Wednesday, October 3, 2018

धर्म व व्यापारी विरोधी हैं कृष्णपाल गुर्जर व सीमा त्रिखा: जगदीश भाटिया


फरीदाबाद(abtaknews.com)व्यापार मंडल फरीदाबाद के प्रधान जगदीश भाटिया ने केंद्रीय मंत्री कृष्णपाल गुर्जर व बडख़ल क्षेत्र की विधायक सीमा त्रिखा पर धर्म व व्यापारी विरोधी होने का आरोप लगाया है। श्री भाटिया ने प्रेस को जारी बयान में कहा है कि कृष्णपाल गुर्जर व सीमा त्रिखा ने पहले लोगों की धार्मिक आस्था के प्रतीक दशहरा पर्व को खराब किया और अब वह व्यापारियों का दीवाली त्यौहार खराब करने पर तुले हैं। व्यापार मंडल के प्रधान जगदीश भाटिया ने कहा है कि विधायक सीमा त्रिखा व केंद्रीय मंत्री के आदेश पर हार्डवेयर चौक से लेकर बीके चौक तक सडक़ का निर्माण किया शुरू किया जा रहा है। इस सडक़ के लिए गड्डे खोदने शुरू कर दिए गए हैं।
 हैरत की बात है कि सडक़ का निर्माण ऐन दीवाली के मौके पर करवाया जा रहा है। इस सडक़  के निर्माण की वजह से  1 नंबर मार्केट के व्यापारियों की दीवाली काली हो जाएगी। जगह जगह सडक़ को खोदा जा रहा है। सडक़ को बनाने के लिए नियम अनुसार पहले बिजली के खंबे व ट्रांसफार्मर हटाए जाने का काम पूरा होना चाहिए। लेकिन ठेकेदार ने यह काम पूरा करवाए बिना सडक़ की खुदाई शुरू करवा दी है। सडक़ पर गड्डे होने से ग्राहक दीवाली की खरीददारी करने के लिए मार्केट में नहीं पहुंच पाएंगे। 
अव्यवस्था होने से ग्राहक इस मार्केट में आने की बजाए कहीं और चले जाएंगे। इससे 1 नंबर बाजार की दीवाली काली हो जाएगी और व्यापारियों को कई सौ करोड़ रुपए का नुक्सान झेलना पड़ेगा। व्यापारियों ने दशहरा व दीवाली पर्व के मद्देनजर करोड़ों रुपए का माल बुक कर लिया है। भाजपा के केंद्रीय मंत्री गुर्जर व विधायक सीमा त्रिखा को इसकी भली भांति जानकारी है, इसलिए वह जानबूझकर ऐसे मौके पर सडक़ बनवाने का ड्रामा कर रहे हैं। 
श्री भाटिया ने कहा कि पिछले साल दीवाली पर ही विधायक सीमा त्रिखा ने पांच नंबर मार्केट में सडक़ का काम शुरू करवाया था। वहां भी व्यापारियों को दीवाली पर बहुत अधिक नुक्सान सहना पड़ा था और इस बार यह काम एक नंबर मार्केट के व्यापारियों के साथ किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार के ये दोनों मंत्री व विधायक जनविरोधी हैं। इससे पहले इनके आदेश पर दशहरा पर्व को खराब किया जा चुका है। इनकी इन्हीं हरकतों की वजह से क्षेत्र की जनता इस बार इन दोनों को धूल चटाने के लिए तैयार बैठी है। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: