Thursday, December 6, 2018

मुख्यमंत्री के अतिरिक्त मुख्य सचिव डा. राकेश गुप्ता ने फरीदाबाद में ली अधिकारियों की बैठक, दिए दिशा-निर्देश


फरीदाबाद 05 दिसंबर(abtaknews.com)मुख्यमंत्री सुशासन सहयोगी कार्यक्रम के परियोजना निदेशक व सेकंडरी शिक्षा विभाग के महानिदेशक डा. राकेश गुप्ता ने  फरीदाबाद मंडल के तीनों जिलों से संबंधित हरपथ, अंत्योदय सरल केंद्र, शिवधाम नवीकरणीय, स्ट्रे कैटल, स्वच्छ सर्वेक्षण व पीएनडीटी/एमटीपी व पॉक्सो एक्ट के क्रियान्वयन की प्रगति की समीक्षा कर अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। हुडा कन्वेंशन हाल में आयोजित समीक्षा बैठक में उन्होंने कहा कि इन सभी योजनाओं की प्रगति की समीक्षा समय-समय पर मुख्यमंत्री स्वयं करते हैं। सभी संबंधित विभागों के अधिकारी इन योजनाओं पर चल रहे कार्यों में और तेजी लाएं, ताकि जनता तक इनका पूर्ण लाभ पहुंच सके। उन्होंने कहा कि स्वच्छता कार्यक्रम के तहत कूड़ा-कचरा का उचित निपटान, घर-घर से कूड़े का उठान, इको ग्रीनरी को बढ़ावा देने वाले कार्यक्रम को पूर्ण रूप से सफल बनाया जाए। फरीदाबाद शहर देश के 100 सुंदर शहरों की सूची में शामिल रहना चाहिए, इसके लिए नगर निगम के अधिकारी पूरी योजना के साथ कार्य करें। साफ-सफाई बारे लोगों से भी फीडबैक लिया जाए तथा स्वच्छता एप के प्रति लोगों को अधिक से अधिक जागरूक किया जाए ताकि वे इसे डाउनलोड कर इसका प्रयोग करें। उन्होंने बताया कि जिला व उपमंडल स्तर पर अंत्योदय सरल केंद्र स्थापित किए जा रहे हैं। तीनों जिलों में यह सभी सरल केंद्र 25 दिसंबर से पहले वर्किंग में लाए जाएं, ताकि इस केंद्र के माध्यम से सरकार की विभिन्न विभागों से संबंधित 221 योजनाओं व 204 सेवाओं का सीधा लाभ दिया जा सके। इन सेवाओं का लाभ अटल सेवा केंद्रों के माध्यम से भी दिया जाएगा। ये सभी केंद्र प्रात: 9 बजे से सायं 4 बजे तक खुले रहने चाहिए तथा इसके हेल्प लाइन नंबर 1800-2000-023 की जानकारी अधिक से अधिक लोगों को होनी चाहिए। सिंगल विंडो सिस्टम पर किसी भी कार्य के निपटान में अधिक समय नहीं लगना चाहिए। सभी सेवाओं का लाभ तय समयसीमा में ही दिया जाना सुनिश्चित किया जाए। 
उन्होंने कहा कि सरकारी स्कूलों में बच्चों के शिक्षा स्तर को बेहतर बनाने के लिए सक्षम योजना चलाई गई है, जोकि एक निरंतर जारी रहने वाली प्रक्रिया है। इस योजना पर शिक्षा विभाग के अधिकारियों के साथ-साथ संबंधित उपमंडल के एसडीएम भी विशेष मॉनीटरिंग करें तथा अध्यापकों को भी बच्चों के शिक्षा के स्तर को सुधारने की दिशा में अच्छा कार्य करने के लिए प्रेरित करें। उन्होंने हरपथ पर आने वाली सडक़ों के गड्ढïों से संबंधित शिकायतों पर भी तुरंत कार्यवाही करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जो भी जिला जितना जल्दी शिकायत का समाधान करेगा, उसकी रैङ्क्षकग भी उतनी ही ऊपर रहेगी। इसी प्रकार उन्होंने शिवधाम नवीकरणीय योजना के तहत श्मशानघाट व कब्रिस्तान को जाने वाले रास्तों को पक्का करने, शैड बनाने व पानी की उचित व्यवस्था जैसे सभी कार्य 26 जनवरी तक पूरा कर लिए जाएं। इसी प्रकार जिला को स्ट्रे कैटल फ्री बनाने की दिशा में भी तत्परता लाई जाए तथा 26 जनवरी तक आवश्यक प्रबंध करते हुए तीनों जिलों को स्ट्रे कैटल फ्री किया जाए। उन्होंने कहा कि तीनों जिलों में पीएनडीटी/एमटीपी व पॉक्सो एक्ट को प्रभावी ढंग से लागू किया जाए तथा प्रसव पूर्व लिंग जांच जैसी गतिविधियों पर पूर्ण रोक लगाई जाए। इसके लिए जिला प्रशासन के अधिकारी व संबंधित विभागों के अधिकारी मिलकर छापेमारी करें। 
इस अवसर पर फरीदाबाद के उपायुक्त अतुल कुमार, नगर निगम फरीदाबाद के आयुक्त मोहम्मद शाइन, पलवल के उपायुक्त मनीराम शर्मा, नूंह के उपायुक्त पंकज कुमार, नूंह के अतिरिक्त उपायुक्त विक्रम फरीदाबाद के अतिरिक्त उपायुक्त जितेंद्र दहिया, पलवल के अतिरिक्त उपायुक्त सुरेंद्र सिंह, पलवल की नगराधीश आशिमा सांगवान, एसडीएम फरीदाबाद सतबीर मान, एसडीएम पलवल जितेंद्र कुमार, एसडीएम होडल गजेंद्र सिंह, नगराधीश फरीदाबाद बलीना सहित अन्य विभागों के अधिकारी उपस्थित थे। 


loading...
SHARE THIS

0 comments: