Saturday, December 8, 2018

सनातन धर्म के देवी-देवताओं को लेकर गलत बयानबाजी पर ब्राह्मणो ने रोष जताया

फरीदाबाद(abtaknews.com) 08 दिसंबर,2018 : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी द्वारा भगवान हनुमान को लेकर की गई गलत बयानबाजी व असंसदीय भाषा के प्रयोग को लेकर अखिल भारतीय ब्राह्यण सभा ने राष्ट्रीय अध्यक्ष पं. सुरेन्द्र शर्मा बबली के नेतृत्व में राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन जिला उपायुक्त अतुल कुमार द्विवेदी को सौंपा। ब्राह्यण सभा ने योगी के बयान पर नाराजगी प्रकट करते हुए इसे सनातन धर्म के देवी-देवताआें का अपमान बताया और कहा कि इस तरह के भ्रामक बयानबाजी से समाज में तनाव का माहौल पैदा होता है। राष्ट्रीय अध्यक्ष पं. सुरेन्द्र शर्मा बबली ने कुछ राजनीतिक लोग अपने निजि स्वार्थ के लिए धार्मिक वातावरण खराब करने से भी परहेज नहीं कर रहे। ऐसी अनर्गल बयानबाजी से शहर का वातावरण प्रदूषित हो रहा है। उन्हांने ज्ञापन के माध्यम से राष्ट्रपति से मांग एवं अनुरोध किया कि किसी भी राजनीतिक पार्टी एवं आमजन को संविधान के दायरे से बाहर जाकर किसी भी धर्म के खिलाफ मिथ्या प्रचार करने का कोई हक नहीं है और यदि कोई ऐसा करता है, तो उसके खिलाफ यथाचित कार्यवाही होनी चाहिए। उन्होने कहा कि जिस तरह के आज देश के हालात हैं, उससे वो बहुत परेशान एवं दुखी हैं। भाईचारे का मिशाल मेरा देश आज राजनीतिक पार्टियां ने भयंकर संकट में डाल दिया है। उन्हांने इस तरह के हालातां पर नियंत्रण रखने की मांग ज्ञापन के माध्यम से की ताकि देश में अमन व भाईचारा बना रहे। इस अवसर पर ज्ञापन देने वालों में पं. ओ पी शास्त्री, पं. ज्ञानदेव, पं. रमेश दीक्षित, पं. देवराज, पं. योगेश, पं. कैलाश, पं. राजीव पाराशर, राजू दादा, पं. कृष्ण आदि शामिल थे। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: