Tuesday, October 23, 2018

खांडल विप्र सभा एवं स्माइल कैंपेन संस्था 25 अक्टूबर को शरद पूर्णिमा बाँटेंगे औषधि

फरीदाबाद(abtaknews.com) खांडल विप्र सभा फरीदाबाद एवं स्माइल कैंपेन संस्था फरीदाबाद के सहयोग से आगामी 25 अक्टूबर को शरद पूर्णिमा के दिन, फरीदाबाद के इतिहास में  एक अद्भुत एवं सराहनीय कार्य करने जा रहा है। इस बार संस्था  दमा के रोगियों के लिए शरद पूर्णिमा के अवसर पर वैद्यनाथ की बनी कई दवाइयों के सम्मिश्रण से निर्मित, रोगियों पर जांची-परखी महाऔषधि का निःशुल्क वितरण करने जा रही है, जिससे दमा के रोगियों को अद्भुत लाभ मिलेगा। 
महासचिव विमल खण्डेलवाल ने बताया कि शरद पूर्णिमा के दिन चंद्रमा एवम पृथ्वी की दूरी न्यूनतम होती है, फलस्वरूप चंद्रमा की 16 कलाओं से निकलने वाली  अद्भुत प्रभावशाली किरणें  सम्पूर्ण सृष्टि पर एक स्कारात्मक प्रभाव डालती हैं। यह दवाई वर्ष में एक बार ही खिलाई जाती है। वैद्यनाथ से  वैद्य आशीष मिश्रा ने बताया कि यह महाऔषधि शरद पूर्णिमा की चांदनी रात से प्रकाशित खीर में मिला कर दी जाती है। इस महाऔषधि को 5 वर्ष तक सेवन करना चाहिए। रोगी को यह *महाऔषधि प्रातः काल मे बिना कुछ खाये सेवन करवाया जाता है।अध्यक्ष मधुसुदन माटोलिया ने बताया कि इस महाऔषधि के पश्चात गरिष्ठ भोजन, मांस, मछली, तला-भुना, मिर्च, नशीले पदार्थ, सिगरेट, बीड़ी, पान-तंबाकू आदि का काम से कम एक सप्ताह तक सेवन निषेध है। यह महाऔषधि पहले से चल रही अंग्रेजी, आयुर्वेदिक या होमियोपैथिक दवाओं के साथ भी सेवन की जा सकती है।
अध्यक्ष प्रदीप महापात्रा ने बताया कि यह महाऔषधि 25 अक्टूबर को (प्रातः 4 बजे से 6.30 बजे (सूर्योदय से पहले) तक ही सेवन करने पर अद्भुत, अपेक्षीय, अकल्पनीय* लाभ देती है। अतः रोगी आने से पहले कुल्ला-मंजन करके तथा दैनिक कार्य से निवृत हो कर ही इस महाऔषधि का सेवन करना चाहिए। यह फरीदाबाद में माता वैष्णव देवी मंदिर, श्री सालासर बालाजी एवं खाटू श्याम मंदिर कैली धाम बल्लभगढ़ पर सुबह 4 से साढे छह बजे तक वितरित की जाएगी।शरद पूर्णिमा के दिन 25 अक्टूबर को यह महाऔषधि स्माइल कैंपेन संस्था फरीदाबाद एवं श्री खाण्डल विप्र सभा रजि फरीदाबाद के माध्यम से   निःशुल्क वितरित की जाएगी  जिस से ज्याद से ज्याद लोगो को लाभ मिल सके |




loading...
SHARE THIS

0 comments: