Wednesday, October 3, 2018

एनएसयूआई ने विरोध स्वरूप मुख्यमंत्री और शिक्षामंत्री के नाम मण्डल आयुक्त को सौंपा ज्ञापन



फरीदाबाद(abtaknews.com )धरने के 59वे दिन एनएसयूआई फरीदाबाद ने सेक्टर 16 ए स्तिथ मण्डल आयुक्त कार्यालय पर प्रदर्शन करके मण्डल आयुक्त डॉक्टर जी. अनुपमा को प्रत्यक्ष चुनाव कराने के लिए हरियाणा के मुख्यमंत्री और शिक्षामंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा। प्रदर्शन का नेतृत्व एनएसयूआई हरियाणा के प्रदेश सचिव कृष्ण अत्री ने किया । इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने जमकर सरकार के खिलाफ नारेबाजी की।प्रदेश सचिव कृष्ण अत्री ने सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि हरियाणा की बीजेपी सरकार ने अपने चुनावी घोषणा पत्र में वायदा किया था कि सत्ता में आते ही छात्रसंघ चुनाव बहाल करेंगे लेकिन आज 4 साल बीत जाने के बाद चुनावी समय पर छात्रों को गुमराह करना चाहते है । अत्री ने बताया कि 1 अक्टूबर को हरियाणा के शिक्षा मंत्री श्री रामबिलास शर्मा की तरफ से अप्रत्यक्ष चुनाव की बहाली को लेकर ब्यान जारी हुआ है लेकिन उसमें ना तो चुनावी तारीख की घोषणा की गई है और ना ही कॉलेजो की लिस्ट जारी की है जहाँ पर चुनाव होने है।उन्होंने सिर्फ बताया है कि 18 यूनिवर्सिटी और 725 कॉलेजों में चुनाव होने है ।

कृष्ण अत्री ने सरकार पर पक्षपात का आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार को अप्रत्यक्ष चुनाव कराने में डर लग रहा है। चुनावी प्रक्रिया के बारे में सिर्फ एबीवीपी के कार्यकर्ताओं को ही बताया गया है और एबीवीपी के छात्र उसी प्रकार से तैयारियो में लगे हुए है। अत्री ने आरोप लगाया कि ना तो बीजेपी सरकार ने बताया है कि 4 पदों पर चुनाव होंगे या सिर्फ अध्यक्ष पद पर चुनाव करवाये जायेंगे।
उन्होंने कहा कि हरियाणा की भाजपा सरकार के इस डरपोक रवैये का हम डटकर मुकबला करेंगे और सरकार से माँग करेंगे कि चुनाव प्रत्यक्ष रूप से करवाया  जाए ताकि आम छात्र को वोट डालने का मौका मिले है और राजनीति में आम परिवार के बच्चों को आगे बढ़ने का मौका मिले।इस मौके पर नेहरू कॉलेज उपाध्यक्ष अभिषेक वत्स, छात्र नेता विकास फागना, आरिफ खान, मोहित भारद्वाज, गगन शर्मा, परवेज खान, अक्की पंडित, नवीन चौधरी, अंकित गौड़, सूरज वर्मा, आकाश झा, अंकित वर्मा, दिनेश कटारिया, गुलशन कौशिक, रोहित चौहान, पवन हुड्डा, प्रवेश ठाकुर, महेश चौहान, अजय, दीपक शर्मा, सोनू सैनी, लोकेश जाखड़, गौरव ठाकुर एवं सैंकड़ो छात्र मौजूद थे।

loading...
SHARE THIS

0 comments: