Tuesday, December 4, 2018

‘सेल्फी विद गार्बेज’ अभियान के तहत गंदगी के ढेरों पर पहुंच कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष ने सरकार को दिखाया आईना


फरीदाबाद(abtaknews.com)हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष डा. अशोक तंवर ने आज प्रदेश के पर्यावरण एवं उद्योगमंत्री के गृह क्षेत्र फरीदाबाद विधानसभा क्षेत्र में ‘सेल्फी विद गार्बेज’ अभियान के तहत गंदगी के ढेरों पर पहुंच प्रदेश की भाजपा सरकार को जमकर घेरा। उन्होंने कहा कि गन्दगी से बेहाल ये इलाका पर्यावरण मंत्री विपुल गोयल का है और वह उद्योग मंत्रालय भी संभालते हैं, ऐसे में फरीदाबाद में न तो नए उद्योग ही बने है और न ही पर्यावरण बचा है। चारों ओर फैला कूड़ा-कचरा सरकार के चेहरे से खुलेआम नकाब हटा रहा है तथा जगह-जगह लगे गंदगी और कूड़े के ढेर मंत्री के कार्यशैली की खुलकर कलई खोल रहे है। मजेदार बात तो यह है कि मंत्री आए दिन इर्वेंट मैनेजमेंट मेें तो लगे रहते है वहीं दूसरी ओर लोगों को बदहाल स्थिति में पहुंचा दिया है। यह हाल जब पर्यावरण मंत्री के गृह क्षेत्र का है तो समूचे हरियाणा के क्या हाल होंगे, इससे सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है। प्रदेशाध्यक्ष श्री तंवर आज फरीदाबाद में एक निजी कार्यक्रम में भाग लेने के उपरांत प्रदेश कांग्रेस कमेटी द्वारा शुरु किए गए ‘सेल्फी विद गार्बेज’ अभियान के तहत फरीदाबाद विधानसभा क्षेत्र के सेक्टर-8 में लोगों से रुबरु हो रहे थे। इस अवसर पर उनके साथ कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता विकास चौधरी, प्रदेश सचिव सुमित गौड़, ओबीसी सैल के चेयरमैन राकेश भड़ाना, अनीशपाल, राजेश आर्य, मनोज अग्रवाल, असंगठित कामगार कांग्रेस के प्रदेश चेयरमैन ज्ञानचंद आहुजा, डा. धर्मदेव आर्य, नीरज गुप्ता, श्रेय शर्मा, व्यापार सैल के चेयरमैन रंजीत रावल, सोनू अलावलपुर सहित अनेकों कांग्रेसी नेता मौजूद थे। प्रदेशाध्यक्ष अशोक तंवर ने कहा कि भाजपाई आए दिन स्मार्ट सिटी की बात तो करते है, लेकिन जमीनी स्तर पर रियलिटी चैक की गई तो वास्तव में फरीदाबाद को नरक सिटी में तब्दील कर दिया गया है। उन्होंने अंदेशा व्यक्त किया कि जब स्मार्ट सिटी पर जमीनी स्तर पर फरीदाबाद स्मार्ट सिटी बनाया ही नहीं जा रहा तो फिर कहीं न कहीं स्मार्ट सिटी के नाम पर बड़ा गोलमाल होने की बू आती है। अगर इसकी निष्पक्ष जांच की जाए तो सारी सच्चाई जनता के सामने आ जाएगी क्योंकि फरीदाबाद को स्वच्छ बनाने में लगे सफाई कर्मचारियों की रोजी रोटी को छीनने का काम किया जा रहा है, जबकि चाईना की ईको ग्रीन कंपनी को सफाई का ठेका दिया जाता है। ईको ग्रीन जमीनी स्तर पर कितना कार्य कर रही है, इस बात का प्रमाण फरीदाबाद में जगह-जगह लगे गंदगी के ढेर स्वत: ही बता रहे है। उन्होंने कहा कि अगर बात की जाए तो उद्योग मंत्रालय की तो कभी औद्योगिक नगरी के रुप में जाने वाले फरीदाबाद में भाजपा सरकार में एक भी कोई बड़े उद्योग की मदर यूनिट स्थापित नहीं हुई है जबकि इसके विपरीत यहां स्थापित सैकड़ों उद्योग सरकार की नीतियों के विरोध में पलायन कर चुके है, जिससे युवाओं के समक्ष बेरोजगारी का संकट खड़ा हो गया है। युवाओं को रोजगार के सपने दिखाने वाली भाजपा सरकार में आज युवा ही सबसे ज्यादा बेरोजगारी के दलदल में फंसता जा रहा है, अगर यही हालात रहे तो लोगों के समक्ष भुखमरी जैसे हालात जैसे हो जाएंगे क्योंकि जीएसटी और नोटबंदी के बाद प्रदेश का व्यापारी पूरी तरह से बर्बाद हो चुका है। उन्होंने कहा कि यह हालात फरीदाबाद के ही नहीं बल्कि समूचे हरियाणा और देश में व्याप्त है, इसी का परिणाम है कि आज समूचे देश में भाजपा के विरोध में एक हवा सी चल निकली है और इसका सबसे पहले रिजल्ट देश के 5 राज्यों में हो रहे विधानसभा चुनाव में लोग वोट की चोट से भाजपा को हराकर जवाब देंगे। उन्होंने दावा किया कि पांचों राज्यों में कांग्रेस की सरकार बनेगी और राहुल गांधी देश के अगले प्रधानमंत्री बनेंगे।

loading...
SHARE THIS

0 comments: