Thursday, August 23, 2018

अंतरराष्ट्रीय रौनियार वैश्य महासम्मेलन की तृतीय बैठक में लिए गए अहम फैसले

Important decisions taken at the third meeting of the International Rooniar Vaishya Mahasammelan
फरीदाबाद(abtaknews.com)23 अगस्त; सामाजिक धार्मिक कार्यों की महत्वपूर्ण संस्था अंतरराष्ट्रीय रौनियार वैश्य महासम्मेलन की  तृतीय बैठक में समाज से  वंचित लोगों को बेहतर विकास तथा जनहित के कार्यों के प्रति लोगों को जागरूक करना और रौनियार समाज के संगठन को विस्तार करने का महत्वपूर्ण फैसला लिया गया।  आईआरवीएफ का आरंभ भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई को श्रद्धा सुमन अर्पित कर उन्हें नम आंखों से श्रद्धांजलि दी गई।  वही समाज और इस संस्था के कार्यकारी  अध्यक्ष प्रदीप गुप्ता के पिता की  मृत्यु पर संवेदना प्रकट कर श्रद्धांजलि अर्पित की गई।  कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे सुबोध गुप्ता ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि रौनियार समाज को सामाजिक पार्टियों ने वोट बैंक का हथियार बना लिया है।  जबकि हमारे वंशज महाराजा हेमूa महाराजा हेमचंद्र भारत के आखिरी हिंदू सम्राट के रूप में जाने जाते रहे हैं।  उन्होंने कहा है कि महाराजा हेमू द्वारा साम्राज्य की स्थापना की गई अकबर सेना के द्वारा उनके जिन्हें हत्या 5 नवंबर को की गई थी जो इतिहास में दर्ज है। इसके अलावा लगातार 22 युद्ध जीतने वाले आखिरी हिंदू सम्राट को रौनियार समाज के कुल के हैं उनके नाम पर समाज को संगठित करने का काम आईआरवीएफ करेगा
आखिरी हिंदू सम्राट महाराजा हेमू का आगामी 5 नवंबर को अंतर्राष्ट्रीय बलिदान दिवस के तौर पर मनाने का अहम फैसला लिया गया है अंतर्राष्ट्रीय रौनियार वैश्य महासम्मेलन के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेश शंकर गुप्ता ने संस्था की तृतीय बैठक को संबोधित करते हुए कहा है कि संगठन के अनुसार  शत-प्रतिशत पालन होने के कारण समाज में कुछ ही सालों में संगठन के बैनर तले रौनियार समाज का पूरे भारत में संस्था के वरिष्ठ और जागरूक पदाधिकारियों के सहयोग की बदौलत एक मजबूत अंतर्राष्ट्रीय संगठन के रूप में स्थापित हो चुका है।  उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय रौनियार वैश्य समाज सम्मेलन से जुड़े समस्त पदाधिकारियों द्वारा की जा रही धर्मशाला की मांग को देखते हुए जल्द ही उनके प्रति दिल्ली सरकार और महत्वपूर्ण इकाइयों का संगठन द्वारा आवेदन पत्र देकर अवगत कराने की प्रक्रिया को जल्द का कार्य शुरू किया जाएगा। 
डिजिटल होगा आईआरवीएफ  
अंतर्राष्ट्रीय रौनियार वैश्य महासम्मेलन के IT सेल के प्रमुख प्रभारी प्रमोद गुप्ता ने जानकारी देते हुए कहा है कि सोशल मीडिया की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए संगठन की वेबसाइट की प्रक्रिया का कार्य अपने अंतिम चरण में है और जल्दी इसे डिजिटल रूप देकर संस्था और समाज को विकसित करने में सहयोग साबित होगा।एंबुलेंस मोबाइल वैन सेवा की जल्द होगी शुरुआत जिसकी घोषणा पिछले एक कार्यक्रम में संस्था के वरिष्ठ अधिकारी श्री अनिल कुमार गुप्ता ने की संस्था से जुड़े और सक्रिय कार्यकर्ताओं ने समाज में संगठन की भूमिका की तारीफ करते करते हुए कहा कि कहने नहीं करने में विश्वास रखने वाली आईआरवी एफ  एक समाज को एक मंच पर लाने और समाज को उनकी खोई हुई पहचान दिलवाने में प्रयासरत हैं। इन्हीं कार्यों से प्रेरित होकर निर्धन, गरीब, असहाय की सेवा के लिए मोबाइल मेडिकल वैन भेट करने की निर्णय लिया गया है।  धर्मशाला के निर्माण में कई लोगों ने सहयोग करने का दिया आश्वासन जिन्होंने जिसमें प्रमुख रुप से संस्था के कार्यकारी अध्यक्ष प्रदीप गुप्ता कार्यकारी अध्यक्ष देवेंद्र प्रसाद गुप्ता उपाध्यक्ष कृपाशंकर गुप्ता उपाध्यक्ष केदार प्रसाद उपाध्यक्ष प्रयाग प्रसाद गुप्ता संगठन मंत्री अनिल गुप्ता मंत्री अरविंद गुप्ता आदि उपस्थित कार्यकारिणी सदस्य गण अंतर्राष्ट्रीय रौनियार वैश्य महासम्मेलन सर्व संपन्न होने का प्रतिफल है की संस्था के तमाम पदाधिकारियों ने धर्मशाला के निर्माण के लिए अभिन्न सहयोग करने का आश्वासन दिया है धर्मशाला के निर्माण के बारे में संस्था के कार्यकारी कार्यकर्ता ने बताया की इसके निर्माण से रौनियार समाज को एक मंच पर एकत्रित करने तथा किसी भी तरह के सामाजिक धार्मिक आयोजन करने के लिए बेहतर प्लेटफार्म साबित होगा वही कार्यक्रम के दौरान संस्था के कई पदाधिकारियों को झारखंड के श्री किशोरी मोहन गुप्ता सुरेंद्र गुप्ता गुजरात के धर्मेंद्र गुप्ता उत्तर प्रदेश कुशीनगर के प्रतिनिधि गुडगांवा के मनोज गुप्ता यहां तक कि पंजाब जम्मू के श्री अनुज गुप्ता श्रीमती अनीता गुप्ता राजस्थान से श्री दिलीप गुप्ता को रौनियार समाज को संगठन का की जिम्मेदारी दी गई इस सभा की खास बात यह रही है कि सभी क्षेत्रों में समाज के बढ़ते दखल की सराहना की गई इस क्रम में लघु फिल्मकार संजय गुप्ता जिनके लघु फिल्म का नाम मास्टर साहब इसकी भी चर्चा हुई और सब लोगों ने उनके इस सामाजिक जागृति और शिक्षा के प्रति समर्पित फिल्म की पूरी पूरी प्रशंसा की और बताया गया कि हमारे समाज में अनगिनत रतन हैं जिन्हें मंच से जोड़ने की जरूरत है और उन लोगों के जीवन दर्शन को अपने समाज में बढ़ रहे युवा शक्ति को प्रेरित करने की जरूरत है सभा के समापन और धन्यवाद प्रस्ताव करतल ध्वनि से पारित की गई। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: