Saturday, September 1, 2018

पृथला में होने वाले विकास कार्याे की गुणवत्ता पर पैनी नजर रखें सरपंच : टेकचंद शर्मा

फरीदाबाद 1 सिंतबर(abtaknews.com)पृथला विधानसभा क्षेत्र के विधायक पं. टेकचंद शर्मा ने कहा है कि सरपंच गांवों में विकास कराने का माध्यम होते है और सरपंचों का दायित्व बनता है कि वह गांवों व क्षेत्र में चल रहे विकास कार्याे की गुणवत्ता पर पैनी नजर रखे और कहीं भी कोई गड़बड़ी होने पर इसकी सूचना उन्हें दें ताकि ऐसे ठेकेदारों के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाए, जो गुणवत्ता के मानकों पर खरा नहीं उतर रहे है। श्री शर्मा शनिवार को सीकरी स्थित अपने कार्यालय पर क्षेत्र के विभिन्न गांवों से आए सरपंचों व पंचों की बैठक को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहरलाल के आर्शीवाद से पृथला क्षेत्र में चहुंओर विकास की बयार बह रही है। सभी गांवों में समान रुप से विकास कार्य किए जा रहे है और लोगों को बिजली, पानी व सडक़ें जैसे मौलिक सुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिए हरसंभव प्रयास चल रहे है वहीं क्षेत्र में शिक्षा के कई संस्थान ऐसे शुरु होने वाले है, जिससे इस क्षेत्र का गौरव बढ़ेगा। श्री शर्मा ने सरपंचों से क्षेत्र में हो रहे विकास पर राय-मशविरा किया और उनसे विचार विमर्श किया। उन्होंने कहा कि 3.5 करोड़ की राशि से क्षेत्र के गांवों के श्मशान घाटों की कायाकल्प करके उन्हें बेहतर निाया जाएगा वहीं दलित बाहुल्य गांवों व अन्य गांवों में दलित चौपालों व सामुदायिक भवनों के निर्माण हेतू 2.5 करोड की राशि तथा गांवों के लिए 1 करोड़ व अन्य विकास कार्यो हेतू 8 करोड की राशि मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने पृथला विधानसभा क्षेत्र हेतू आबंटित की है जिसका क्षेत्र में बिना किसी भेदभाव के समान विकास किया जाएगा। श्री शर्मा ने सरपंचों को सरकार की जनकल्याणकारी एवं विकासशील योजनाओं से अवगत करवाते हुए उनसे समग्र विकास हेतू प्रस्ताव लिए। विधायक ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि सरकार की भावना अनुरुप सभी कार्य पारदर्शी तरीके से होने चाहिए तथा कार्य की गुणवत्ता व मात्रा का पूरा ख्याल रखा जाना चाहिए। इस अवसर पर खण्ड विकास एंव पंचायत अधिकारी पूजा शर्मा, उपमण्डल अधिकारी प्रदीप शर्मा, तेजपाल शर्मा, कुलदीप शर्मा, युवा नेता दिनेश शर्मा, दोनो खण्ड के समस्त ग्राम सचिव, समस्त कनिष्क अभियंता तथा क्षेत्र के सैंकडों सरपंच व मौजिज सरदारी मौजूद थी।

loading...
SHARE THIS

0 comments: