Saturday, October 27, 2018

कांग्रेस ने किसानों की सभी मांगे मानी,लोकसभा चुनाव में भाकियू कांग्रेस को दे सकती है समर्थन

फरीदाबाद(abtaknews.com)भारत के किसानों का सबसे बडा संगठन भारतीय किसान यूनियन (अ) के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौ. ऋषिपाल अम्बावता को दिल्ली में हुई एक बैठक में कांग्र्रेस के वरिष्ठ नेता एवं उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष राज बब्बर ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की ओर से मिले आश्वासन के बाद अम्बावता को भाकियू की पांच मांगे १. सम्पूर्ण भारत के किसान का कर्जा माफ, २. स्वामी नाथन रिर्पोट सी-२ के आधार पर लागू, ३. किसान आयोग का गठन, ४. किसानों को बिजली कनेक्शन मुफ्त और ऋृ ण पर सब्सीडी मिले, ५. किसानों को बुढापा पेंशन ५ हजार रूपये मिले। तथा अन्य जितनी भी मांगे हैं, उनको किसान हित में २०१९ में केन्द्र में कांग्रेस की सरकार बनते ही सबसे पहले पूरा किया जाएगा।श्री अम्बावता ने कहा भाकियू (अ) ने अनेक बार भाजपा की देश और प्रदेश सरकारों के समक्ष अनेक बार इन मांगों को रखा था, मगर देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और हरियाणा, यू.पी. व राजस्थान के मुख्यमंत्रियों ने एक बार भी भाकियू की इन मांगों को नहीं माना और न ही किसी प्रकार की बात चीत के लिए संर्पक किया। भाजपा पार्टी की ओर से भी किसी पत्र का कोई जवाब नहीं दिया।
श्री अम्बावता ने दिल्ली में इन्हीं मांगों को लेकर हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा से भी मुलाकात की और अपना मांग पत्र सौपा। पूर्व मुख्यमंत्री श्री हुड्डा ने श्री अम्बावता को सभी मांगे मानने का पूर्व आश्वासन दिया। इसके बाद भाकियू अध्यक्ष श्री अम्बावता ने जंतर-मंतर पर अखिल भारतीय किसान खेत मजदूर कांग्रेस की ओर से आयोजित एक रैली में किसानों को संबोधित करते हुए कहा जो पार्टी किसानों का भला करेगी, भाकियू २०१९ के लोकसभा चुनाव में उसी का खुला समर्थन करेगी।
श्री अम्बावता ने उपरोक्त तीनों नेताओं से बातचीत के बाद कहा भाकियू के कार्यकर्ता पूरे देश में हैं जबकि देश के १२ प्रांतों में भाकियू अच्छी स्थिति में है। आगामी १८ नवम्बर को दिल्ली के कॉन्सटीटियूशन क्लब में भाकियू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक होने जा रही है। इस बैठक में भाकियू कांग्रेस को चुनावों में समर्थन देने पर अंतिम फैसला लेगी। उन्होने कहा इस बैठक कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को भी आमंत्रित किया गया है। यदि श्री गांधी बैठक में आते हैं तो फैसला तुरंत कर दिया जाएगा। उन्होने कहा इस बैठक के बाद भाकियू पूरे भारत में किसान जन चेतना यात्रा की शुरूआत करेगी और किसानों के साथ-साथ देश के लोगों को वर्तमान सरकार की कारगुजारियों को उजागर करेगी।श्री अम्बावता ने कहा भाकियू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष राज बब्बर, राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला, खेत मजदूर किसान कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष नाना पटोले, पूर्व मुख्यमंत्री हरियाणा भूपेन्द्र सिंह हुड्डा भी मौजूद रहेंगे।

loading...
SHARE THIS

0 comments: