Tuesday, August 7, 2018

रोडवेज के निजीकरण के खिलाफ कर्मचारियों ने किया हरियाणा में चक्का जाम,यात्री रहे परेशान

The workers against the privatization of the roadways have made a flyover in Haryana, and the passengers are troubled all day long

फरीदाबाद-07अगस्त(abtaknews.com)हरियाणा रोडवेज संयुक्त संघर्ष समिति द्वारा की गई हड़ताल से एक भी बस सड़क पर नहीं आई जिससे फरीदाबाद से बाहर जाने वालों को निजी वाहनों में महंगा सफर करना पड़ा जिससे आर्थिक नुकसान भी लोगों को हुआ। रोडवेज कर्मचारी नेता सोमवार की पूरी रात बस अड्डा पर ही रुके रहे हरियाणा सरकार द्वारा निजी कंपनियों से 700 बसें हायर करना और बिना किसी पॉलिसी के प्राइवेट बसों को प्रॉफिट वाले रूटों पर चलाने के साथ विनाशकारी नीतियों के खिलाफ कर्मचारियों ने आज हरियाणा रोडवेज बसों का चक्का जाम किया है। एक भी बस सड़क पर नहीं चलने दी। बिना बस के यात्रियों को मजबूरी में निजी वाहन से अपना सफर करना पड़ा। 

जिले के बल्लभगढ़ स्थित राजा नाहर सिंह बस स्टैंड पर रोडवेज कर्मचारियों ने अपनी मांगों के समर्थन में धरना प्रदर्शन किया। कर्मचारियों ने सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की कर्मचारी नेताओं ने सुबह साढे 3 बजे से चलने वाली बल्लबगढ़ से चंडीगढ़  रूट  की बस को डिपो से बाहर नही निकलने दिया है। गेट के आगे धरने पर बैठे हुए कर्मचारी नेताओं का कहना है कि सरकार को बार बार बताने के बाद भी जब सरकार कर्मचारियों की बात नहीं सुनी तभी उन्होंने यह कदम उठाया है। कर्मचारियों का कहना है कि सरकार इन विनाशकारी नीतियों और नई पेंशन स्कीम को भी रद्द करें कर्मचारियों की मांग है कि मोटर व्हीकल एक्ट बिल 2017 को वापस करवाएं कच्चे कर्मचारियों को समान काम के समान वेतन, कर्मचारियों के अधिकारों की  मांग को पूरा करें कर्मचारी अपनी दर्जनों मांगों को लेकर आज चक्का जाम किया हैं। हड़ताली कर्मचारियों का कहना है कि सरकार को चेताने के लिए कर्मचारी हड़ताल पर है यह राज्यव्यापी हड़ताल है जिसमें कर्मचारी बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रहे। इस दौरान  बस अड्डा पर भारी पुलिस बल भी तैनात रहा। सरकार एवं प्रशासन द्वारा हड़ताल को विफल करने की पूरी योजना थी लेकिन कर्मचारियों ने चक्का जाम कर सरकार को यह बता दिया है कि  कर्मचारी अपनी मांगों को लेकर मजबूती से एकजुटता के साथ खड़ा है। रोडवेज बसों की हड़ताल के चलते बस यात्रियों को काफी परेशानी उठानी पड़ी। बस हड़ताल के चलते प्राईवेट वाहन चालकों की चांदी रही। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: