Sunday, September 9, 2018

सीमा पर घायल होने वाले सैंनिकों के लिये फरीदाबाद में रक्तदान शिविर, 500 यूनिट एकत्रित


फरीदाबाद-09 सितंबर(abtaknews.com)बार्डर पर जख्मी होने वाले भारतीय सैनिकों के लिये फरीदाबाद में पहली बार बालाजी ट्रस्ट ने रक्तदान शिविर का आयोजन किया, जिसमें मुख्य अतिथियों के रूप में पूर्व सैनिकों को बुलाकर सम्मनित किया गया, रक्तदान शिविर में भारतीय सैनिकों को अपना खून देने के लिये युवाओं ने अपने बाहे फैला दी. इस शिविर में करीब 5 सौ यूनिट रक्त सैनिको के लिए डोनेट किया गया। 
लम्बी-लम्बी लाइनों में लगे दिखाई दे रहे यह युवा किसी रिएल्टी शो के लिए ऑडिशन देने के लिए नहीं आये है बल्कि यह युवा आज सीमा पर दिन रात खडे होकर देश की रक्षा करने वाले सैनिको के लिए रक्तदान करने आये है। युवाओ में इतना उत्साह था की उन्होंने घंटो लाइने में लगकर रक्तदान के लिए अपनी बारी का इंतज़ार किया। यह रक्तदान शिविर जवाहर कालोनी में पहली बार बाला जी चैरिटेबल ट्रस्ट ने सैनिको के लिए आयोजित किया था। ख़ास बात यह रही की सैनिकों को रक्त देने की खबर सुनते ही सैंकडों देशभक्त युवाओं की भीड रक्तदान शिविर की ओर दौड पडी और सैकडों युवाओं ने करीब 5 सौ यूनिट रक्त सैनिकों के लिये एकत्रित कर दिया। इस रक्तदान शिविर में आयोजकों ने मुख्यअतिथि के रूप में पूर्व सैनिकों को सम्मानित भी किया। शिविर में बच्चो ने भारतीय सैनिकों के बलिदान और वीरता को लेकर नाटक पेश किया जिससे देखकर सभी लोग भावुक हो गये।
रक्तदान शिविर में पहुंचे पूर्व सूबेदार फिरेचंद नागर ने बताया कि बालाजी ट्रस्ट का सैनिकों के लिये रक्त भेजना सराहनीय और अच्छा कदम है जिससे जवानों का होंसला बढेगा। उन्होंने बताया की मुंबई के ताज होटल में जब आतंकी हमला हुआ था तब उन्होंने अपने सैनिको के साथ आतंकियों का खात्मा किया था. उन्होंने बताया की जब कोई सैनिक घायल होता है तब रक्त की कीमत का पता चलता है की रक्त कितना कीमती है।     
रक्तदान शिविर में रक्तदान करने पहुंचे युवा आगाज़ संगठन के संयोजक जसवंत पवार, नरेंद्र चौधरी और पूनम ने गर्व महसूस करते हुए कहा की घंटो इंतज़ार करने के बाद आखिरकार उन्हें  सैनिको के लिए खून दान करने का अवसर प्राप्त हुआ है जिसके चलते उन्हें अपार ख़ुशी मिली है।  



loading...
SHARE THIS

0 comments: