Friday, October 26, 2018

रोडवेज कर्मचारी आन्दोलन के समर्थन में फरीदाबाद के अध्यापकों ने शुरू की भूखहडताल

Faridabad teachers start hunger strike in support of Roadways employee movement
फरीदाबाद (abtaknews.com) 26 अक्टूबर,2018 ; हरियाणा रोडवेज के आन्दोलन को समर्थन देने के लिए आज फरीदाबाद जिले की शिक्षक तालमेल कमेटी के सदस्यों ने भूखहडताल (क्रमिक अनशन)  की शुरुआत की ।हरियाणा प्राइमरी टीचर एशोसिएशन जिला फरीदाबाद के प्रधान व प्रदेश कोषाध्यक्ष चतर सिंह ने बताया कि तालमेल कमेटी में हरियाणा मास्टर वर्ग एशोसिएशन, हरियाणा प्राइमरी टीचर एशोसिएशन ,पेंशनबहाली संघर्ष समिति, हरियाणा विद्यालय अध्यापक संघ से क्रमिक अनशन पर सायं 5.00बजे 24 घंटे के अनशन पर बैठे ।हरियाणा रोडवेज के कर्मचारियों के आन्दोलन को समर्थन देने के लिए हरियाणा विद्यालय अध्यापक संघ के प्रधान भीम सिंह, सचिव उपकार सिंह संगठन   सचिव, उदयवीर सिंह गिल जिला प्रधान हरियाणा मास्टर वर्ग एशोसिएशन, चतर सिंह जिला प्रधान हरियाणा प्राइमरी टीचर एशोसिएशन, समय सिंह जिला महासचिव हरियाणा प्राइमरी टीचर एशोसिएशन, राजेश भाटी जिला प्रधान पेंशन बहाली संघर्ष समिति, राज सिंह चाहर राज्य अॉडिटर हरियाणा विद्यालय अध्यापक संघ, विरेन्दर सिंह जिला सचिव हरियाणा विद्यालय अध्यापक संघ ,रामेश्वर यादव जिला कोषाध्यक्ष हरियाणा प्राइमरी टीचर एशोसिएशन, बिजेन्द्र दत्त जिला उपाध्यक्ष हरियाणा प्राइमरी टीचर एशोसिएशन, महेन्द्र सिंह अधाना, रविन्द्र सिंह आमंत्रित सदस्य हरियाणा विद्यालय अध्यापक संघ, मनोज कुमार खंड संगठन सचिव, राजकुमार सिंह खंड प्रधान, रामकिशन शर्मा जिला उपाध्यक्ष हरियाणा विद्यालय अध्यापक संघ से बल्लबगढ बस अड्डे के सामने अनशन पर बैठ कर अनशन की शुरुआत की ।
रोडवेज कर्मचारियों की हड़ताल के समर्थन और सरकार की  हठ ध्र्मिता के खिलाफ श्ुक्रवार को जिले से हजारों कर्मचारी  सामूहिक अवकाश पर रहे। जिसके कारण लगभग सभी विभागों का काम काज ठप्प हो गया।नेताओं के नीतिगत निर्णय  के कारण आवश्यक सेवाओं को बहाल रखा गया था। सामूहिक अवकाया का आहवान करने वाले नेता सुभाष लाम्बा नरेश शास्त्री  ने सरकार को चेतावनी दी है कि अगर  शीघ्र ही सरकार ने ७२०  प्राईवेट बसों को किराए पर लेने के निर्णय को रदद नही किया और सभी प्रकार ही उत्पीडऩ की कार्यवाहीयों को वापस नही लिया तो प्रदेश के कर्मचारी शीघ्र ही कोई वड़ा निर्णय लेने पर मजबूर होगें। जिसकी सभी जिम्मेदारी सरकार की होगी।  जिले मे सब से ज्यादा प्रभाव  बिजली वितरण निगम ,नगर निगम  में रहा। सामूहिक अवकाश लेकर विभिन्न विभागों के कर्मचारियों ने अपने अपने कार्यालयों पर प्रदर्शन किए। प्रदर्शनों   के बाद कर्मचारियों  ने बल्लभगढ बस अडडे पर धरने में कूच किया व सरकार के खिलाफ जोर दार नारे लगाये। रोडवेज के कर्मचारियों ने आज बसो को बिलकुल नही चलने दिया।  रोडवेज के कर्मचारियों के होसले को बढाने के लिये आज कई पंचायतों के सरपंचों व टे्रड यूनियनेा के साथ विद्यार्थियों ,नोजवानों का भी सहयोग बढता जा रहा है। जिससे सरकार की मुसीबते बढती जा रही है।

हड़ताली कर्मचारियों को  सर्व कर्मचारी संघ के संगठन सचिव विरेन्द्र डंगवाल ,सर्व कर्मचारी संघ के जिला प्रधान  अशोक कुमार,महासंष के उप महासचिव सुनील खटाना,जिला वरिष्ठ उप प्रधान संत राम लाम्बा,एटक  के बेचुगिरी,सीटू के निरन्तर प्रराशर,नौजवान सभा के मिथलेश कुमार ,अघ्यापक नेता भीम सिंह, स्वास्थ्य विभग के नेता जितेन्द्र मोर,  महासंघ के उदय सिंह, बिजली के नेता सतपाल नरवत ने भी सम्बोधित  किया आज २४ घटे  की भूख हड़ताल पर शिक्षा तालमेल कमेटी के ११ सदस्यों ने शुरू कर दी है।



loading...
SHARE THIS

0 comments: