Breaking

Thursday, June 28, 2018

बिजली निगम के कुछ अड़ियल अधिकारी प्रदेश सरकार की छवि को कर रहे हैं धूमिल


फरीदाबाद 28जून,2018(abtaknews.com )बिजली निगम सेक्टर-23 फरीदाबाद के सर्कल कान्फ्रेंस हाल में यूनियन कर्मचारियों द्वारा बैठक की गई जिसमें एचएसईबी वर्करज यूनियन सम्बंधित हरियाणा कर्मचारी महासंघ व दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम के निदेशक एसके बंसल के बीच 26 जून 2018 को देर शाम तक चली बैठक में हिसार की सातरोड सबडिवीजन में हुए विवाद को लेकर बिजली कर्मचारी यूनियन प्रतिनिधियों के साथ चली वार्ता विफल रही, बिजली कर्मचारी यूनियन के प्रान्तीय प्रधान कंवरसिंह यादव के नेतृत्व में बिजली निगम निदेशक के बुलावे पर 26 जून 2018 वार्ता में पहुँचे प्रान्तीय महासचिव बालकुमार शर्मा, मुख्यसंगठनकर्ता अशोक शर्मा, वरिष्ठ उपप्रधान राजबीर रोहिला, प्रेस सचिव विजयपाल जाखड़, लेखनिरिक्षक राजकुमार सांगवान, उपमहासचिव जसवन्त सिंह व महावीर पहलवान आदि कर्मचारी नेता इस वार्ता समिति में शामिल हुए, वार्ता बैठक के दौरान कर्मचारी नेताओं ने यूनियन के पदाधिकारियों के निलम्बन को गलत ठहराते हुए निर्दोष बताया व हिसार सातरोड उपमंडल कार्यालय के एसडीओ संजय सांगवान व हिसार डिवीजन नम्बर दो के कार्यकारी अभियन्ता बिजेन्द्र लाम्बा दवारा निगम प्रबन्धन को गुमराह करने तथा अपने पद का दुरुपयोग करने का आरोप लगाते हुए पदाधिकारियों के निलम्बन को रद्द करने एवम् कर्मचारियों पर बनाये गये झूठे मुकद्दमों को वापिस लेने की बात कही व एचएसईबी वर्कर यूनियन माँग करती है कि दोषी अधिकारियों को निलम्बन करके प्रदेश के किसी भी एचसीएस अधिकारी के माध्यम से मामले की स्पष्टता से निष्पक्ष जाँच कराई जाये व दोषी अधिकारियों को निलम्बित कर हिसार जोन से बाहर पोस्ट किया जाए ताकि निष्पक्ष जाँच प्रभावित ना हो सके जिस पर निगम निदेशक बंसल ने अधिकारियों पर कार्यवाही करने में अपनी असमर्थता जताई । उक्त घटनाक्रम के बाद यूनियन के पदाधिकारियों ने आपात बैठक बुलाकर आन्दोलन को और तेज करने की रणनीति तैयार की व इस आन्दोलन को सफल बनाने के लिये प्रदेश भर में जिले स्तर पर कमेटियाँ गठित की गई, जिसके बाद हरियाणा स्टेट इलेक्ट्रिसिटी बोर्ड वर्कर यूनियन ने सर्कल फरीदाबाद के कर्मचारीयों की आपात बैठक की । इस बैठक की अध्यक्षता कर रहे कर्मचारियों को सम्बोधित करते हुए सर्कल सचिव सन्तराम लाम्बा व टीएस सर्कल सचिव श्रीचन्द धारीवाल ने आगामी आन्दोलन की घोषणा करते हुए बताया कि प्रदेश में बिजली निगम के ऐसे अधिकारियों के अड़ियल रवैये से प्रदेश सरकार की स्वच्छ छवि धूमिल तो हो ही रही है साथ मे निगम के ऐसे अधिकारी अपने मनमाने व्यहवहार के चलते कर्मचारियों को भी प्रताड़ित करने कोई कोर कसर नही छोड़ रहे जिससे आमवर्ग के साथ साथ मेहनतकस कर्मचारी वर्ग भी दुखी है । जिसके चलते 29 जून 2018 से दक्षिण हरियाणा बिजली निगम के अधीन आने वाले सभी मंडल कार्यालय, उपमंडल कार्यालय व सर्कल कार्यालयों पर कार्य का बहिष्कार करते हुए रोष प्रदर्शन करेंगे, इसके बावजूद निगम प्रबन्धन की हठधर्मिता जारी रहती है तो आगामी चार जुलाई 2018 से पूरे उत्तर हरियाणा बिजली वितरण निगम में भी कार्य का बहिष्कार कर सभी कार्यालयों पर रोष प्रदर्शन किये जायेंगे जिससे उत्पन्न होने वाली किसी भी प्रकार की उद्योगिक अशान्ति की जिम्मेदारी स्वयं प्रदेश सरकार, निगम मैनेजमेंट व बिजली निगम प्रशासन की होगी । इस बैठक में मौजूद सर्कल सचिव लाम्बा सहित ओल्ड व ग्रेटर फरीदाबाद के प्रधान लेखराज चौधरी सचिव जयभगवान आंतिल, बल्लभगढ़ के प्रधान कर्मवीर यादव सचिव मदन गोपाल शर्मा व एनआईटी के प्रधान बलबीर कटारिया सचिव बृजपाल तँवर संग शेरसिंह, मुकेश शर्मा, राजबीर, ईश्वर, ओमप्रकाश, विनोद शर्मा, राजेश, मौजेलाल, वेद प्रकाश, सत्यप्रकाश व समस्त सबयूनिट कार्यकारिणी के बिजली वर्कर यूनियन के पदाधिकारी व कर्मचारी मौजूद रहे । 

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages