Thursday, November 15, 2018

हर युग में गौ का महत्व रहा, गौ मां स्वरूपा है - स्वामी पुरुषोत्तमाचार्य


फरीदाबाद(abtaknews.com)सेक्टर 44 सूरजकुंड रोड स्थित श्री सिद्धदाता आश्रम द्वारा संचालित नारायण गौशाला में गोपाष्टमी बड़ी ही धूमधाम के साथ मनाई गई। इस अवसर पर आश्रम के अधिष्ठाता इंद्रप्रस्थ एवं हरियाणा पीठाधीश्वर श्रीमद जगद्गुरु रामानुजाचार्य स्वामी श्री पुरुषोत्तमाचार्य जी महाराज ने कहा कि गौ को मां स्वरूपा माना गया है क्योंकि किसी स्थान पर गौ का रहनाखाना और गौ अवयवों का प्रयोग सभी के लिए हितकर होता है। गौ का हर युग में बड़ा महत्व रहा है।
स्वामी पुुरुषोत्तमाचार्य जी महारज ने कहा कि गौवंश आर्थिकसामाजिक एवं वैज्ञानिक आदि विभिन्न रूपों में हमारे लिए उपयोगी है। उन्होंने कहा कि गऊ न सिर्फ दूध के लिए बल्कि भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए भी बेहद उपयोगी जीव है। शास्त्रों में गऊ को माँ एवं पृथ्वी का पर्याय माना गया है।
इस अवसर पर केबिनेट मंत्री विपुल गोयल के भतीजे एवं युवा भाजपा नेता अमन गोयल एवं भाजपा जिलाध्यक्ष गोपाल शर्मा ने भी गौवंश का पूजन किया। उन्होंने कहा कि गाय हमारी आस्था का केंद्र है। हम सभी को गौओं का संरक्षण करना चाहिए। उन्होंने कहा कि गायों को बेसहारा नहीं छोडऩा चाहिए। उन्होंने श्री सिद्धदाता आश्रम द्वारा गौवंश संरक्षण की प्रशंसा की। उन्होंने पूज्यगुरुदेव के साथ मिलकर गऊशाला की सैकड़ों गायों को हरा चारा खिलाया।
इस अवसर पर गौसेवकों ने बड़ा सुंदर आयोजन संयोजन किया था। भक्ति भजनों की धुनों पर भक्तगण नाचते और झूमते रहे। वहीं सभी ने श्री गुरु महाराज से आशीर्वाद एवं प्रसाद पाने के बाद भोजन प्रसाद भी प्राप्त किया। यहां हजारों की संख्या में जुटे भक्तों ने गौ सेवा करने का प्रण लिया और गौ पूजन कर उनके जीवन को धन-धान्य करने का आशीर्वाद भी मांगा।

loading...
SHARE THIS

0 comments: