Breaking

Wednesday, August 30, 2017

सामाजिक मर्यादाओं को कुचलने वाले बलात्कारी बाबा ने बेटे जसमीत को बनवाया डेरा प्रमुख


new-dera-head-jasmit-sirsa
चंडीगढ़ (abtaknews.com ) 30 अगस्त,2017 ; डेरा प्रमुख बलात्कारी बाबा गुरमीत ने बार बार अपनी मनमर्जी चलाकर डेरे की परम्पराओं और सामाजिक मर्यादाओं को तोडा है। यौन कुंठित बाबा गुरमीत सिंह ने आध्यात्मिक स्थल को अपनी अय्यासी का अड्डा बना दिया था जिसका परिणाम उन्ही के डेरे को दो साध्वियों ने यौन शोषण मामले में उन्हें सजा दिलवाई और आज वह स्वयं जेल में 20 साल की सजा काट रहा है। डेरे का इतिहास रहा है कि कभी भी यहाँ वंशवाद नहीं चला लेकिन बलात्कारी बाबा गुरमीत सिंह ने अपने बेटे को डेरा प्रमुख बनाकर एकबार भीर से डेरे की परम्परा का गला घोठ दिया है। पूरी दुनिया में नफरत का पर्याय और अध्यात्म के इतियास को कलंकित करने वाले बलात्कारी गुरमीत राम रहीम को अपने कुकर्म पर शर्म नहीं इतना कुछ हो जाने के बावजूद अकूत संपत्ति पर अपनी कुदृष्टि रखने वाले गुरमीत सिंह ने अपने बेटे को डेरा प्रमुख बनवा दिया।  

क्या है सारा मामला ;  डेरा प्रमुख राम रहीम को बलात्कार मामले में 20 साल की सजा का ऐलान होते ही गुरमीत की 82 वर्षीय माँ नसीब कौर ने डेरा सच्चा सौदा की आपात बैठक बुलाकर गुरमीत के बेटे जसमीत को उत्तराधिकारी बनाने का फैसला कर दिया। इस बैठक में कुल 45 सदस्य शामिल हुए, जिन्होंने मिलकर यह फैसला लिया. नसीब कौर ने इस प्रक्रिया को जल्द से जल्द पूरा करने को कहा है. इसके अलावा नसीब कौर ने कमेटी को राम रहीम के रेप केस को सही तरीके से ना हैंडल करने पर भी फटकार लगाई।  

कौन है नया डेरा प्रमुख जसमीत ; डेरा का पूरा कारोबार काफी फैला हुआ है, इसलिए जसमीत के लिए भी इसको संभालना आसान नहीं होगा. सूत्रों की मानें, कानूनी तौर पर डेरा के साम्राज्य को लेकर कवायद भी शुरू हो गई है. बता दें कि इस रेस में जसमीत सिंह (33) के अलावा, राम रहीम की बेटी चरणप्रीत (36), अमरप्रीत (35) और दत्तक पुत्री हनीप्रीत (42) भी थे. वहीं हनीप्रीत को इस रेस में प्रबल दावेदार माना जा रहा था। 

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages