Saturday, April 28, 2018

साइकिल के दाह संस्कार नाटक के साथ हुआ उत्सव का समापन

The celebration of the ceremony with the cremation drama of the bicycle concludes
फरीदाबाद-27 अप्रैल(abtaknews.com)हरियाणा कला परिषद गुरुग्राम मंडल एवम एलुमिनी एसोसिएशन जवाहर नवोदय विद्यालय व बृज नट मंडली के सयुंक्त तत्वावधान में आयोजित तीन दिवसीय नवोदय नाट्य एवम सांस्कृतिक उत्सव के समापन अवसर पर जवाहर नवोदय विद्यालय के प्रांगण में विनोद शर्मा रंजन द्वारा लिखित नाटक साईकल का दाहसंस्कार का मंचन लावण्या फाउंडेशन द्वारा  किया गया। नाटक के निर्देशक श्री मदन डागर ने बताया कि हास्य व्यंगात्मक नाटक साईकल का दाह संस्कार देश में फैली विभिन्न कुरूतियों पर कटाक्ष करता है। जिसमे मुख्य रूप से देश में व्यापत भृष्टचार के दुष्परिणाम को दिखाया गया है। । नाटक के माध्य्म से ये संदेश दिया गया है कि अगर हम इन विभिन्न बुराइयों के प्रति जागरूक नही हुए तो हमारे देश की भी हालत इस साईकल जैसे होगी। नाटक में गुरदयाल, सोनल,सुनील कुमार,कुशल कुमार प्रिंस, चिराग अरोड़ा,गुलशन कुमार, परवीन कुमार मुख्य कलाकार थे।कार्यक्र्म में जितेंद्र चौधरी भा॰ज॰यु॰मो॰ जिला अध्यक्ष मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद थे उनके साथ डॉ बांके बिहारी जी मौजूद रहे व विक्रम सिंह अरुआ, अमर सिंह सरपंच ओर भूरा चेयरमैन तीनों दिन उत्सव में मौजूद रहे। 
नवोदय इतिहास में नया अध्याय जुड़ा :- प्राचार्य  
प्राचार्य जवाहर नवोदय विद्यालय मोठुका फऱीदाबाद श्री एस. के. त्यागी जी ने कहा की इस उत्सव से नवोदय इतिहास में नया अध्याय जुड़ गया है अब विद्यालय में प्रतिवर्ष इस उत्सव का आयोजन किया जाएगा। 
कला व संस्कृति के लिए जरूरी था ये उत्सव :- बृज मोहन भारद्वाज
बृज नट मंडली के अध्यक्ष व अलुम्नी एसोसियशन के सचिव बृज मोहन भारद्वाज ने बताया की नवोदय विद्यालय एक आवासीय विद्यालय है इसलिए ये आयोजन आयोजित करना एक चुनौती पूर्ण कार्य था लेकिन सब के सहयोग से यह सफलता पूर्वक आयोजित हुआ।


loading...
SHARE THIS

0 comments: