Sunday, October 14, 2018

बहन को तलाक के नोटिस से गुस्साए भाई ने किया जीजा का अपहरण,सीसीटीवी में वारदात

फरीदाबाद(abtaknews.com) 14 अक्टूबर। बहन को तलाक का नोटिस मिलने पर एक भाई तमतमा गया और उसने अपने दोस्तों के साथ मिलकर जीजा के भाई का अपहरण कर उसे गाड़ी में मथुरा ले गए। लेकिन पुलिस को पीछे आता देख बदमाश डर गए और जीजा को नेशनल हाइवे पर छोड़कर फरार हो गए। अपहरण करके ले जाते हुए और मारपीट करते हुए की पूरी घटना सीसीटीवी में कैद हो गई। पुलिस ने इस मामले में सभी चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से अपहरण में इस्तेमाल की गई कार और चाकू बरामद कर लिया है।
सीसीटीवी में एक व्यक्ति को डंडे से पीटकर उसका अपहरण करके ले जाते हुए का यह नजारा फरीदाबाद के नेहरू ग्राउंड का है, जहां से एक सीए को उसके ही रिश्तेदार अपहरण करके ले गए| दरअसल बल्लभगढ़ की सुभाष कॉलोनी में रहने वाला तेजपाल अपनी बहन के ससुराल में पिछले कुछ महीनों से चल रहे विवाद को लेकर काफी परेशान था। उसकी बहन के जेठ सीए का काम करते हैं और इसका बदला लेने के लिए तेजपाल ने अपने तीन साथियों के साथ कुशल पाल के अपहरण की योजना बना डाली। योजना के तहत 10 तारीख की शाम को फरीदाबाद केे नेहरू ग्राउंड स्थित कुशलपाल के ऑफिस पहुंचकर उन्होंने हथियार के बल पर उसका अपहरण किया और  उसे अपने साथ  इटियोस गाड़ी में  अपहरण करके ले गए। फरीदाबाद से यह लोग उसेे मथुरा की ओर ले गए। लेकिन तब तक कुशल पाल के परिजनों नेे घटना की जानकारी पुलिस को दे दी। अपहरण की सूचना मिलते ही फरीदाबाद केे फरीदाबाद के पुलिस अधिकारी हरकत मैं आ गए और पुलिस की दो टीमों को रवाना कर के कुशल पाल की तलाश में भेज दिया। इधर पुलिस ने मथुरा की तरफ उनका पीछा किया तो दूसरी ओर बदमाशों को इसका पता चल गया। बदमाशों ने पुलिस को भटकाने के लिए गाड़ी को वापस फरीदाबाद की तरफ मोड़ लिया और पलवल के बंजारी गांव के पास कुशल पाल को छोड़ दिया। इस मामले के मुख्य आरोपी तेजपाल की मानें तो पिछले 7 8 महीने से उसके ससुराल में उसकी बहन को परेशान किया जा रहा था। उसके जीजा का भाई उसकी बहन के बारे में भ्रामक प्रचार कर रहा था। इसलिए कुशल पाल को भी अपने साथ लेकर गए। साथ ही आरोपी यह भी कह रहा है कि उनका मकसद कुशल पाल को अपने साथ ले जाने का उसका अपहरण करने का नहीं था।

मामले की जांच कर रहे सहायक पुलिस निरीक्षक प्रदीप कुमार नें बताया कि पुलिस को सूचना मिली थी और पुलिस ने तुरंत देरी ना करते हुए कुछ ही घंटों में कुशल पाल को बरामद कर लिया। पुलिस की मानें तो आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है।शिकायतकर्ता और अपहरण कुशल पाल के भाई सतपाल चौधरी की मानें तो उन्हें 10 तारीख की शाम को मालूम चला था कि उसके भाई के ऑफिस से कुशल पाल का अपहरण कर लिया गया है। उन्होंने इस मामले में कोतवाली थाना पुलिस को सूचित कर फरीदाबाद के पुलिस कमिश्नर से मुलाकात की। पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए उसके भाई को सकुशल बरामद कर लिया।

loading...
SHARE THIS

0 comments: