Wednesday, November 28, 2018

वीडियो कॉन्फ्रेंस द्वारा प्रदेश में विकासात्मक परियोजनाओं के क्रियान्वयन संबंधित बैठक


फरीदाबाद,28 नवंबर(abtaknews.com)मुख्यमंत्री के सचिव एवं हरियाणा सरकार के प्रोजेक्ट डायरेक्टर राकेश गुप्ता ने गत दोपहर बाद वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से जिला में विकासात्मक परियोजनाओं एवं सरकार की जनकल्याणकारी नीतियों के क्रियान्वयन बारे बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में उन्होंने बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ, पीएनडीटी एक्ट, सीएम विंडो ,हरपथ एप, ग्राम विकास योजना, पशु मुक्त शहर, सरल केंद्र, अंतोदय केंद्र ,शहरी एवं स्थानीय निकाय विकास ,सक्षम हरियाणा सहित विभिन्न विकास कार्यों की एक- एक करके विस्तार पूर्वक समीक्षा की ।
वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की अध्यक्षता नगर निगम फरीदाबाद के अतिरिक्त आयुक्त धीरेंद्र सिंह खड़गटा ने की। वीडियो कॉन्फ्रेंस में सीटीएम श्रीमती बलीना, एसडीएम फरीदाबाद सतबीर मान, एसडीएम, बल्लभगढ़ राजेश कुमार डीसीपी  विक्रम कपूर, डीसीपी हेड क्वार्टर, डीसीपी बल्लभगढ़, सुशासन सहयोगी उत्कृष्टता सहित वीडियो कॉन्फ्रेंस से जुड़े विभिन्न विभागों के विभागाध्यक्ष उपस्थित रहे। वीडियो कॉन्फ्रेंस में को संबोधित करते हुए श्री राकेश गुप्ता ने कहा कि बेटी बचाओ -बेटी पढ़ाओ अभियान को सफल बनाने के लिए पीएनडीटी एक्ट की पालना जिला में पूर्ण रूप से सुनिश्चित हो। जो भी दोषी पाया जाए उसके खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई अमल में लाना सुनिश्चित करें ।उन्होंने कहा कि क्रिमिनल तो क्रिमिनल होता है, वह रुपयों के लिए कुछ भी कर सकता है। इसलिए पीएनडीटी एक्ट में जो भी शिकायतें मिले उन पर पूरी सतर्कता के साथ प्रशासनिक व पुलिस अधिकारी कार्यवाही करना सुनिश्चित करें। पीएनडीटी एक्ट की अनुपालना सभी अधिकारी गंभीरता से करना सुनिश्चित करें । उन्होंने कहा कि बेटी बचाओ -बेटी पढ़ाओ अभियान में जन सहभागिता का सहयोग भी जरूरी है। जिससे जिला में पीएनडीटी एक्ट को पूर्णतया लागू किया जा सकता है।
उन्होंने जिला फरीदाबाद की सीएम विंडो पोर्टल बारे सराहना करते हुए कहा कि सीएम विंडो में आई शिकायतों का  निवारण निर्धारित समय अवधि में पूरा करना सुनिश्चित करें । पुलिस विभाग, नगर निगम, श्रम कल्याण विभाग सहित कई विभागों में और भी सुधार की जरूरत है ।  उन्होंने हरपथ एप पर समीक्षा करते हुए कहा कि जिन जिलों में अब तक सक्षम युवाओं की कमी थी।  उन जिलों में जल्द ही सक्षम युवाओं को ज्वाइन करवा कर हर पथ पर आ रही शिकायतों को प्राथमिकता के आधार पर पूरा करना सुनिश्चित करें। साथ ही अर्बन लोकल बॉडीज, पीडब्ल्यूडी बी एंड आर, हरियाणा कृषि विपणन बोर्ड, हुड्डा, विकास एवं पंचायत विभाग के अधिकारी  विकासात्मक योजनाओं और विकास कार्यों की पूरी प्रगति रिपोर्ट हर पथ एप पर अपलोड कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि जिलों में सड़कों के नवीनीकरण का कार्य दिसंबर माह के अंत तक पूरा करना सुनिश्चित हो । इसी प्रकार के कैटल फ्री/ पशु मुक्त शहर बनाने के लिए भी नगर निगम व अर्बन लोकल बॉडीज के अधिकारी गंभीरता के साथ कार्य करें। शहरों ,कस्बों को दिसंबर के अंत तक कैटल फ्री बनाना सुनिश्चित करें ।
राकेश गुप्ता ने ग्राम विकास योजनाओं की समीक्षा करते हुए कहा कि आगामी जनवरी माह तक सभी गांव में ग्राम विकास योजना के तहत श्मशान घाटों की चारदीवारी, उनकी तरफ जाने वाले रास्तों को पक्का करना और वहां पर पेयजल व्यवस्था करना आगामी २० जनवरी तक सुनिश्चित करें। इस मामले में जो भी परेशानियां आती हैं, उसके लिए पंचायत विभाग के अधिकारी प्रशासनिक अधिकारियों के साथ तालमेल बनाकर इस कार्य को निर्धारित समयावधि में पूरा करना सुनिश्चित करें। उन्होंने सरल केंद्र व अंतोदय केंद्रों की समीक्षा करते हुए कहा कि आगामी २५ दिसंबर को प्रदेश के सभी सरल केंद्र व अंत्योदय केंद्रों का उद्घाटन स्वयं मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल द्वारा किया जाना है। जहां पर सरल केंद्र व अंतोदय केंद्र चालू नहीं किए गए हैं ,उन्हें यथाशीघ्र चालू करवाना सुनिश्चित करें। सरल केंद्र व अंतोदय केंद्र पर जनता को किसी भी प्रकार की परेशानिया ना हो उनको अधिक से अधिक सुविधाएं वहां उपलब्ध करवाना सुनिश्चित करें। उन्होंने  अर्बन लोकल बॉडीज के अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि शहरों को ओडीएफ किया गया जा चुका है। ओडीएफ के क्रियान्वयन में भी अधिकारी आपस में तालमेल बनाकर कार्य करना सुनिश्चित करें । उन्होंने कहा कि शिक्षा विभाग द्वारा सक्षम हरियाणा में जिन ब्लॉकों में कार्य धीमी गति से चल रहा है। वहां शिक्षा विभाग के अधिकारी निर्धारित समय अवधि में  सारी तैयारियां पूरा करना सुनिश्चित करना सुनिश्चित करें।

------------------------------

फरीदाबाद,28 नवंबर । हरियाणा भावांतर भरपाई योजना शुरू करने वाला देश में पहला राज्य बन गया है ।इसके लिए सरकार ने आलू, प्याज व टमाटर तथा गोभी की सब्जियों के लिए न्यूनतम मूल्य निर्धारित किए गए हैं। यदि किसान को बाजार में न्यूनतम मूल्य से कम भाव मिलते हैं ,तो सरकार द्वारा लागत और बाजार भाव के अंतर की भरपाई  दी जाएगी।  यह जानकारी जिला उपायुक्त अतुल कुमार द्विवेदी ने दी ।उन्होंने विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि भावांतर भरपाई योजना के तहत जिला में आलू उत्पादक किसानों का जिन्होंने अपने खेतों में आलू की सब्जी की की बिजाई कर रखी है। वे किसान आगामी 30 नवंबर तक अपनी अपनी फसल का पंजीकरण अवश्य करा लें ।इसके पंजीकरण होने के उपरांत किसान को भावांतर भरपाई योजना का लाभ बाजार भाव व लागत मूल्य में अन्तर की भरपाई की धनराशि सीधी किसान के खाते में जाएगी।
 उन्होंने बताया कि भावांतर भरपाई योजना एक अनूठी योजना है। इसके लिए आलू का सुरक्षित मूल्य ₹400 क्विंटल, प्याज का संरक्षित मूल्य ₹500 क्विंटल, टमाटर का सुरक्षित मूल्य ₹400 रूपये प्रति किवंटल, फूल गोभी का सुरक्षित मूल्य ₹500 प्रति क्विंटल सरकार द्वारा निर्धारित किया गया है ।यदि किसानों की फसल इस भाव पर नहीं बिकती है ,तो किसानों को सरकार द्वारा भावांतर भरपाई योजना के तहत बाजार भाव कम मिलने पर बाकी की राशि वहन की जा रही है।उन्होंने बताया कि इस योजना का मुख्य उद्देश्य किसानों को लागत मूल्य  जोखिम से मुक्त करना है। किसानों की आय बढ़ाने के लिए सब्जी उत्पादक किसानों की आय प्रति एकड़ सुनिश्चित करनी है।

loading...
SHARE THIS

0 comments: