Saturday, July 28, 2018

'कृति रूप संघ दर्शन' विमोचन पर बोले अजय कुमार भारतीय चिंतन 'सर्वे भवन्तु सुखिन' ही संघ का चिंतन


 

फरीदाबाद (abtaknews.com) 28 जुलाई ,2018 ; सन 1925 में अपनी स्थापना से लेकर आज तक अनेक प्रकार की आलोचनाओं को झेलते हुए भी राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की समाज में स्वीकार्यता निरंतर क्यों बढ़ रही है, इस प्रश्न का उत्तर जानने के लिए समाज के प्रत्येक जागरूक नागरिक को 'कृति रूप संघ दर्शन' पुस्तक अवश्य पढ़नी चाहिए | उक्त विचार आज फरीदाबाद में सेक्टर 15 स्थित प्रेरणा धाम में पुस्तक श्रंखला 'कृति रूप संघ दर्शन' के विमोचन कार्यक्रम के अवसर पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के उत्तर क्षेत्रीय बौद्धिक प्रमुख श्री अजय कुमार ने व्यक्त किये | 
Ajay Kumar Bharti Chintan 'Survey Bhavantu Sukhin' is a contemplation of the Sangh of 'Sangh Darshan' on the release.

6 भागों में विभाजित 'कृति रूप संघ दर्शन' पुस्तक श्रंखला के बारे में जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि संघ का वास्तविक स्वरूप क्या है, संघ की स्थापना कब, क्यों व कैसे हुई, संघ किन किन परिस्थितियों को लांघते हुए वर्तमान स्थिति में पहुंचा है और किन किन परिस्थितियों में कार्य कर रहा है, संघ की सम्पूर्ण संगठनात्मक जानकारी, समाज जीवन के भिन्न भिन्न क्षेत्रों में संघ किस प्रकार और क्या क्या कार्य करता है, इन सभी प्रश्नों का उत्तर 'कृति रूप संघ दर्शन' में मिल जाएगा | संघ के अनेक आनुषांगिक संगठन जैसे सेवा भारती, विद्या भारती, संस्कार भारती, क्रीड़ा भारती, विश्व हिन्दू परिषद्, वनवासी कल्याण आश्रम, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद्, भारतीय मजदूर संघ आदि अपने अपने क्षेत्रों में आज कीर्तिमान स्थापित कर रहे हैं तो यह संघ की प्रेरणा व कार्य पद्धति का ही परिणाम है | दैनंदिन शाखा एवं अन्यान्य आनुषांगिक संगठनों के माध्यम से भारत की सनातन शाश्वत परम्पराओं को आगे बढ़ाते हुए समरस समाज का निर्माण करना तथा भारत के साथ आत्मीय भाव रखने वाले समाज को संगठित कर भारत राष्ट्र को सब प्रकार से समृद्ध एवं मजबूत बनाना ही संघ का प्रमुख उद्देश्य है |  

कार्यक्रम की अध्यक्षता फाउंडेशन अगेंस्ट थैलीसीमिया के अध्यक्ष श्री रविंदर डुडेजा ने की | दीप प्रज्ज्वलन के साथ कार्यक्रम का शुभारम्भ एवं कल्याण मन्त्र के साथ कार्यक्रम सम्पन्न हुआ | मंच संचालन संघ के विभाग संपर्क प्रमुख दीपक अग्रवाल जी ने किया | संघ के विभाग संघचालक डॉ अरविन्द सूद जी धन्यवाद प्रस्ताव प्रस्तुत किया | इस अवसर पर क्षेत्रीय संपर्क प्रमुख श्रीकृष्ण सिंघल जी, फरी. पश्चिम महानगर संघचालक संजय अरोड़ा जी, फरी. पूर्वी महानगर संघचालक जयकिशन जी,  प्रान्त सह संपर्क प्रमुख श्री गंगाशंकर मिश्र,  महानगर सेवा प्रमुख रविकांत जी, महानगर सह संपर्क प्रमुख दीपक ठुकराल जी, विभाग कुटुंब प्रबोधन प्रमुख सुभाष त्यागी जी, महानगर प्रचार प्रमुख जयपाल सिंह जी, विभाग पत्रकार संपर्क प्रमुख राजेंद्र गोयल आदि सहित शहर के अनेक गणमान्य नागरिक उपस्थित थे | 

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages