Saturday, July 14, 2018

जांच में मिली सैंपलों में भिन्नता, कैंट आरओ कम्पनी पर मुकदमा करेगा व्यापारी


Variety in samples found in investigations, Cantor will sued company

फरीदाबाद(abtaknews.com) :  बड़ी कंपनियां कैसे छोटे कारोबारियों को परेशान करने से नहीं चूकतीं इसका ताजा उदाहरण है एक्वा एंटरप्राइजेज और कैंट आर ओ । कैंट आर ओ की शिकायत पर 9 दिसंबर 2017 को पुलिस थाना कोतवाली फरीदाबाद ने शहर में चल रही एक्वा एंटरप्राइजेज की दो दुकानों पर छापा मारा और उनके यहां से वॉटर प्यूरिफायर के 180 कैबिनेट जब्त कर लिए। इस मामले में पुलिस ने न तो मौके पर जब्त किए गए माल की कोई रसीद फर्म के मालिक महेंद्र सिंह को दी और न ही  कैबिनेट खरीद के बिलों और अदा किए गए टैक्स पर कोई गौर किया।  महेंद्र सिंह ने पुलिस को  कागजात दिखाये तो तत्कालीन आई ओ ने देखने से इनकार कर दिया था। दरअसल कैंट आरओ ने अपने रसूख के बल पर महेंद्र सिंह के खिलाफ यह बेबुनियाद आरोप लगाया था और इस आरोप की पुष्टि के लिए लगातार कैंट द्वारा हायर की गई एक कंपनी के माध्यम से दबाव बनाने की कोशिश कर रही थी। इस संबंध में श्री सिंह ने अपने तमाम कागजात और कॉपी राइट एक्ट जांच अधिकारियों को उपलब्ध कराया। जांच अधिकािरयों की समझ में आया कि  मामला गलत हो गया है तो कैंट के कारिंदों को संतुष्ट करने के उद्देश्य से मामले को लटकाने के तरीके ढ़ूंढे जाने लगे। मामला बिना दर्ज किए डिस्ट्रिक्ट अटॉर्नी की कानूनी राय के लिए चंडीगढ़ भेज दिया गया। वहां से सलाह दी गई कि दोनों सैंपल लेकर लैब टैस्ट कराया जाना चाहिए। पुलिस ने उठाकर फॉरेंसिक जांच के लिए  दोनों सैंपल मधुबन भेज दिए। मधुबन से रिपोर्ट आई कि दोनों सैंपल्स में काफी फर्क है। इस रिपोर्ट के बाद अब महेंद्र सिंह को थाना कोतवाली पुलिस ने  11 जुलाई, 2018 को उनका सामान वापस कर दिया है और यह मामला बंद। लेकिन श्री सिंह इस जांच प्रक्रिया से खासे आहत हैं। उनका कहना है कि पिछले 8 महीने से वह लगातार परेशान हो रहे हैं। पूंजी फंसी पड़ी रही। छोटे व्यवसायी को तो इसी से काफी परेशानी हो जाती है।  श्री सिंह बताते हैं कि वह पहले कैंट आरओ कंपनी के ऑथराइज्ड डीलर थे लेकिन कंपनी के गैर पेशेवराना रवैये के कारण उन्होंने अपने ही आर ओ प्लांट बेचने शुरू किए। जिस से कैंट कपनी के कारोबार पर काफी  नकारात्मक असर पड़ा था। इसका बदला लेने के लिए कैंट ने पुलिस को मोहरा बनाया। अपने वकीलों से मश्वरा कर हम भी कैंट के खिलाफ मुकदमा करेंगे। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: