Saturday, October 13, 2018

राम मंदिर बनाने के मुद्दे को लेकर ‘‘हिन्दू स्वाभिमान यात्रा’’ पहुंची फरीदाबाद, हुआ स्वागत

फरीदाबाद 13 अक्टूबर(abtaknews.com)राम मंदिर बनाने के मुद्दे को लेकर आज अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष स्वामी चक्रपाणि महाराज के नेतृत्व में दिल्ली से ‘‘हिन्दू स्वाभिमान यात्रा’’ की शुरुआत की गयी। यह यात्रा बदरपुर बार्डर होते हुए प्रथम पड़ाव फरीदाबाद के नेशनल हाइवे पर मिलन वाटिका होटल के पास पहुंची। जहां हिन्दू महासभा हरियाणा के प्रदेश अध्यक्ष भुवनेश्वर शर्मा और सैंकड़ों कार्यकर्ताओं और समाजसेवियों ने उनका ज़ोरदार स्वागत किया। इस मौके पर सैंकड़ों गाडिय़ों का काफिला स्वामी चक्रपाणि महाराज की ‘‘हिन्दू स्वाभिमान यात्रा’’ के काफिले में शामिल रहा। यह यात्रा फरीदाबाद से निकलकर पलवल के बंचारी गांव से होते हुए, कोसी, वृंदावन, मथुरा, आगरा, इटावा से लखनऊ होते हुए लखनऊ से 14 अक्टूबर को अयोध्या में श्रीराम मंदिर के लिए प्रस्थान करेंगे। जहां श्रीराम मंदिर को लेकर एक बड़ी महासभा का आयोजन किया जाएगा। इस मौके पर विधायक नागेंद्र भड़ाना, बल्लभगढ़ विधायक के भाई टीपरचंद शर्मा, सुरेंदर शर्मा बबली, अनिता शर्मा, प्रदेश प्रवक्ता उमेश कुंडू , प्रदेश संयोजक लोधी जगविजय वर्मा, लोधी समाज से लखन वर्मा, संजीव कुशवाहा, मनीष शर्मा, राजू बेदी, चित्रा शर्मा आदि समाजसेवी मौजूद रहे।
फरीदाबाद पहुंचे अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष स्वामी चक्रपाणि महाराज ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए बताया की जैसा कि सब लोग जानते है कि राम मंदिर को बनाने के मुद्दे के बारे में श्रीराम मंदिर का केस अखिल भारत हिन्दू महासभा के द्वारा सुप्रीम कोर्ट में लड़ा जा रहा है जिसके लिए आज हरियाणा की धरती फरीदाबाद से वह  ‘‘हिन्दू स्वाभिमान यात्रा’’ की शुरुआत कर रहे हैं क्योंकि श्रीराम मंदिर मुद्दे को लेकर फरीदाबाद की टीम लम्बे समय से काफी अच्छा काम कर रही है जिसका नेतृत्व हरियाणा के प्रदेश अध्यक्ष भुवनेश्वर शर्मा कर रहे है, वह उनका और सभी लोगों का इस यात्रा में शामिल होने पर धन्यवाद करते है। उन्होंने बताया की हरियाणा से शुरू होकर यह यात्रा उत्तर प्रदेश के लखनऊ से होते हुए आयोध्या पहुंचेंगी, जहां सबसे पहले शिलापूजन किया जाएगा। जिसमें बाबर के वंशज भी शिरकत करेंगे और शिलापूजन भी वह करवाएंगे। श्रीराम मंदिर ज़रूर बनेगा क्योंकि श्रीराम मंदिर बनवाने के लिए हिन्दू ही नहीं मुस्लिम भाई भी सहयोग कर रहे है। इसलिए वह सरकार से मांग करते है की जल्द से जल्द कानून बनाकर राम मंदिर को बनवाने का काम शुरू किया जाए। उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा की सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें राम मंदिर बनवाने के लिए यात्रा निकालने के लिए मना नहीं किया है और वह भी कोर्ट की इजाजत के बिना वहां कोई निर्माण करने के लिए नहीं जा रहे हैं बल्कि वह वहां पर पूजन करके श्रीराम जी के दर्शन करेंगे और उसके बाद एक महासभा करके राम मंदिर को बनवाने के लिए नयी योजनाए तैयार करेंगे। उन्होंने कहा की मंदिर को बनवाने का उनका संकल्प है इसलिए यह यात्रा निकाली जा रही है और हजारो लोगो का समर्थन उन्हें मिल रहा है। अखिल भारत हिन्दू महासभा के हरियाणा प्रदेशाध्यक्ष भुवनेश्वर शर्मा ने बताया की ‘‘हिन्दू स्वाभिमान यात्रा’’ इससे पहले कर्नाटक और तमिलनाडू में निकाली थी। वहीं अब यह यात्रा दिल्ली से शुरू करके फरीदाबाद होते हुए आयोध्या पहुंचेगी जहां स्वामी चक्रपाणि महाराज के नेतृत्व में राम मंदिर को बनवाने के लिए सरकार और कोर्ट से अपील करेंगी।

loading...
SHARE THIS

0 comments: