अधिकार समिति के चेयरमेन दीनदयाल गौतम व भीम आर्मी फरीदाबाद के सहयोग से हार्डवेयर चौक पर श्रृद्वांजलि सभा का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में भीम आर्मी के राष्ट्रीय प्रवक्ता मणजीत नौटियाल व अशोक डाबरा उपस्थित थे। इस मौके पर वहां उपस्थित गणमान्य लोगों व आमजन नेे बाबा साहेब की मूर्ति पर पुष्प अर्पित कर उन्हें नमन किया। इस कार्यक्रम की अध्यक्षता समाजसेवी ऐदल सिंह ने की। इस अवसर पर पलवल से आए रतन विवेक की भजन मंडली ने मधुर भजनों के माध्यम से बाबा साहेब के जीवन सघर्षो को याद कर उन्हें भावभीनी श्रृद्वांजलि अर्पित की।  इस मौके पर भीम आर्मी के राष्ट्रीय प्रवक्ता मणजीत नौटियाल ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि समाज के लोगों ही नहीं वरन देश का प्रत्येक व्यक्ति बाबा साहेब का सदैव ऋणी रहेगा। उन्होनें कहा कि हमारी आने वाली पीढ़ी को बाबा साहेब द्वारा किए गए त्याग व सामाजिक भावना से प्रेरित करना चाहिए। इस अवसर पर समिति के चेयरमेन दीनदयाल गौतम ने कहा कि बाबा साहेब ने समाज को तीन मूल मंत्र दिए शिक्षित बनो-संगठित रहो-सर्घष करो। इन तीन मूल मंत्रों को समाज के अन्य लोगों ने अपने जीवन में उतार कर अपनी व अपने समाज की तरक्की की परन्तु बाबा साहेब का समाज अभी भी इस मूल मंत्र की ताकत को नहीं समझ पाया है। उन्होनें कहा कि 20वीं शताब्दी के श्रेष्ठ चिन्तक, ओजस्वी लेखक, तथा यशस्वी वक्ता एवं स्वतंत्र भारत के प्रथम कानून मंत्री डॉ. भीमराव आंबेडकर भारतीय संविधान के प्रमुख निर्माणकर्ता हैं। उन्होनें कहा कि बाबा साहेब अथक परिश्रमी एवं उत्कृष्ट कौशल के धनी व उदारवादी व्यक्ति थे। इस मौके पर ऐदल सिंह,राजेन्द्र गौतम एडवोकेट,विजय कृष्ण,डॉ.सतीश कुमार,प्रेम सिंह गौतम आदि ने अपने विचार रखे। भीम आर्मी के क्रांतिकारी कार्यकर्ताओं कुनाल गौतम जिलाध्यक्ष भीम आर्मी,रामफल जांगड़ा,अंकुर सागर,हरिकिशन,सुनील विमल गौतम,ओमप्रकाश,रोहताश गौतम,नरेश भारती,वीरपाल,राहुल गौतम ने अपने ओजस्वी विचारों से लोगों को अवगत कराया और बाबा साहेब के मिशन को आगे बढ़ाने का संकल्प लिया। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: