Tuesday, November 20, 2018

सराय ख्वाजा सरकारी स्कूल में "से नो टू प्लास्टिक" पेंटिंग प्रतियोगिता आयोजित

फरीदाबाद(abtaknews.com) 20 नवंबर,2018; हरियाणा शिक्षा विभाग के आदेशानुसार राजकीय आदर्श वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय सराय ख्वाजा में जूनियर रेड क्रॉस और सैंट जॉन एम्बुलैंस ब्रिगेड द्वारा प्राचार्या नीलम कौशिक की अध्यक्षता में "से नो टू प्लास्टिक"   पेंटिंग प्रतियोगिता आयोजित की गई। इस अवसर पर  विद्यालय की जूनियर रेड क्रॉस और सैंट जॉन एम्बुलैंस ब्रिगेड प्रभारी रविन्दर कुमार मनचन्दा ने बच्चों से कहा कि रोजमर्रा की जिंदगी में हर व्यक्ति ना जाने कितने प्लास्टिक का उपयोग करता है सुबह आफिस जाने के लिए लंच पैकिंग के लिए प्लास्टिक टिफ़िन या पॉलीबैग, बाजार से शॉपिंग करते समय पॉलीथीन में समान लाना, सब्जियां पॉलीथीन बैग्स में लाना, दूध, ब्रेड, आटा, पैक्ड फूड और खाने का तमाम सामान तक भी पोली बैग्स पैकिंग में ही उपयोग में होता और लाया जाता है। विवाह और ऐसे ही आयोजनों में यूज़ एंड थ्रो वाला प्लास्टिक मटेरिअल जैसे प्लास्टिक गिलास, चमच्च, प्लेट, कप आदि कितना ही डिस्पोजेबल प्लास्टिक के समान का विलासितापूर्ण इस्तेमाल किया जाता है विड़बना यह कि उपयोग कितना भी कर लो और कूड़े में डाल दो। फिर यदि पर्यावरण प्रदूषित हो या आप फरीदाबाद जैसे विश्व के सब से प्रदूषित शहर में रहो क्या फर्क पड़ने वाला है। प्लास्टिक के प्रयोग के बाद प्लास्टिक के वेस्ट यानी कूड़े का उचित प्रबंधन ही हमे विश्व के सब से प्रदूषित शहर में रहने के धब्बे से बचा सकता है प्रयोग में लाने के बाद प्लास्टिक को उचित प्रकार से  कूड़ा प्रबंधन के माध्यम से पर्यावरण हितेषी बनाने की पहल करने की आवश्यकता है। अन्यथा पॉलिथीन और प्लास्टिक के डिस्पोजेबल बर्तनों का बहिष्कार करने का समय आ गया है। इसी विषय पर बच्चों ने सूंदर पेंटिंग और सलोगन लिख कर सुंदर संदेश दिया। मनचन्दा ने बताया कि कीर्ति और शबनाज को प्रथम, गुंजन और सुनील को द्वितीय, आरती और सविता को तृतीय तथा शीतल, कोमल, जहान्वी और अंशी को सांत्वना पुरस्कार से नवाजा गया। प्राचार्या नीलम कौशिक, रविंदर कुमार, मनचन्दा, रेनु शर्मा, संदीप गुप्ता, विनोद शर्मा, बिजेंदर सिंह, अजय कुमार सहित सभी अध्यापकों ने बच्चों का सुंदर संदेश देने के लिए साधुवाद किया।


loading...
SHARE THIS

0 comments: