Saturday, December 29, 2018

जेसी बोस वाईएमसीए यूनिवर्सिटी से शहर के कॉलेजों को जोडने से होगा युवाओं का उद्धार; जसवंत पंवार

फरीदाबाद 29 दिसंबर(abtaknews.com)युवा आगाज छात्र संगठन ने फरीदाबाद पलवल और मेवात के सभी सरकारी एवं प्राईवेट कॉलेजों को एमडी यूनिवर्सिटी से हटा कर जेसी बोस वाईएमसीए यूनिवर्सिटी के साथ जोडऩे की मांग को लेकर उद्योगमंत्री विपुल गोयल को ज्ञापन सौंपा। संगठन के प्रतिनिधियों के साथ काफी संख्या में विभिन्न कॉलेजों के छात्र भी मौजूद थे। केबिनेट मंत्री गोयल ने छात्रों को आश्वासन दिया कि रविवार को होने वाली शंखनाद रैली में माननीय मुख्मंत्री के समक्ष रखे जाने वाले मांग पत्र में उक्त मांग को शामिल किया जाएगा। ताकि फरीदाबाद सहित पलवल, गुडगांव और मेवात के युवाओं को लाभ मिल सकें । श्री गोयल ने छात्रों को आश्वस्त करते हुए कहा किहा कि इस मांग सें संबंधित मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल और शिक्षामंत्री रामबिलास शर्मा से वे स्वयं चर्चा कर चुके हैं।
सेक्टर 17 स्थित केबिनेट मंत्री विपुल गोयल के आवास पर पहुंचे युवा आगाज संगठन के पदाधिकारी एवं विभिन्न कॉलेज के छात्रों ने मंत्री को ज्ञापन सौंपा। संगठन के संयोजक जसवंत पंवार ने जानकारी देते हुए बताया कि उनकी मांग है कि फरीदाबाद, पलवल, मेवात के सभी सरकारी एवं गैर सरकारी कॉलेजों को एमडी यूनिवर्सिटी रोहतक से हटाकर जेसी बोस वाईएमसीए यूनिवर्सिटी फरीदाबाद से संबद्ध कर दिए जाए। श्री पंवार ने कहा हर छोटे से छोटे कार्य के लिए छात्रों और अभिभावकों को एमडी यूनिवर्सिटी रोहतक आने जाने से बहुत परेशानी होती है। कई बार परेशान होकर छात्र बीच में ही अपनी पढाई भी छोड देते है। जेसी बोस वाईएमसीए यूनिवर्सिटी से जुडने के बाद  लाखों युवाओं को बिना परेशानी उच्च शिक्षा प्राप्त करने का मौका मिलेगा। इस अवसर पर युवा आगाज संगठन के संयोजक जसवंत पंवार ने कहा कि उनका संगठन उक्त मांग को लेकर विगत दो साल से आंदोलन चलाए हुए हैं।  फरीदाबाद सांसद एवं केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर, विधायक सीमा त्रिखा, विधायक मूलचद शर्मा, विधायक टेकचंद शर्मा, चेयरमैन विनोद चौधरी, भाजपा नेता नयनपाल रावत को ज्ञापन दे चुके हैं। 
इस अवसर पर जसवंत पंवार, अजय डागर, पवन सैनी, सुनील, देवेंद्र, भारत, विकास नागर, लड्डू विशाल, हिमांशु भट्ट, बलजीत, विशाल शर्मा तिलपत, हर्ष, नवीन गुर्जर, दिनेश सहरावत, मनोज, दीपक, सुनील, मनीष, अमर सहित दर्जनों छात्र मौजूद थेे। 

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages